हिंदू धर्म में दान देना बहुत ही महत्‍वपूर्ण माना गया है। मगर हर वस्‍तु का दान नहीं दिया जा सकता है। इतना ही नहीं, वास्‍तु के अनुसार ऐसी कई वस्‍तुएं हैं, जो न तो उधार दी जा सकती हैं और न ली जा सकती हैं। आज हम भोपाल के ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद विनोद सोनी पोद्दार से जानेंगे कि शास्‍त्रों में किन चीजों को दान करना गलत माना गया है। साथ ही हम पंडित जी से यह भी जानेंगे कि वह कौन सी वस्‍तुएं हैं, जिन्‍हें उधार नहीं देना चाहिए। 

पंडित विनोद सोनी पोद्दार कहते हैं, 'दान करने के पीछे विभिन्‍न धार्मिक उद्देश्‍य छुपे हुए हैं। मगर सही वस्‍तु ही दान करनी चाहिए तब ही आपको उसका फल प्राप्‍त होगा। वास्‍तु शास्‍त्र में कई चीजों के लेन-देन को भी गलत माना गया है। खासतौर पर कुछ वस्‍तुएं ऐसी होती हैं, जिनके लेन-देन से आपको धन की हानि हो सकती है।' तो चलिए पंडित जी से जानते हैं कौन सी वस्‍तुओं को दान और उधार देने से बचना चाहिए। 

इसे जरूर पढ़ें: Vastu Tips: कपड़ों से जुड़े इन 5 वास्‍तु टिप्‍स का रखें ध्‍यान, दूर होगा शनि दोष और मिलेगा धन लाभ

vastu shastra do not donate salt

नमक

पड़ोसियों में खाने-पीने की चीजों का लेन-देन तो चलता ही रहता है। कभी तेल तो कभी चीनी के खत्‍म होने पर इसे पड़ोसी से उधार मांगने की परंपरा पुरानी है। मगर पंडित जी की मानें तो कभी नमक (नमक दिखाएगा ये 5 कमाल) उधार नहीं मांगना चाहिए और न ही इसे दान करना चाहिए। पंडित जी कहते हैं, 'नमक का दान लेने से चंद्रमा और शुक्र दोनों कमजोर हो जाते हैं। इसका सीधा असर आपकी आर्थिक स्थिति पर पड़ता है। '

पेन

अकसर लोग जल्‍दबाजी में अपने पास पेन रखना भूल जाते हैं, जब उन्‍हें जरूरत पड़ती है तो वह दूसरों से पेन मांगते हैं। कई बार पेन मागने के बाद लोग उसे वापिस करना भूल जाते हैं। मगर वास्‍तु शास्‍त्र के मुताबिक यह गलत है। अगर आपने किसी से पेन लिया है या फिर दिया है तो उसे वापस दें और लें। दरअसल, शास्‍त्रों के अनुसार यमलोक में चित्रगुप्‍त ही सभी के अच्‍छे-बुरे कर्मों का लेखा जोखा रखते हैं। चित्रगुप्‍त के पास हर मनुष्‍य के कर्मों से जुड़ी एक किताब होती है और कलम होता है। वह उस किताब पर कलम से व्‍यक्ति के हर अच्छे-बुरे कर्मों का हिसाब रखते हैं। इसलिए कलम को शास्‍त्रों में बहुत महत्‍व दिया जाता है। पंडित जी कहते हैं, 'आपकी कलम आपके अच्‍छे-बुरे कर्मों का हिसाब रखती है। इसे किसी और को भूल से भी दान न करें। न ही किसी और की कलम को अपने पास रखें, ऐसा करने से आपके भाग्‍य में जो भी अच्‍छा-बुरा लिखा है वह किसी और को प्राप्‍त हो जाता है।'

इसे जरूर पढ़ें: Vastu Tips: ‘दौड़ते हुए घोड़े’ की पेंटिंग का क्‍या है महत्‍व, एक्‍सपर्ट से जानें

vastu comb

कंघा

बालों के साज-श्रृंगार का सामान और कंघा कभी किसी से न तो शेयर करना चाहिए और न ही किसी को उधार देना चाहिए। ऐसा करने से आपकी किस्‍मत पर असर पड़ता। पंडित जी कहते हैं, 'बालों को संवारने वाली कंघी का दान या फिर किसी को उधार देने से आप अपनी किस्‍मत भी उन्‍हें दान कर देते हैं। किसी से कंघी उधार लें भी नहीं क्‍योंकि कंघी के साथ उस व्‍यक्ति की किस्‍मत में लिखा अच्‍छा या बुरा भी आपके साथ ही आ जाता है।'

घड़ी

घड़ी को भी वास्‍तु शास्‍त्र में बहुत महत्‍व दिया गया है। घड़ी (घड़ी से जुड़ें वास्‍तु टिप्‍स) को व्‍यक्ति के अच्‍छे और बुरे वक्‍त से जोड़ कर देखा जाता है। पंडित जी कहते हैं, 'कभी भी जो घड़ी आप इस्‍तेमाल कर रहे हैं वह किसी को पहनने को न दें और न ही आप किसी और से घड़ी पहनने के लिए लें। यदि आप ऐसा करते हैं तो इसका सीधा असर आपकी प्रोफेशनल लाइफ पर पड़ता है। '

Recommended Video

झाड़ू 

वास्‍तु शास्‍त्र में झाड़ू को बहुत महत्‍व दिया गया है। ऐसी मान्‍यता है कि झाड़ू में धन की देवी लक्ष्‍मी जी का वास होता है। पंडित जी कहते हैं, 'वास्‍तु शास्‍त्र में झाड़ू से जुड़े कई नियम-कायदे बताए गए हैं। इतना ही नहीं, वास्‍तु के हिसाब से झाड़ू न तो किसी को दान करनी चाहिए न ही किसी को उधार देनी चाहिए। ऐसा करने से देवी लक्ष्‍मी आप से रूठ जाती हैं और आपको आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।'

अगर धन हानि से बचना चाहती हैं तो भूल से भी ऊपर बताई गईं वस्‍तुओं का न तो दान करें और न ही उन्‍हें उधार दें। वास्‍तु और धर्म से जुड़ी और भी रोचक बातों को जानने के लिए पढ़ती रहें HerZindagi। 

 Image Credit: freepik