मीडिया को संविधान का चौथा स्तंभ माना जाता है, जो देश के काम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। मीडिया का काम मात्र खबरें दिखाना ही नहीं, बल्कि समाज के बदलाव के लिए पहला कदम उठाना भी होता है। देश की आजादी के संघर्ष में कई भारतीय पत्रकारों की अहम भूमिका रही है, आज भी कई पत्रकार अपने काम से देश को जागरूक कर रहे हैं। बॉलीवुड ने ऐसी कई फिल्में बनाई हैं जो मीडिया और पत्रकारों के काम पर प्रकाश डालती हैं। आइए जानते हैं कि आखिर कौन सी हैं वो फिल्में जो मीडिया इंडस्ट्री के बारे में बताती है।

पीपली लाइफ- 

peepli live

साल 2010 में आयी फिल्म ‘ पीपली लाइफ’ एक व्यंग्यात्मक कॉमेडी फिल्म है, जो मीडिया में होने वाली टीआरपी रेस के बारे में बात करता है। यह फिल्म महंगाई के दौर में परेशान किसानों पर आधारित है, जिसमें मीडिया इस मुद्दे को देश के लोगों तक पहुंचाना है। यह फिल्म भारत में हुई सत्य घटनाओं पर आधारित है, उस दौर में महंगाई के कारण कई किसानों ने आत्महत्या की थी। 

पेज थ्री-

page  

साल 2005 में आई फिल्म ‘पेज थ्री’ बॉलीवुड में होने वाले ग्लैमर और फैशन के बारे में बताती है। इस फिल्म को मधुर भंडारकर ने डायरेक्ट किया था, जिसमें कोंकणा सेन शर्मा लीड रोल में नजर आती हैं। फिल्म में कोंकणा एक जर्नलिस्ट होती हैं, जो बॉलीवुड में हो रही घटनाओं को कवर करती हैं। इस फिल्म में कोंकणा की एक्टिंग को बहुत पसंद किया गया। इस फिल्म में आपको मीडिया के काम के बारे में जानने का मौका मिलता है। 

नायक- 

nayak

यह फिल्म आप सभी ने जरूर देखी होगी। जिसमें पत्रकार शिवाजीराव चीफ मिनिस्टर का इंटरव्यू लेता है और बहस के दौरान उसे एक दिन का चीफ मिनिस्टर बनाया जाता है। जिसके बाद वो 1 दिन में देश का हीरो बन जाता है, लोग उसे ही चीफ मिनिस्टर बनाना चाहते हैं। इस फिल्म में पत्रकार और मीडिया को हीरो की तरह दिखाया गया है, जो हर हालत में सिस्टम के खिलाफ जा कर लोगों को जागरूक करती है।

इसे भी पढ़ें- जानें आखिर कौन सी बॉलीवुड फिल्में बताती हैं भारत पाकिस्तान बंटवारे की दर्दनाक कहानियां

रण-

rann 

यह फिल्म साल 2010 में रिलीज हुई थी, जिसमें राम गोपाल वर्मा ने डायरेक्ट किया था। जो मीडिया बड़ी-बड़ी मीडिया कंपनियों के बारे में बताती है। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन, रितेश देशमुख और परेश रावल जैसे बड़े एक्टर्स नजर आते हैं। फिल्म में गलत खबरों से होने वाले नुकसानों के बारे में दिखाया गया है। 

इसे भी पढ़ें - Year Ender: साल 2021 में ये रही हैं सबसे फ्लॉप फिल्में

धमाका-

dhamaka 

साल 2021 में कार्तिक आर्यन की फिल्म ‘धमाका’ लोगों दर्शकों के सामने आई। इस फिल्म में मीडिया में होने वाली टीआरपी रेस और चैनलों के कॉम्पिटिशन के बारे में बताया गया है। फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे एक स्टोरी किसी पत्रकार को स्टार तो कभी कोई एक स्टोरी ही उसे लोगों की नजरों से गिरा भी देती है। इस फिल्म को ऑडियंस का बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिला है। 

Recommended Video

नो वन किल जेसिका- 

no one kill jesica

साल 2011 में आई फिल्म 'नो वन किल जेसिका' भी मीडिया के पहलुओं को दिखाती है। आपको बता दें कि यह फिल्म जेसिका लाल केस की सत्य घटना पर आधारित है, जिसमें सिस्टम की कई खराबियों को कैमरे पर दिखाया गया है। 

इसके अलावा फिल्म में रानी मुखर्जी पत्रकार की भूमिका में नजर आती हैं। जो विकटिम को इंसाफ दिलाने में उसकी मदद करती हैं। फिल्म में विद्या बालन और रानी मुखर्जी दोनों की एक्टिंग को बहुत सराहा गया। 

तो यह था हमारा आज का आर्टिकल, आपको हमारा आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें। साथ ही ऐसी फिल्मी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

image credit-  imdb.com, unileverservice.com, blogspot.com, sacnilk.com and bollywoodhungama.com