पर्यावरण के गिरते स्तर में गाड़ियों का अहम् रोल हमेशा रहा है। इन गाड़ियों से निकलने वाली धुआं से हवा हमेशा दूषित होती रही हैं। यही वजह है कि आज- कल सभी का झुकाव डीजल या पेट्रोल के गाड़ियों पर न हो के ई-वाहन यानि बिजली से चलने वाली गाड़ियों पर अधिक है। हाल में ही दिल्ली के प्रगति मैदान में ई-वाहन एक्सपो लगा हुआ था। इस एक्सपो में मैं भी गया हुआ था, और मैंने ई-गाड़ियों में सम्बंधित कुछ जानकारियां इकठ्ठा किया जो आपके साथ शेयर कर रहा हू। अगर आप भी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी लेने जा रही हैं, तो लेने से पहले इन बातों पर ध्यान देने की ज़रूत है। तो चलिए जानते हैं उन 6 विशेष तथ्यों के बारे में जो ई-वाहन लेने से पहले आपको ध्यान देना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: गाड़ी खरीदने को लेकर महिलाओं का होता है अहम रोल, जानिए क्या कहते हैं ऑटो इंडस्ट्री के Expert  

1- इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों की किलोमीटर रेंज 

keep on mind  while purchasing electronic vehicle inside

इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी लेने से पहले आप अपने ध्यान में हमेशा ये बात याद रखें कि आपको कितने दूरी की सफर रोज तय करना है। इलेक्टॉनिक गाड़ियों की एक रेंज होती है। वो एक बार फुल चर्च करने पर एक निश्चित दुरी तक ही चलती है। तो आप जब भी कोई इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी लेने जाएं तो आप ये ज़रूर सोचे की क्या ये गाड़ी उतनी दुरी के सफर के लिए सही है या नहीं। बाजार में इलक्ट्रोनिक वाहन लगभग 60 से 120 किलोमीटर तक चलने वाली आपको गाड़ियां मिल जाएंगी। 

2- इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी की बैटरी पर ज़रूर ध्यान रखें 

keep on mind  while purchasing electronic vehicle inside

आपको इतना तो मालूम ही होगा की कोई भी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी बिना बैटरी के नहीं चलती है। आप जब भी ई-वाहन खरीदने जाएं तो ये ज़रूर देखें की उस गाड़ी के बैटरी की क्षमता कितनी है। ई-वाहन में बैटरी जितने अधिक वाट की होती है गाड़ी उतनी ही रेंज अधिक होती है। ये बात भी ज़रूर ध्यान रखें की क्या उस बैटरी को बाद में ख़राब होने पर बदला जा सकता है या नहीं।  

3- ई-गाड़ियों के सर्विस और पॉलिसी 

keep on mind  while purchasing electronic vehicle inside

अमूमन पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियों को सभी बड़े आराम से किसी भी सर्विस सेंटर पर जा के सही करा लेते हैं। लेकिन, आपको ये जानकारी होना चाहिए कि ई-गाड़ियों के साथ ऐसा नहीं है। ई-गाड़ियों के ख़राब होने पर आपको उसी ई-गाड़ि के सर्विस सेंटर पर ले कर जाना पड़ सकता है। तो अगर आप कोई भी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी ले रहे हैं तो उस कंपनी के सभी सर्विस, पॉलिसी और उसके वारंटी को ध्यान से ज़रूर देखें। 

Recommended Video

4- कीमत के मुताबिक ही ख़रीदे 

हाल में ही मैंने (लेखक) ने प्रगति मैदान में लगे एक ई-गाड़ियों के प्रदर्शनी में गया हुआ था। वहां जाने के बाद जब मैंने कुछ गाड़ियों के कीमत के बारे में जानकारी इकठ्ठा किया और जब सब गाड़ियों के कीमत का निष्कर्ष निकला तो लगा कि इन ई-गाड़ियों की कीमत किसी सामान्य गाड़ी से काम नहीं है। मैं इस बात को इस लिए आपके सामने रखना चाहत हू कि आप जब भी किसी ई-गाड़ी को लेने जाए तो एक बार आप ये तय कर ले की हमें इतने कीमत की गाड़ी चाहिए। क्योंकि ई-गाड़ी किसी सामान्य गाड़ी के कीमत के बराबर ही आता है। 

5- दूसरों से राय-विचार ज़रूर करें 

keep on mind  while purchasing electronic vehicle inside

आप इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी खरीदने जा रहे हैं तो एक बार इलक्ट्रोनिक गाड़ियों के जानकर से ज़रूर सुझाव ले। अगर आपके पड़ोस में या परिवार के किसी अन्य सदस्य ने कभी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी का इस्तेमाल किया है तो उनसे एक बार ज़रूर राय-विचार करें कि क्या इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी लेना सही रहेगा या नहीं। आप उनसे ये भी मालूम करें कि क्या दो पहिया वाहन लेना सही रहेगा या कोई और गाड़ी। 

इसे भी पढ़ें: Amazon Sale: सेल का उठाएं फायदा, अपने और घर के लिए इन बेस्ट सामानों पर  

6- गाड़ी के फीचर ज़रूर देखें 

keep on mind  while purchasing electronic vehicle inside

किसी भी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी को लेने से पहले उस गाड़ी के सभी फीचर के बारे में ज़रूर जानकारी रखें। दो पहियां गाड़ी हो या फिर फोर विलर गाड़ी हो। उसके फीचर के बारे में जान लेने के बाद ही गाड़ी को ख़रीदे। अमूमन हम किसी भी गाड़ी के एक-दो फीचर देख के उसे खरीद लेते हैं लेकिन इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी लेते समय उस गाड़ी के सभी फीचर देखना भूल जाते हैं। तो आप ऐसी गलती न करें और ई-वाहन लेते समय उसके सभी सुविधाओं पर एक बार ज़रूर ध्यान दे।