• Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial
  • Mon, 27 Aug 2018 17:25 IST

थायरॉयड ऐसी ही एक प्रॉब्‍लम है। जिसे महिलाएं अक्‍सर नजरअंदाज कर देती हैं। जबकि इसको कंट्रोल में करना बेहद जरूरी होता है। अगर ऐसा न किया जाए तो हार्मोन के असंतुलन के कारण पूरी बॉडी की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है। मंडे की आज की इस सीरीज में रिसेट की योगा थेरेपिस्‍ट निकिता परमार हमें कुछ योगासन के बारे में बताएंगी जिनकी हेल्‍प से आप थायरॉयड को कंट्रोल कर सकती हैं। तो देर किस बात कि आइए इस वीडियो को देखकर योग करें और थायरॉयड को मात दें। 

महिलाओं को अपने शारीरिक बनावट व हार्मोनल कारणों से थायरॉयड प्रॉब्‍लम ज्यादा होती है। थायरॉयड को साइलेंट किलर माना जाता है, क्‍योंकि इसके लक्षण आपको धीरे-धीरे पता चलते हैं और जब तक इस प्रॉब्‍लम का पता चलता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। थायरॉयड डिसऑर्डर थायरॉयड ग्लैंड के काम में गड़बड़ी आने से होता है। यह बटरफ्लाई के आकार का ग्लेंड होता है, जो एडम्स एप्पल के ठीक नीचे होता है। यह हमारे रोजमर्रा के काम में अहम भूमिका निभाता है और सारी मेटाबॉलिक एक्टिविटी के लिए जिम्मेदार होता है। हमारी कुछ गलत आदतें इस परेशानी को बढ़ा देती हैं। लेकिन इस समस्या से निजात पाने का सबसे आसान तरीका है- योग। योग में कई आसन हैं जो थायरॉयड पर कंट्रोल पाने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते हैं।

Watch more: रोजाना 10 मिनट निकालकर करेंगी ये 3 योग तो डायबिटीज रहेगी कंट्रोल

योगा थेरेपिस्‍ट निकिता परमार का कहना हैं कि ''आज हम ऐसे योगासन के बारे में जानेंगे जिन्‍हें करना बहुत आसान है और जो न सिर्फ आपको थायरॉयड होने से बचाएंगे बल्कि दोनों तरह के थायरॉयड जैसे हाइपर थायरॉयड और हाइपोथायरॉयड को ठीक करने में काम आएंगे।'' तो इस वीडियो को देखकर शुरू करते हैं ये योगासन करना।  

धनुरासन
yoga for thyroid inside

  • इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले मैट पर पेट के बल लेट जाएं।
  • सांसों को छोड़ते हुए अपने घुटनों को मोड़े और अपने हाथों से टखनों को पकड़े।
  • फिर सांस लेते हुए अपने सिर, चेस्‍ट और पेट को ऊपर की ओर उठाएं।
  • अपने शरीर के लचीलेपन के हिसाब से आप अपने शरीर को और ऊपर उठा सकते हैं।
  • शरीर के भार को पेट से निचले हिस्‍से पर लाने की कोशिश करें।
  • अब गहरी सांस छोड़ते हुए पहली पोजिशन में आ जाएं।
  • इस आसन को 3 से 5 बार करें।

Watch more: स्‍ट्रेस को दवा से नहीं बल्कि एक्‍सपर्ट के इन 3 योग से चुटकियों में दूर करें

वक्रासन

  • इस आसन को करने के लिए सबसे पहले अपने पैर सीधे फैलाकर मैट पर बैठ जाएं।
  • अब अपने दाएं पैर को घुटने से मोड़कर बाएं घुटने की सीध में रखें।
  • फिर सांस लेते हुए कमर को दाई ओर मोड़ें और दाएं हाथ को पीछे की ओर ले जाएं।
  • अब बाएं हाथ की कोहनी से दाएं पैर के घुटने को दबाते हुए पैर के नीचे पकड़ लें।
  • साथ ही अपनी गर्दन पीछे की तरफ लेकर जाएं।
  • आखिर में धीरे से सांस छोड़ते हुए पहली पोजिशन में आ जाएं।
  • यही क्रिया दूसरी ओर से दोहराएं।

पूर्ण हलासन
yoga for thyroid inside

  • इस आसन को करने के लिए पीठ के बल सीधे लेट जाएं।
  • अब हाथों को हिप्‍स के नजदीक रखें।
  • अब सांस अंदर लेते हुए धीरे-धीरे अपने पॉव 90 डिग्री पर उठाएं।
  • फिर दोनों हाथों से पीठ को सपोर्ट देते हुए ऊपर उठाएं।
  • ये करते समय अपनी कोहनियों को जमीन पर टिकाएं रखें।
  • अब धीरे-धीरे पैरों को वीडियो में दिए तरीके से सिर के पीछे लेकर जाएं।
  • अपनी नजरे नाक पर रखें।
  • आखिर में अपने हाथों को जमीन पर पहले सीधे रखें और बाद में इस तरह से पकड़ लें।
  • अगर आपको इस पॉजिशन में मुश्किल लगें तो आप अपनी पीठ को हाथों का सपोर्ट देकर भी रख सकती हैं।  
  • आखिर में धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए पहली पोजिशन में आ जाएं।

Watch more: पीसी‍ओडी को देनी है मात तो जरूर करें एक्‍सपर्ट के बताए 3 योगासन

ये योगासन न सिर्फ आपके शरीर के सभी अंगों को अच्‍छे से काम करने में मदद करते हैं बल्कि थायरॉयड ग्‍लैंड को स्टिम्‍युलेट भी करेंगे। जो आपकी बॉडी हार्मोन्‍स बैलेंस करेंगे। इन्‍हें जितना हो सकें नियमित करने की कोशिश करें। ये यकीनन थायरॉयड का इलाज करने में आपकी मदद करेंगे।   

Credits

Producer: Rohit Chavan
Editor: Anand Sarpate