गर्ल्स हॉस्टल अपने आप में बहुत रोचक होते हैं। मैं अपने पर्सनल एक्सपीरियंस से बता रही हूं कि उनके अंदर एक अलग ही दुनिया चल रही होती है। चाहें होस्टल में भूतों की कहानी हो या फिर वॉर्डन को लेकर हो रहा कोई नया गॉसिप सब कुछ अप टू डेट रहता है। जो कभी कॉलेज हॉस्टल में नहीं रहा उसे शायद इस तरह के एक्सपीरियंस न हों, लेकिन जो रहा है वो शायद इन बातों को भली भांति जान पाएगा। 'गर्ल्स पीजी में रहने वाली लड़कियां बोल्ड होती हैं' ये कई लोगों के मुंह से आपने सुना होगा, लेकिन इसको कहने वाले शायद ये नहीं जानते कि वो रोज़ कितने सारी परेशानियों से उबरती हैं।  

मेरा अपना ही किस्सा ले लीजिए। सुबह मोटर जल गई तो पीजी की लड़कियों ने सड़क के सरकारी नल से बाल्टी भर-भर कर इस्तेमाल किया। ये तो एक ऐसा मामला था जो शायद कभी-कभार ही हो, लेकिन कुछ ऐसी बातें जो लगभग हर गर्ल्स हॉस्टल या पीजी में देखने मिलती हैं उन्हें तो जान लीजिए। 

girls hostel in india

इसे जरूर पढ़ें- रह रही हैं घर से दूर, तो ऐसे सजाएं अपना कमरा 

1. चोरी ऊपर से सीना जोरी 

अगर इसे पढ़कर कुछ लोगों को अपना किस्सा याद आ रहा है तो यकीन मानिए मैं भी उनमें से एक हूं। हर हॉस्टल में चोरी जरूर होती है। चाहें वो कोई रहने वाली लड़की करे, चाहें वो कोई नौकर करे, या कोई पड़ोसी ही आकर कुछ चुरा ले जाए। जितने किस्से मैंने सुने या देखे हैं वहां ये बात कॉमन रही है। कहीं न कहीं चोरी जरूर होती है। कटोरी चम्मच से लेकर कपड़ों तक चीज़ें गायब होने का सिलसिला चला रहता है। अब अगर आपको कोई किस्सा याद आ रहा हो तो कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं।  

2. लड़ाई पर जिंदगी भर की दोस्ती 

कई बार दो लोगों के बीच हॉस्टल में इतनी भयंकर लड़ाई हो जाती है कि वो लोग एक दूसरे के दुश्मन बन जाते हैं। हर किसी को लगता है कि ये उसके हक की लड़ाई है। लेकिन ऐसा भी देखा गया है कि वही लोग हॉस्टल छोड़ने के पहले जिंदगी भर के दोस्त बन गए हों। हॉस्टल की लड़ाई तो प्रसिद्ध होती है और क्योंकि गर्ल्स हॉस्टल की दुनिया थोड़ी हटके होती है इसलिए ये नैशनल मुद्दे जितना ही महत्वपूर्ण हो जाता है। एक भीषण लड़ाई पर कई दिनों तक गॉसिप चल सकता है। अब ऐसे दो दुश्मन अगर दोस्त बनेंगे तो यकीनन कहानी तो रोचक होगी ही।  

3. नियमों को लेकर विरोध

ये शायद सभी हॉस्टल या पीजी की कहानी है। किस टाइम पर आना है, हॉस्टल के खराब खाना को ठीक करने के लिए, काम वाली बाई किस समय आएगी ये सब कुछ पहले से तय होता है, लेकिन इन नियमों को लेकर विरोध और विवाद होना हॉस्टल की एकता का प्रतीक होता है। यही कुछ तरीके हैं जिनसे हॉस्टल के ग्रुप बनते हैं और दोस्ती की शुरुआत होती है। भले ही ये अजीब लगे, लेकिन होती बिलकुल सही है। 

4. हेयरस्टाइल और मेकअप वाली लड़की

हर गर्ल्स हॉस्टल में एक ऐसी लड़की होती है जो बहुत अच्छा मेकअप या फिर बेहतरीन हेयरस्टाइल बनाती है। किसी फंक्शन में, त्योहार पर, पार्टी में जाते समय या बस यूं ही सजने के लिए लड़कियां उस एक खास लड़की के आस-पास रहती हैं। कई बार तो उससे बाकायदा अपॉइन्टमेंट लिया जाता है कि अगर वो फ्री है तो वो काम कर सकती है। अब इसे भले ही आप अजीब समझें, लेकिन ऐसा होता जरूर है। 

girls hostel stories

इसे जरूर पढ़ें- अंजान शहर में तलाश रही हैं घर तो पहले इन बातों पर करें गौर

 

5. बुराई के साथ चाय पर चर्चा

चाय पर चर्चा यहां राष्ट्रीय मुद्दों पर नहीं बल्कि हॉस्टल के मुद्दों पर होती है। बाकायदा पंचायत की तरह लड़कियां बैठती हैं और चाय के साथ किसी के घर के आए नाश्ते को खाया जाता है। फिर शुरू होती है एक लंबी चर्चा जो कई घंटों तक चल सकती है। इसमें हॉस्टल की वॉर्डन से लेकर कॉलेज के चपरासी और ऑफिस के किसी चतुर कर्मचारी से लेकर बॉस तक सबकी बुराई होती है। यहां तक कि इन मीटिंग्स से कई बार किसी की समस्या का अहम उपाय भी निकल जाता है।