रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन और देश के सबसे बड़े बिजनेसमैन मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी की शादी देश के सबसे बड़े हीरा व्‍यापारी रसेल मेहता की बेटी श्‍लोका मेहता से 9 मार्च 2019 को शादी की थी। अब उनकी शादी को 2 वर्ष हो गए हैं। आपको बता दें कि आकाश और श्‍लोका की शादी का जश्‍न जितना भव्‍य था उतनी खूबसूरती से उनकी शादी की सारी रस्‍मों को भी निभाया गया था। 

आकाश और श्‍लोका की शादी में फेरों से लेकर सिंदूर और मंगलसूत्र पहनाने तक की सारी रस्‍में बेहद ट्रेडिशनल ढंग से निभाई गईं थी। इन खूबसूरत रस्‍मों को गुजराती रीति रिवाज से निभाया गया था और रस्‍मों के साथ-साथ लाइव फोक संगीत भी गाया गया था।

 यह संगीत रस्‍मों के महत्‍व की गाथा सुना रहा था और रस्‍मों को भी सुंदर बना रहा था। रस्‍मों के दौरान अंबानी और मेहता परिवार भी एक दूसरे के साथ अनोखे बंधन में बंधे नजर आ रहे थे और यह बंधन अब और भी मजबूत हो चुका है क्‍योंकि कुछ दिन पहले ही आकाश और श्‍लोका एक बेटे के माता-पिता बने हैं। 

चलिए आज हम आपको दिखाते हैं कि आकाश- श्‍लोका की शादी की किस रस्‍म में क्‍या हुआ था-  

इसे जरूर पढ़ें: 1st Wedding Anniversary: आकाश अंबानी-शलोका मेहता ने इस तरह बिताया शादी का 1 साल, इन 10 तस्‍वीरों में देखें

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Tina Ambani (@tinaambaniofficial)

 

जयमाला रस्‍म 

आकाश और श्‍लोका की शादी में सबसे पहले जयमाला रस्‍म निभाई गई। इसके लिए श्‍लोका को मंडप तक लाने के लिए बेहद खूबसूरत सफेद बेला के फूलों से सजी पालकी में मंडप तक लाया गया। वीडियो में दिखाया गया है कि अपनी बेटी श्‍लोका को फूलों की पालकी में दुल्‍हन के श्रृंगार में देख उनकी मां मोना की आंखों में आंसू आ जाते हैं।

वहीं श्‍लोका को उनकी बहने मंडप पर लाती हैं और आकाश और श्‍लोका माला कि रस्‍म अदा करते हैं। इस दौरान सभी गेस्‍ट घंटी बजा कर उनका स्‍वागत करते हैं। पहले श्‍लोका आकाश को माला पहनाती हैं और बाद में आकाश श्‍लोका को माला पहनाते हैं। 

Recommended Video

गठबंधन और फेरे की रस्‍म 

माला रस्‍म के बाद श्‍लोका और आकाश के गठबंधन की रस्‍म अदा की गई। इस रस्‍म के दौरान श्‍लोका के पिता रसेल मेहता ने पहले श्‍लोका के पैरों को चांदी की प्‍लेट में रख कर पूजा। इसके बाद आकाश की बहन ईशा ने श्‍लोका और आकाश के लिए गठबंधन तैयार किया और फिर दोनों के फेरे शुरू हुए।

फेरे के दौरान निभाई जाने वाली रस्‍मों को भी वीडियो में दिखाया गया है। इस दौरान लाइव मंत्र और फोक संगीत भी गाया जा रहा था, जो रस्‍म की रौनक को दोगुना बढ़ा रहा था। फेरों के बाद आकाश और श्‍लोका में इंग्‍लिश में साथ जीवन बिताने और खुश रहने, एक दूसरे का दुख और सुख में साथ देने की कस्‍में खाई। 

मंगलसूत्र और सिंदूर की रस्‍म 

हिंदुओं में मंगलसूत्र और सिंदूर की रस्‍म को बहुत बड़ा माना जाता है। शादीशुदा महिलाओं के लिए सिंदूर और मंगलसूत्र (मंगलसूत्र टॉप 5 डिज़ाइन ) सबसे महत्‍वपूर्ण गहना होता है। अकाश अंबानी ने भी श्‍लोका को सिंदूर और मंगलसूत्र पहनया। 

इस रस्‍म के बाद ही स्‍वागत संगीत शुरू हुआ, यह कुछ इस तरह था, ‘सदा बसंत खुशियों के रंग जीवन में, रहना है संग जीवन में, दो परिवार तुम्‍हारे कारण बंधे स्‍नेह के बंधन में, श्‍लोका बिटा मन हम स्‍वागत करते हैं तुम्‍हारा हमारे आंगन में।’ इस रस्‍म के बाद आकाश और श्‍लोका ने एक दूसरे को साथ में आइने में देखा और सभी बड़ों का आर्शीवाद भी लिया। 

आपको यह आर्टिकल अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें और साथ ही इस तरह के और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।