अच्छा! अगर आपसे यह सवाल किया जाए कि गणेश जी की सबसे ऊंची मूर्ति कहां मौजूद है? तो संभवत आपका जवाब होगा भारत के ही किसी राज्य में होगी। शायद, आप महाराष्ट्र राज्य का नाम सबसे पहले बोले। क्यूंकि, भारत में सबसे अधिक गणेश जी की पूजा महाराष्ट्र में ही होती है। लेकिन, जब आपसे ये बोला जाए कि ये मूर्ति भारत में नहीं बल्कि एशिया के किसी अन्य देश में मौजूद है, तो यक़ीनन आपका जवाब नेपाल, कम्बोडिया या मलेशिया हो सकता है।

लेकिन, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत, नेपाल, कम्बोडिया या मलेशिया में नहीं बल्कि, ये मूर्ति थाईलैंड में है। जी हां, एशिया में गणेश जी की सबसे विशाल मूर्ति थाईलैंड में है। आज इस लेख में हम आपको इस मूर्ति के बार में करीब से बताने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं इसके बारे में।

थाईलैंड के किस शहर में है मूर्ति  

tallest ganesh idol in thailand inside

आपको बता दें कि ये मूर्ति थाईलैंड के ख्लॉन्ग ख्वेन शहर में मौजूद है। ख्लॉन्ग ख्वेन शहर को कई लोग चाचोएंगशाओ (Chachoengsao) नाम से भी जानते हैं। इसे 'सिटी ऑफ गणेश' के नाम से जाना जाता है। ये मूर्ति लगभग 40 मीटर उंची है जो पूर्ण रूप से कांस्य धातु द्वारा निर्मित है। इस मूर्ति को एक इंटरनेशनल पार्क में बनवाया गया है, जहां हर साल लाखों भारतीय सैलानी भी घूमने के लिए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: जरूर जाएं दिल्ली के इन 6 मंदिरों में दर्शन करने

कब बनकर तैयार हुई मूर्ति 

tallest ganesh idol in thailand inside

इस मूर्ति को देखकर कई लोग ये अंदाज़ा लगाते हैं कि ये मूर्ति सदियों पुरानी है। लेकिन, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये मूर्ति सदियों पुरानी नहीं, बल्कि इसका निर्माण वर्ष 2012 में किया गया था। साल 2008 से लेकर साल 2012 के बीच मूर्ति बनकर तैयार हुई थी। इस जगह को पहले पार्क में तब्दील किया गया फिर कुछ वर्षों बाद इस पार्क में गणेशा जी की मूर्ति की स्थापना की गई। लगभग 800 से अधिक कांस्य के हिस्से को मिलाकर इस मूर्ति का निर्माण किया गया है। (देखिए दुनिया के 10 सबसे भव्य मंदिरों की एक झलक)

Recommended Video

मूर्ति की संरचना 

tallest ganesh idol in thailand inside

इस मूर्ति को लेकर कहा जाता है कि इस मूर्ति का निर्माण कुछ इस तरह किया गया है कि किसी भी तूफान और भूकंप के आने पर भी इसको कोई नुकसान नहीं हो सकता है। गणेश जी के हाथों में कई फलों को देखा जा सकता है। उनके पेट पर सांप और सूंड में एक लड्डू है और पैरों में चूहा बैठा देखा जा सकता है। आपकी जानकारी के लिए ये बता दें कि थाईलैंड में भाग्य और सफलता के देवता के रूप में गणेशा जी को पूजा जाता है। (विश्व के सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर अंगकोर वाट!)

इसे भी पढ़ें: गोल्डन टेंपल ही नहीं, पंजाब के इन मंदिरों की भी है अपनी एक आस्था

अन्य विशाल मूर्तियों के बारे में 

tallest ganesh idol in thailand inside

भारत के बारे में जिक्र करें तो कहा जाता है कि इंदौर में स्थित गणपति की 25 फीट ऊंची मूर्ति भारत की सबसे ऊंची मूर्ति है। इस मूर्ति की स्थापना 1875 में की गई थी। हालांकि, कई लोगों का यह भी मानना है कि उत्तर प्रदेश के संभल जिले में भी भारत की सबसे ऊंची गणेश जी की मूर्ति मौजूद है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@pbs.twimg.com,www.telanganamata.com)