• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

आपकी हेल्थ के लिए कितना हानिकारक है मोबाइल? इस कोड से लगा सकते हैं पता

एक कोड की मदद से आप फोन के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में पता लगा सकते हैं। जानें कैसे। 
author-profile
Published -15 Sep 2022, 10:42 ISTUpdated -15 Sep 2022, 11:17 IST
Next
Article
how sar level in mobile affect people

समय के साथ फोन का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी हो गया है। आज फोन सिर्फ लोगों से बात करने के लिए ही नहीं और भी कई कामों के लिए यूज किया जाता है। ऐसे में बहुत बार ऐसे प्रश्न भी उठते हैं कि क्या फोन से लोगों के शरीर पर कुछ नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं? आज हम आपको इसी बारे में बताने वाले हैं।

आप फोन के एक कोड की मदद से इसके स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में पता लगा सकते हैं। इस आर्टिकल में जानें इस कोड से जुड़ी सारी जानकारी विस्तार से।

जानें कोड के बारे में 

mobile phone effects

दरअसल हर फोन में से रेडिएशन निकलती है। ऐसे में हम जब फोन का इस्तेमाल करते हैं तो रेडिएशन हमारे शरीर में समा जाती है। रेडिएशन को मापने के लिए एसएआर (SAR) कोड होता है। इस कोड की मदद से शरीर में फोन का इस्तेमाल करने से पड़ने वाले प्रभावों के बारे में पता लगाया जाता है। 

इसे भी पढ़ेंः इन कारणों से गंदा होता है आपके फोन का कवर, साफ करने के लिए अपनाएं ये ट्रिक्स

कितनी होनी चाहिए SAR वैल्यू 

किसी भी फोन की एक निश्चित एसएआर वैल्यू होती है। भारत में डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन ने मोबाइल फोन के लिए एसएआर वैल्यू 1.6W/Kg तय की हुई है। हालांकि बहुत कम लोग इस बारे में जानते हैं और जानने की कोशिश करते हैं। (फोन को क्यों नहीं करना चाहिए 100 परसेंट चार्ज?)

कैसे चेक करें SAR

आपके फोन की एसएआर वैल्यू क्या है इस बारे में पता लगाने के लिए आप कई तरीके अपना सकते हैं। आपका फोन जिस कंपनी का है उसकी वेबसाइट पर भी आपको फोन स्पेसिफिकेशन के साथ एसएआर वैल्यू मिल जाएगी। 

इसे भी पढ़ेंः स्मार्टफोन में स्पीकर के बगल में मौजूद छोटे से छेद का होता है बड़ा काम, इसके बिना नहीं कर सकते बात

SAR वैल्यू जानने का एक और तरीका 

sar value

आप अपने फोन में एक नंबर डाइल करके भी एसएआर वैल्यू के बारे में पता लगा सकते हैं। आपको बस फोन के डायल पैड पर  *#07# टाइप करना है। आप जैसे ही यह नंबर टाइप करेंगे आपके सामने एसएआर वैल्यू आ जाएगी। 

2 तरह की होती है एसएआर वैल्यू 

फोन पर *#07# टाइप करने पर आपकी स्क्रीन पर 2 अलग-अलग कोड आएंगे। एक शरीर और एक सिर का। आप देखेंगे कि सिर का कोड शरीर के कोड से ज्यादा है। यही कारण है कि रोजाना लंबे समय तक फोन पर बात ना करने की सलाह दी जाती है। रेडिएशन से बचने के लिए आप ईयरफोन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। (मोबाइल चार्जिंग से जुड़ी ये 5 बड़ी गलतियां जानें)

तो ये थी एसएआर कोड से जुड़ी सारी जानकारी। इस बारे में जानकर आपको कैसा लगा? यह हमें इस आर्टिकल के कमेंट सेक्शन में जरूर बताइएगा।

Recommended Video

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Photo Credit: Freepik, Shutterstock

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।