आज के समय में महिलाएं अपनी करियर ग्रोथ को लेकर काफी फिक्रमंद हैं। देश में अच्छे जॉब ऑफर्स के साथ वे विदेशों में मिल रहे मौकों का भी फायदा उठाना चाहती हैं, लेकिन विदेश जाने के लिए किस तरह से स्टूडेंट वीजा बनवाया जाए, इस बारे में महिलाओं को बहुत ज्यादा जानकारी नहीं होती। आपके लिए यह समझना जरूरी है कि आप जिस भी देश में आगे की पढ़ाई करना चाहती हैं, वहां के लिए आपको वीजा अप्लाई करना पड़ेगा।

how to get student visa inside

वीजा होने का मतलब है कि आपको उस देश में प्रवेश करने की अनुमति हासिल हो गई है। हर देश में वीजा पाने के लिए अलग-अलग तरह के प्रावधान हैं। अगर आप अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया या चीन में अच्छी जॉब के मौकों का फायदा उठाने के बारे में सोच रही हैं तो आपको इन देशों के वीजा से जुड़े नियमों के बारे में जान लेना जरूरी है-

अमेरिकी वीजा के लिए ये है प्रक्रिया

  • अमेरिका में पढ़ाई करने के लिए एफ-1 वीजा की जरूरत होती है। 
  • अमेरिका में सबसे पहले आप यह समझ लें कि आप किसी सीईवीपी अप्रूव्ड स्कूल में ही दाखिला लें। इस पर आपको फॉर्म आई-20 दिया जाएगा,  जिसे भरकर वीजा इंटरव्यू के समय जमा कराने की जरूरत होती है। 
  • वीजा एप्लिकेशन फॉर्म के साथ नॉन रिफंडेबल फीस भी जमा करनी होती है। अगर आप वीजा के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर रही हैं तो आपको डीएस-160 फॉर्म भी भरने की जरूरत पड़ेगी और आपको यह इंटरव्यू के समय साथ में ले जाना होगा। 
  • इंटरव्यू के टाइम आपको इनकम प्रूफ देने की भी जरूरत पड़ेगी कि आप एक साल तक यूएस में रहने का खर्च उठा सकती हैं। इसमें ट्यूशन फीस और यहां रहने का खर्च शामिल है। यूएस में पढ़ाई के लिए आपको टॉफेल या आइल्ट्स टेस्ट भी पास करना होगा। 
  • आई-20 फॉर्म की ऑरिजनल कॉपी, जिस स्कूल में आप एडमिशन लेना चाहती हैं, वहां से साइन्ड एलिजिबिलिटी का सर्टिफिकेट और तकरीबन 11 हजार की फीस चुकानी होगी। 
  • फॉर्म जमा करने के बाद आपको फिंगरप्रिंट्स और फोटो भी जमा कराने होंगे और इसके साथ ही आपको अमेरिकन एंबेसी में इंटरव्यू के लिए अपॉइंटमेंट लेना होगा। 
 
how to get student visa inside

ऑस्ट्रेलिया से इस तरह मिलेगा वीजा

  • ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई करना चाहती हैं तो वीजा सबक्लास 500 के लिए आपको अप्लाई करना पड़ेगा। वीजा की प्रक्रिया पूरी होने में 12 हफ्तों का समय लग सकता है, इसीलिए वक्त पर वीजा के लिए अप्लाई कर दें। 
  • एप्लिकेशन के साथ आपको लगभग 30,000 रुपये की फीस भी चुकानी होगी। 
  • पासपोर्ट, मेडिकल फॉर्म की कॉपी जमा करानी होगी। 
  • यूनिवर्सिटी में एनरोलमेंट का कन्फर्मेशन फॉर्म के साथ ही जमा कराना होगा। 
  • आइल्ट्स एक्जाम का रिजल्ट, जिससे आपका मनचाहा स्कोर हो, साथ में अटैच करना होगा। 
  • आपको इस बात का सबूत देना होगा कि आप ऑस्ट्रेलिया में एक साल रहने का खर्च उठा सकती हैं। 
  • सारे एकेडेमिक सर्टिफिकेट और वर्क एक्सपीरियंस आपको आवेदन देने के साथ ही जमा कराने होंगे। 

चीन के लिए इस तरह मिलेगा वीजा

  • पिछले कुछ सालों में चीन पढ़ाई के लिए जाने वाले स्टूडेंट्स की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। अगर आप भी चीन जाने  का मन बना रही हैं तो आपको इन प्रक्रियाओं का ध्यान रखने की जरूरत होगी-
  • आपके पासपोर्ट में तीन खाली पेज होने जरूरी हैं।
  • वीजा अप्लाई करने के 6 महीने के दौरान आपका पासपोर्ट वैध होना जरूरी है। 
  • आपके पासपोर्ट के आइडेंटिफिकेशन पेज की एक कॉपी वीजा के साथ अटैच करें। 
  • जिस यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिला है, वहां से इन्वेस्टिगेशन या एक्सेपटेंस लेटर साथ में अटैच कर लें। 
  • अपने प्लेन टिकट की कॉपी या ई-टिकट की कॉपी वीजा एप्लिकेशन के साथ अटैच करें। 
  • आपकी पासपोर्ट साइज फोटो, एप्लिकेशन फॉर्म के अनुसार होना चाहिए और फोटो व्हाइट बैकग्राउंड में ही खिंची होनी चाहिए। 
  • अगर आपको 180 दिनों से ज्यादा समय तक चीन में रहना है तो आपको अपने फिजिकल एक्जामिनेशन का ब्यौरा भी देना होगा। 
  • चाइनीज एंबेसी में इंटरव्यू के दौरान आपको एक अंतरराष्ट्रीय भाषा चुनने की जरूरत होगी, जिसमें आप अंग्रेजी चुन सकती हैं। 
Loading...
Loading...