अक्सर हम एक ही बात पर ध्यान करते हैं कि भला वास्तु के अनुसार घर में ऐसी कौन-सी वस्तुएं रखी जानी चाहिए जिससे घर के सदस्यों का जीवन सुखमयी बन सके लेकिन कई बार हमें समझ नहीं आता की घर में कलेश क्‍यों हो रहा है या घर का कोई सदस्‍य बीमार क्‍यों है। घर में इतनी नकारात्मकता क्‍यों है। जबकी हमें लगता है कि हमारे आस पास सब कुछ सही है। लेकिन ऐसा नहीं होता है, कई बार बहुत सी ऐसी चीजें होती है जिनपर हमारा ध्‍यान नहीं जाता। उनमें से एक है घर में रखीं हुई चीजें। 

हमारे घर में इतना कुछ पड़ा होता है कि हमारा उस ओर ध्‍यान ही नहीं जाता और हम उसे वैसे ही पड़े रहने देते है। लेकिन ऐसा बिल्‍कुल न करें, अगर कोई चीज आपके काम की नहीं है तो उसे घर में न रखें। लेकिन आप सोच रही होंगी की ये कैसे पता करें कि कौन सी चीज हमारे लिए सही नहीं है। तो आइए आज हम आपको बताते है ऐसे ही 8 चीजों के बारे में जिन्‍हें घर में नहीं रखना चाहिए क्‍योंकि इनके घर पर होने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का विकास होता है और जीवन कष्‍ट आ सकता है। 

टूटी-फूटी चेयर या टेबल न रखें

inside  vastu for prosperity avoid

आपके घर में टूटी हुई कुर्सियां या टेबल पड़ी है तो उसे तुरंत से हटा दें। घर में टूटी हुई कुर्सियां या टेबल होने से तरक्की रूकती है और पैसों की कमी आती है। इस बात का भी ध्‍यान रखें कि सोफा भी फटा या टूटा न हो और उस पर बिछाई गई चादर भी गंदी या फटी न हो। साथ ही कोशिश करें घर के हर सोफे और कुर्सी को अच्छी तरह ढककर रखें।

घर पर टूटी-फूटी वस्तुएं न रखें

किसी भी तरह का टूटा-फूटा सामान घर पर न रखें, इससे घर में नकारात्मकता आती है और इन चीजों के घर पर पड़े रहने से मानसिक परेशानियां आ सकती है। टूटा शीशा, टूटे फ्रेम वाली तस्वीरें, टूटे हुए इलेक्ट्रॉनिक के सामान, टूटे-फूटे बर्तन, बंद पड़ी घड़ी, टूटा हुआ झाड़ू, दीवाली पर इस्तेमाल किए गए दिये, टूटा चाय का मग या कप घर पर बिल्‍कुल न रखें। 

घर पर कभी भी न लगाएं युद्ध की तस्वीरें

inside  vastu for prosperity avoid

घर पर किसी भी तरह के युद्ध की तस्वीरें न लगाएं। न सिर्फ युद्ध की बल्कि घोड़े की तस्‍वीर, बहते झरने की तस्‍वीर भी न लगाएं। वैसे तस्‍वीरों में महाभारत युद्ध की तस्‍वीर, ताजमहल की तस्‍वीर, नटराज की मूर्ति या तस्‍वीर, डूबती हुई नाव या जहाज की तस्‍वीर, जंगली जानवरों की तस्‍वीर, फव्वारे की तस्‍वीर और कांटेदार पौधों की तस्‍वीर घर पर कभी न लगाएं। वास्‍तु शास्‍त्र में ऐसा माना जाता है कि घर पर ऐसी तस्‍वीरे लगाने से इन तस्‍वीरों का घर के सदस्यों पर बुरा प्रभाव पड़ता है, खासकर सबसे ज्यादा बुरा असर बच्चों पर पड़ता है, ऐसी तस्‍वीरों से बच्चों का स्वभाव गुस्से वाला होने की संभावना बनी रहती है। 

इसे जरूर पढ़ें: जानें स्वास्तिक के लाभ और इसे बनाने का सही तरीका

देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां 

घर पर कभी भी भगवान की की फटी हुई और पुरानी तस्वीरें नहीं रखनी चाहिए। साथ ही, देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां भी नहीं रखनी चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इससे आर्थिक हानि होती है। इसीलिए उन्हें घर में रखने की बजाए नदी में प्रवाहित कर दें। इसके अलावा देवी-देवताओं के तस्‍वीरों से घर को न सजाएं। साथ ही, घर पर देवी-देवताओं की ढेर सारी मूर्तियां न रखें। ऐसा करने से घर में वास्तुदोष निर्मित होता है। 

घर पर कबाड़ जमा करके न रखें

inside  vastu for prosperity avoid

अक्सर देखा जाता कि लोग घर में कबाड़ जमा करके रखते हैं। जैसे की पुराना लोहा या फिर इलेक्ट्रॉनिक के सामान यह सोच कर कि आगे चलकर ये चीजें इस्तेमाल होंगे। पर कबाड़ को को घर में संभालकर न रखें क्‍योंकि घर पर पुराना कबाड़ रखने से घर में पैसों की तंगी होती है। 

टूटी या खुली अलमारी न रखें 

घर में टूटे-फूटे दरवाजे वाली अलमारी न रखें। ऐसा माना जाता है कि घर पर ऐसी अलमारी होने से घर के हर तरह के कामों में रुकावट आती है और पैसों की हानी होती है। 

इसे जरूर पढ़ें: पैसों की तंगी दूर करने के लिए इस तरह इस्तेमाल करें ‘मोर पंख’

इस्‍तेमाल में नहीं आ रहे कपड़ों को न रखें

inside  vastu for prosperity avoid

अक्सर हम घरों के किसी कोने में या अलमारी में पुराने कटे-फटे कपड़ों की पोटलियां बनाकर रख देते है। ऐसा बिल्‍कुल न करें। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से घर में पुराने कलह-कलेश खत्म नहीं होते। उन्हें इस तरह घर में संभालकर रखने से घर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए अपने पुराने कपड़ों को किसी जरुरतमंद को दे दें। पुराने फटे कपड़ों की पोटली बनाकर बिल्‍कुल न रखें।  

घर पर कांटेदार पौधे न रखें 

घर को सजाने के लिए नकली या कांटेदार पौधे न रखें। वास्‍तु शास्‍त्र के अनुसार ऐसा करने से पारिवारिक संबंधों में तनाव पैदा होता है। पुरानी या फालतू चीजों को भी घर पर न सजाएं क्‍योंकि ऐसी वस्तुएं घर में नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देती हैं।