हमारे देश में अंडरगारमेंट्स को लेकर ज्यादा बातें नहीं की जाती हैं। भले ही अब धीरे-धीरे समय बदल रहा है, लेकिन फिर भी कई घर ऐसे हैं जहां महिलाओं को अपने अंडरगारमेंट्स छुपाकर सुखाने पड़ते हैं। जिस चीज़ को छुपाने की आदत डाली जाए उसके बारे में भला ठीक से बात क्या ही की जाएगी। यही कारण है कि कई महिलाएं अभी भी अपने लिए अंडरगार्मेंट्स खरीदने से बचती हैं और उन्हें जो भी आसान तरीके से मिल जाता है वो खरीद लेती हैं।

ब्रा और अंडरवियर के मामले में भी यही होता है और महिलाएं कई बार तो फिट और कपड़े के बारे में सोचे बिना ही इन्हें खरीद लेती हैं। पर ये जितना सुविधाजनक लगता है उतना होता नहीं है। ये हमारे शरीर के लिए भी खराब है और कपड़ों के अंदर हमने क्या पहना है उसका कंफर्ट से भी बड़ा लेना देना है।

आज हम आपको ये बता रहे हैं कि अंडरवियर चुनते समय आपको किन 5 बातों का ध्यान रखना चाहिए।

1.  हिप साइज का ध्यान दें-

ब्रा ही नहीं पैंटी भी साइज की ही होनी चाहिए। पैंटी खरीदने से पहले आप अपना हिप मेजरमेंट जरूर करें। इसके पीछे एक सीधा सा कारण है कि हमारी पुरानी पैंटी धुलने और इस्तेमाल करने के कारण ढीली हो जाती है और अगर हिप साइज बढ़ता है तो भी हमें पता नहीं चलता। ऐसे में पुराने साइज की पैंटी ही लेंगे तो हो सकता है कि ये आपको टाइट हो जाए। अंडरवियर अगर बहुत टाइट हो तो वेजाइनल हेल्थ पर असर पड़ता है।

एक रिसर्च के मुताबिक ज्यादा टाइट अंडरवियर से वेजाइनल मसल्स पर असर पड़ता है और कुछ गंभीर मामलों में तो इन्फेक्शन या सिस्ट होने की गुंजाइश भी होती है। आपको ये ध्यान रखना है कि आप जरूरत से ज्यादा टाइट पैंटी ना पहनें और अपने साइज का ख्याल रखें।

problems of buying underwear

इसे जरूर पढ़ें- आखिर क्यों महिलाओं की ब्रा में बना होता है Bow? जानें इससे जुड़े कई फैक्ट्स

2. कपड़ा और कंफर्ट अपने हिसाब से तय करें-

सिर्फ इसलिए कि लेस वाली पैंटी किसी और ने खरीदी है और वो सुंदर दिख रही है तो उसे खरीद लिया जाए ये सही नहीं है। कपड़ा और कंफर्ट आपकी पसंद के हिसाब से होना चाहिए। कई  ब्रांड्स मिक्स्ड कॉटन पैंटी रखते हैं तो कुछ प्योर कॉटन का दावा करते हैं। सैटिन और ग्लॉसी कपड़े में भी बहुत अंतर होता है। ऐसे में आपके लिए ये जरूरी है कि आप अपने हिसाब से कपड़ा और कंफर्ट तय करें।

  • सबसे पहले ये ध्यान दें कि कहीं आपको कोई एलर्जी तो नहीं
  • कपड़ा बजट देखकर नहीं बल्कि वेजाइनल हेल्थ देखकर चुनें
  • अगर आपको बार-बार वेजाइनल इन्फेक्शन या यूटीआई का खतरा होता है तो कॉटन की पैंटी सबसे अच्छी साबित होगी, ऐसे समय में नायलॉन की पैंटी लेने से बचें।
problems with underwear

3.  पैंटी का टाइप खुद निर्धारित करें-

सिर्फ इसलिए कि सीमलेस पैंटी ट्रेंड में है इसलिए आपको भी वो लेनी चाहिए ये जरूरी नहीं है। सीमलेस पैंटी अधिकतर सिंथेटिक होती हैं और ऐसे में कई बार महिलाओं को डिसकंफर्ट हो सकता है। 

  • अगर आपका बम शेप कर्वी है तो फुल कवरेज या फिर कट शेप पैंटी दोनों ही चल जाएंगी।
  • अगर आपको हवादार पैंटी चाहिए तो बॉक्सर जैसा कुछ चुनें।
  • अगर आप लोअर बैली सपोर्ट चाहती हैं तो हाई वेस्ट पैंटी चुनें।
  • मिड लेंथ पैंटी लोअर बैली फैट को डिवाइड कर देती है और अगर बहुत हेवी पेट है तो ये डिवाइडेड लगेगा। 

इसे जरूर पढ़ें- ब्रा पहनते समय न करें ये गलतियां, बिगड़ेगा बॉडी शेप और बढ़ेगा साइड फैट 

4. अगर टाइट पैंट पहननी है तो सीमलेस पैंटी चुनें- 

अगर आपको टाइट पैंट पहननी है या फिर आपको ऐसी ड्रेस पहननी हैं जो बॉडी हगिंग हैं तो आपको सीमलेस पैंटी चुननी चाहिए। हर रोज़ के लिए इन्हें पहनना सही नहीं है, लेकिन अगर आप कोई खास ड्रेस पहनने वाली हैं तो ये ज्यादा बेहतर होंगी। सीमलेस पैंटी में बाहर पैंटी का शेप नहीं झलकता है और इसलिए इन्हें काफी अच्छा माना जाता है। 

Recommended Video

5. पियर शेप बॉडी के लिए कवरेज का ध्यान दें- 

अगर आपका शरीर पीयर शेप्ड है और बैक पोर्शन काफी ज्यादा है तो हमेशा कवरेज वाली पैंटी चुनें। ये आपके लिए ज्यादा कंफर्टेबल होगी। हां आप थॉन्ग या फिर कट शेप्ड पैंटी चुन सकती हैं, लेकिन इससे बैक शेप उभरा हुआ दिखेगा। जहां तक कंफर्ट का सवाल है तो फुल कवरेज में ज्यादा होगा। ऐसे समय में बॉय शॉर्ट्स पैंटी आपके लिए अच्छी साबित हो सकती है। हालांकि, ये पूरी तरह से व्यक्ति विशेष की पसंद पर निर्भर करता है। आपको अगर थॉन्ग और कट शेप्ड पैंटीज पसंद हैं तो उन्हें भी आप ट्राई करें। 

ये छोटे-छोटे टिप्स अधिकतर लोग नजरअंदाज कर देते हैं और ये ध्यान नहीं देते हैं कि आखिर उनका कंफर्ट कितना जरूरी है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।