आम तौर पर लड़की की शादी के बाद विदाई में जो नज़ारा देखने को मिलता है वो वास्तव में बेहद भावुक होता है। बेटी की विदाई में पिता रो रहा होता है, तो मां किसी कोने में उसके बचपन की यादों को संजोती हुई नज़र आती है। ऐसे भावुक पल के साथ बेटी अपने दूल्हे के साथ कार में बैठकर ससुराल चली जाती है और पीछे छोड़ जाती है मीठी यादें। लेकिन कोलकाता की एक अनोखी शादी में नज़ारा कुछ अलग था। 

इस शादी में लड़की की शादी भी हुई और विदाई भी। लेकिन विदाई में लड़की कार में बैठकर नहीं, बल्कि दूल्हे को कार में बैठाकर काल चलाती हुई ससुराल गई। जी हां हम बात कर रहे हैं कोलकाता की एक दुल्हन स्नेहा सिंघी उपाध्याय की। जिन्होंने अपनी विदाई के समय खुद ही कार चलाई। उनकी विदाई की ये वीडियो सोशल मीडिया में बड़ी तेजी से वायरल हो रही है। जानें क्या ख़ास है इस वीडियो में। 

रूढ़ियों को तोड़ता वीडियो

sneha singhi viral 

कोलकाता की स्नेहा सांघी और सौगात उपाध्याय ने पिछले महीने ही शादी की और इंस्टाग्राम पर एक स्टीरियोटाइप-ब्रेकिंग बिदाई समारोह को सोशल मीडिया पर हाल ही में साझा किया। इस वायरल वीडियो में दिखाया गया है कि शादी के पूरा होने के बाद, जब दंपति को लड़की के घर छोड़ने का समय आया, स्नेहा सौगत कार चलाने के लिए तैयार कार के अंदर पहुंच जाती है और उनके दूल्हे सौगात उनकी बगल वाली सीट में नज़र आ रहे हैं। स्नेहा फिर धीरे से कार चलना शुरू करती है और सबको देखकर मुस्कुराती हुई ससुराल चली जाती है, जिससे भारतीय विवाहों की सदियों पुरानी परंपरा टूट जाती है।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Sneha Singhi Upadhaya (@snehasinghi1)

इंस्टा पर मिले कई लाइक्स 

अपने इंस्टाग्राम फॉलोअर्स के साथ वीडियो क्लिप साझा करते हुए स्नेहा ने लिखा, "यह वास्तव में मजेदार था!"स्नेहा ने एक महीने पहले ही अपनी मां और पति के साथ इस बारे में चर्चा की थी, लेकिन शादी के दिन वह इस बारे में पूरी तरह से भूल गई। हालांकि, जब उसके पति ने उसे याद दिलाया, तो वह कार चलाने के लिए उत्साहित हो गई क्योंकि वह ठीक इसी तरह अपनी शादी को पूरा करना चाहती थी। यह वीडियो सोशल मीडिया में बहुत तेजी से वायरल हो रहा है और इस वीडियो को सोशल मीडिया में बहुत से लाइक्स मिल रहे हैं। 

लड़कियों को देती हैं प्रेरणा

sneha singhi video 

वास्तव में स्नेहा का ये कदम आजकल की लड़कियों के लिए प्रेरणादायक है, साथ ही पुरुष प्रधान समाज की रूढ़िवादी सोच के लिए एक कुठाराघात है। स्नेहा के इस कदम से हर एक लड़की को प्रेरणा लेनी चाहिए कि लड़कियां भी अपने निर्णय लेने में सक्षम हैं।  

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: instagram.com @Sneha Singhi Upadhaya