• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

महाभारत में कौन थीं दुर्योधन की पत्नी भानुमति, जिनकी कहानी से दुनिया है अनजान

अगर आप महाभारत की कथाओं के बारे में जानते हैं तो इससे जुड़े कुछ अनसुने किस्सों के बारे में भी जरूर जानें।   
author-profile
Published -26 Jul 2022, 16:30 ISTUpdated -26 Jul 2022, 16:51 IST
Next
Article
duryodhan wife  in mahabharat

जब भी महाभारत के पात्रों की बात आती है तब कुछ प्रमुख चेहरे ही सामने आते हैं। दरअसल अभी तक के सबसे बड़े युद्ध की पूरी कहानी कुछ महिलाओं के इर्द गिर्द ही घूमती है। चाहे वो द्रोपदी का चीर हरण हो या फिर कुंती के पांच पुत्रों की कहानी हो।

ऐसी कई प्रमुख कथाएं हैं जिनसे हम सभी वाकिफ हैं। लेकिन इसी बड़े युद्ध महाभारत के कुछ ऐसे पात्र भी हैं जिनकी कहानी से दुनिया वास्तव में अनजान ही है। एक ऐसी ही कहानी है दुर्योधन की पत्नी भानुमति की।

ये एक ऐसी महिला थी जो महाभारत के सबसे चर्चित पात्र दुर्योधन की पत्नी जरूर थीं लेकिन फिर भी शायद ही कोई इनके बारे में जानता हो। आइए आपको बताते हैं उस महिला के बारे में जिसकी महाभारत में एक मुख्य भूमिका थी। 

महाभारत की कहानी दुर्योधन के इर्द गिर्द घूमती है 

wife of duryodhan in mahabharat

जब भी बात महाभारत के युद्ध की आती है तब धृतराष्ट्र के पुत्र दुर्योधन का जिक्र सबसे पहले होता है। दरअसल इस युद्ध का कारण ही दुर्योधन को माना जाता है। महाभारत की कथा में इस बात का जिक्र किया गया है कि कैसे दुर्योधन ने द्रौपदी (कैसे हुई थी द्रौपदी की मौत)का चीर हरण करवाया और अपमानित पांडवों ने महाभारत के युद्ध की घोषणा की।

वहीं महाभारत ग्रंथ में दुर्योधन की पत्नी का भी जिक्र मिलता है, लेकिन इसके पन्नों में ये नाम लगभग छिप सा जाता है। जी हां, दुर्योधन की पत्नी का नाम भानुमति था और वो कई गुणों से संपन्न भी थीं। लेकिन कुछ कारणों की वजह से वो इस ग्रन्थ से लगभग गायब थीं। आइए आपको बताते हैं भानुमति से जुड़ी कुछ बातों के बारे में। 

इसे जरूर पढ़ें:आखिर कौन थीं महाभारत काल की 5 सबसे खूबसूरत स्त्रियां, जिनकी एक झलक के लिए भी तरसते थे लोग

कौन थीं दुर्योधन की पत्नी भानुमति 

bhanumati in duryodhan wife mahabhar

भानुमति काम्बोज के राजा चंद्रवर्मा की पुत्री थीं जैसे ही वो बड़ी होने लगीं उनके पिता ने उनके विवाह के लिए स्वयंवर रचा।  स्वयंवर में दूर दूर के धुरंधर सम्मिलित हुए। लेकिन जब स्वयंवर की बारी आयी तब भानुमति ने दुर्योधन का चुनाव न करके वर माला लेकर आगे बढ़ गईं।

इस बात पर क्रोधित होकर दुर्योधन ने जबरन ही वर माला अपने गले में डलवाई और उसे अपनी पत्नी बना लिया। इस प्रकार बल पूर्वक भानुमति दुर्योधन की पत्नी बन गईं। भानुमति से  दुर्योधन के विवाह के बाद उनके दो बच्चों लक्ष्मण और बेटी लक्ष्मणा को जन्म दिया था। 

श्री कृष्ण के बेटे से हुआ भानुमति की बेटी का विवाह 

bhanumati story in mahabharat

पौराणिक कथाओं के अनुसार भानुमति के दो जुड़वा बच्चों में से एक उनकी पुत्री लक्ष्मणा के साथ भी उनकी माता की तरह ही विवाह का दृश्य सामने आया।  लक्ष्मणा भी भानुमति की ही भांति बेहद सुंदर और चतुर थीं। जब वह बड़ी हुईं तो दुर्योधन ने लक्ष्मणा का विवाह कर्ण के पुत्र वृषसेन से करने की योजना बना ली।

लेकिन दुर्योधन ने अपनी पुत्री के लिए एक स्वयंवर रचा जिसमें पहले से ही यह तय था कि लक्ष्मणा किसे वरमाला पहनाएंगी। लेकिन दुर्योधन की योजना के खिलाफ कृष्ण पुत्र साम ने जबरदस्ती लक्ष्मणा से विवाह कर लिया। 

इसे जरूर पढ़ें:महाभारत के युद्ध के बाद श्री कृष्ण की मृत्यु कैसी हुई थी, आखिर क्या है इसका रहस्य

दुर्योधन की मृत्यु के बाद भानुमति का क्या हुआ 

महाभारत की पौराणिक कथा के अनुसार ऐसा माना जाता है कि जब युद्ध समाप्त हो गया और दुर्योधन की मृत्यु हो गयी तब पांडवों ने अपने वंश को आगे बढ़ाने के लिए भानुमति को अपनी पत्नी बनाने का विचार किया। उस समय भानुमति ने अर्जुन (महाभारत में अर्जुन को एक साल महिला बनकर क्यों रहना पड़ा)से विवाह स्वीकार कर लिया और पांडवों के परिवार का हिस्सा बन गईं। 

इस प्रकार भानुमति के अलावा और भी कई ऐसे पात्र और घटनाएं हैं जिनके बारे में हम आगे आपको जानकारी देंगे। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik and pixabay.com 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।