मकर संक्रांति पर तिल खाने का विशेष महत्व होता है इसलिए इस दिन लोग तिल के लड्डू या उससे बनी गजक खाना पसंद करते हैं। वैसे भी सर्दियों में गजक खाने का अपना ही एक अलग मजा होता है। इस बार आप घर में ही आसानी से तिल मूंगफली की गजक बना सकती हैं। 

तिल मूंगफली गजक बनाने की सामग्री 

  • तिल
  • मूंगफली के दाने
  • घी
  • गुड़

तिल मूंगफली गजक बनाने की विधि 

तिल मूंगफली की गजक बनाने के लिए सबसे पहले तिल को मीडियम गैस पर भून लीजिए और फिर इसके बाद तिल को एक प्लेट में अलग से निकाल कर रख लीजिए। अब एक कढ़ाही में एक छोटी चम्मच घी डाल दीजिए और फिर घी के पिघलने पर इसमें गुड़ डाल दीजिए। आप गुड़ को बारीक करके भी डाल सकती हैं। 

Read more: सर्दियों में अलसी और गोंद के लड्डू बनाकर खाएं

अब आप मूंगफली के दानों को दरदरा मोटा-मोटा पीस लीजिए। इसके बाद आप थोड़ा सा तिल साबुत अलग रखकर बाकी तिल को मोटा-मोटा पीस लीजिए। अब एक बोर्ड पर घी लगाकर चिकना कर तैयार करके रख लीजिए। 

til peanut gazak

गुड़ अच्छे से पिघलने पर गैस धीमी कर दीजिए ताकि गुड़ जले ना और चाशनी अच्छे से बन जाए। बाद में गुड़ की चाशनी चैक कर लीजिए। गुड़ की चाशनी के ठंडा होने के बाद इसे हाथ से तोड़कर देखिए। अगर गुड़ खिंचने की बजाय टूट रहा है तो चाशनी बनकर तैयार है। गैस बंद कर दीजिए। अब आप इसमें मूंगफली के दाने और तिल डाल दीजिए। सारी चीजों को अच्छे से मिक्स कर लीजिए। सारी सामग्रियों के मिलने के साथ ही गजक का मिश्रण तैयार है। अब आप गैस बंद कर दीजिए। 

Read more: सर्दियों के मौसम में तिल की गजक स्‍वाद और सेहत दोनों को पहुंचाएगी फायदा, रेसिपी सीखें

अब इस मिश्रण को चिकने किए हुए बोर्ड पर डाल दीजिए और साबुत तिल को ऊपर से डाल दीजिए। हाथ और बेलन को थोड़ा सा घी लगाकर चिकना कर लीजिए। मिश्रण को हाथ से इकट्ठा करके एक जैसा कर लीजिए। इसके बाद इसे बेलन से बेल लीजिए। 

बेली हुई शीट को अपनी पसंद के अनुसार छोटे या बड़े टुकड़ों में काट लीजिए। इसे ठंडा होने दीजिए। अब आपकी तिल मूंगफली की क्रिस्पी गजक बनकर तैयार है। इसे पूरी तरह से ठंडा होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भरकर रख दीजिए। ऐसा करने से आप इसे 1 महीने तक खा सकती हैं। 

til peanut gazak

टिप्स 

तिल मूंगफली की गजक के लिए चाशनी को ज्यादा नहीं पकाना है। हद से ज्यादा गैस पर चाशनी पकाने पर गजर में जला हुआ टेस्ट आता है। 

 
  • Kirti Jiturekha Chauhan
  • Her Zindagi Editorial