• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

सेफ्टी पेंडेट रखेगा आपको हर खतरे से सेफ

अपनी सेफ्टी को हल्के में ना लें और किसी पर भी निर्भर होने के बजाय सेफ्टी पेंडेट यूज़ करें। ये पेंडेट आपको हर तरह के खतरे से सुरक्षित रखेगा।  
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial
Published -04 Sep 2017, 18:53 ISTUpdated -13 Oct 2017, 11:51 IST
Next
Article
Safety pandent article image

वो जमाना गया जब केवल बस, ट्रेन और टैक्सी में ही छेड़खानी होती थी। अब तो बदमाशों की हिम्मत इतनी अधिक बढ़ गई है कि लड़कियां खुद की गाड़ियों में भी सेफ नहीं है। बस, ट्रेन, टैक्सी तो कभी अपने ही गाड़ी में लड़कियां आए दिन छेड़छाड़ और रेप की शिकार हो रही हैं। और हालात इतने बद्तर हो गए हैं कि लोगों को होने वाले इन छेड़खानी और रेप के बारे में मालुम भी नहीं चलता। 

ऐसे में लड़कियों की मदद के लिए कई सारी चीजें शुरू की जा रही हैं जिनमें technical help काफी helpful मानी जा रही है। इस technical help में हम केवल safety mobile help की बात नहीं कर रहे हैं। हम बात कर रहे हैं, safety pendet के बारे में, जिसका इस्तेमाल काफी आसानी से किया जा सकता है। 

 

Safety pandent article image

नेकलेस भी और हथियार भी - सेफ्टी पेंडेट

ये एक simple necklace की तरह दिखता है। लेकिन इस पेंडेट में एक मणि स्टील के खांचे में फिट की गई है। जो नीलम, पन्ना या हीरे की तरह दिखता है। ये दिखने में काफी सुंदर भी लगता है जिसके कारण आप इसे बेझिझक पार्टी या ऑफिस पहनकर जा सकती हैं। 

 

सेफ्टी पेंडेट की खासियत

ये सेफ्टी पेंडेट एक तरह का सेफ्टी गैजेट है जिसे विशेष तौर पर महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाया गया है। इसके मणि के पीछे एक चिप लगी हुई है जो एक मोबाइल एप से कनेक्ट होती है। यह एप गूगल मैप्स से जुड़ा रहता है। जिससे आप की लोकेशन गूगल मैप पर आसानी से देखी जा सकती है। ऐसे में यूजर की लोकेशन पर गूगल मैप्स के जरिए आसानी से पहुंचा जा सकता है। 

इसके अलावा पेंडेट में एक और खासियत जोड़ी गई है। इस मणि को जब आप प्रेस करेंगी तो आपके परिवार के किसी सदस्य के मोबाइल पर एक मैसेज चला जाएगा कि "आप मुसीबत में हैं" और गूगल मैप के जरिए आपके लोकेशन का पता लगाकर आप तक पहुंचा जा सकेगा। 

Safety pandent inside image

 

कंपनी ने इसलिए बनाया

महिलाओं की सुरक्षा के लिए इस पेंडेंट को "लीफ" नाम की कंपनी ने बनाया है। इस पेंडेंट को सेफर नाम दिया गया है। इस पेंडेंट को बनाने का ख्याल दिसंबर 2012 में हुए बहुचर्चित निर्भया कांड के बाद आया है। कंपनी ने कुछ ऐसी चीज बनाने की सोची थी जिससे की महिलाओं की जगह पर नजर रखकर उन तक पंहुचा जा सकेगा। 

Read More: सुप्रीम कोर्ट ने खुद के परिसर में सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाने के लिए दिए ₹5 लाख

अगर single mother हैं तो रोये नहीं, try करें ये career option

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।