अगर आपने 'कुछ-कुछ होता है' देखी है तो आपको याद होगा कि शाहरुख काजोल के साथ दोस्ती निभाते हैं। फिल्म में उन्हें रानी मुखर्जी से प्यार हो जाता है लेकिन जब काजोल उनकी जिंदगी से जाती हैं तो वह एक किस्म का खालीपन महसूस करते हैं और उनकी लाइफ फिर से कंप्लीट तभी होती है, जब काजोल उनकी लाइफ में फिर से एंट्री करती हैं। हालांकि इस फिल्म के आखिर में दोनों की शादी हो जाती है, लेकिन रियल लाइफ में आपकी दोस्ती प्यार में बदल जाए, यह जरूरी नहीं है। हां ये इतना जरूर कहा जा सकता है कि मेल फ्रेंड्स के साथ दोस्ती करने से आपको कई तरह के फायदे हो सकते हैं। आइए जानें इन फायदों के बारे में-

शेयरिंग होती है बेहतर

अगर महिलाओं के साथ आप बातें शेयर कर रही हैं तो वे कई बार आपको इग्नोर भी मार सकती हैं या फिर शायद आपकी बातों को उतना सीरियसली ना लें, लेकिन मेल फ्रेंड्स के साथ अगर आप अपनी प्रॉब्लम शेयर करती हैं तो वे आपको संजीदगी के साथ सुनते हैं। आपकी आधी प्रॉब्लम्स इसी से सॉल्व हो जाती हैं। आप जिन भी बातों को लेकर स्ट्रेस्ड फील करती हैं, उन्हें कह देने से आपके मन पर बोझ नहीं रह जाता, शेयर करने से आप उस पर नए पर्सपेक्टिव में सोच पाने में भी कामयाब होती हैं। 

male best friends inside

मिलता है नया नजरिया

पुरुषों का नजरिया महिलाओं से अलग होता है। महिलाएं मूलत: इमोशनल होती हैं, कई बार वे छोटी-छोटी चीजों पर बहुत ज्यादा सोचने की वजह से नेगेटिव थिकिंग में चली जाती हैं, जबकि पुरुष महिलाओं की तुलना में ज्यादा व्यावहारिक सोच रखते हैं। ऐसे में अगर आप कुछ चीजों से परेशान हैं तो आपको अपने मेल फ्रेंड्स से एक बार उस बारे में जरूर डिस्कस करना चाहिए। मुमकिन है कि वे आपको उससे जुड़ी ऐसी बातें बताएं जिनसे आप अवेयर ही ना हों। हो सकता है कि वे आपकी बात को पूरी तरह से खारिज कर दें और कह दें कि यह मायने ही नहीं रखता। पुरुषों का पर्सपेक्टिव आपकी समझ बढ़ाने के लिहाज से काफी मायने रखता है। 

male best friends inside

मेल फ्रेंड्स के साथ ज्यादा एंजॉय करती हैं

जहां महिलाएं बात-बात पर टेंशन करने लगती हैं, वहीं पुरुष अक्सर कूल रहते हैं। मौज-मस्ती और एंटरटेमेंट के मामले में अक्सर पुरुष महिलाओं से आगे निकल जाते हैं। ऐसे में अगर आप मेल फ्रेंड के साथ वक्त बिताती हैं तो आप भी ज्यादा एंजॉय करेंगीं। आउटिंग, लॉन्ग ड्राइव, ट्रेवलिंग में पुरुषों की काफी दिलचस्पी होती है। उनके साथ वक्त बिताते हुए आप सुकून का अहसास करेंगी और ज्यादा रिलैक्स करेंगी। 

मेल फ्रेंड्स से बेफिक्र होना सीखें

ज्यादातर लड़के मूल रूप से बिंदास होते हैं। वे अपने बारे में सबकुछ बता देते हैं। वे इस बात की परवाह नहीं करते कि लोग उनके बारे में क्या सोच रहे हैं। मेल फ्रेंड्स के साथ आप भी बेफिक्री के साथ रह सकती हैं और छोटी-छोटी बातों पर कॉन्शस नहीं होतीं। जिस तरह लड़के आपसे अपनी बातें शेयर करते हैं, उसी तरह आप भी बेधड़क होकर अपने बारे में सहज तरीके से बात कर पाती हैं। इससे आप कहीं ज्यादा कॉन्फिडेंट फील करती हैं। अगर आपके मेल फ्रेंड्स नहीं हैं तो इन फायदों को जानने के बाद आपको अपने कुछेक मेल फ्रेंड्स जरूर बनाने चाहिए। 

male best friends inside

साथ देते हैं मेल फ्रेंड्स

किसी भी तरह की प्रॉब्लम में फंसने पर महिलाएं घबराने लगती हैं कि उससे कैसे निपटेंगी। परेशानियां चाहें घर से जुड़ी हों या वर्कप्लेस से या फिर सोशल हों, मेल फ्रेंड्स से उनके लिए प्रैक्टिकल सॉल्युशन्स के बेहतर आइडिया मिल सकते हैं। चूंकि पुरुष महिलाओं की तुलना में उतना डरते या घबराते नहीं हैं, इसीलिए वे लॉजिकली बात करते हैं और अपनी तरफ से आगे बढ़कर मदद के लिए तैयार रहते हैं। 

Recommended Video