क्या आपके साथ ऐसा हुआ है कि आप किसी इंटरनेशनल ट्रिप पर गए हों और वहां आप अपने देश एक खाने को मिस कर रहे हो? अगर आपका जवाब हां हैं तो आपको बता दें कि यह सिर्फ आपके साथ नहीं बल्कि बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर के साथ भी होता होता है।

जी हां, श्रद्धा जब भी कहीं बाहर जाती हैं तो अपने देसी फ़ूड को बहुत मिस करती हैं। घर से दो दिन के लिए भी बाहर जाती हैं तो माँ के हाथ से बने कुछ स्नैक्स ज़रूर अपने साथ ले जाती हैं। नेशनल और इंटरनेशनल ट्रिप्स की शौक़ीन तो हैं मगर जब बात आती है खाने की तो इंडियन खाने से बेहतर श्रद्धा को कुछ नहीं लगता। श्रद्धा ने हमसे अपने इस देसी फ़ूड लव के बारे में और भी बाते की हैं, आइये जानते हैं।

shardha kapoor travel tips

मैं ही नहीं पूरी फैमिली है देसी फ़ूड की दीवानी

श्रद्धा ने बताया कि वो हाल ही में अपने पिता शक्ति कपूर, माँ शिवांगी और भाई सिद्धांत के साथ फ्रांस ट्रिप के लिए गई थीं। अपनी फ़िल्म ‘स्त्री’ के प्रमोशन से पहले वो एक स्ट्रेस बस्टर हॉलिडे चाहती थीं और अपनी फैमिली से बेहतर ट्रेवल पार्टनर्स उन्हें कोई नहीं लगता क्यूंकि उनकी पूरी फैमिली एक जैसी है।

श्रद्धा कहती हैं कि हम सभी की चॉइस एक जैसी है, डेस्टिनेशन डिसाइड करने से लेकर बैग पैक करने के स्टाइल तक हम सब एक जैस हैं। सबसे ख़ास बात यह है कि हम सभी इंडियन फ़ूड के दीवाने हैं। हम हर ट्रिप की तराह इस ट्रिप में भी अपने साथ बहुत सारे इंडियन फ़ूड लेकर गए थे। हमारे एक बैग में सिर्फ खाने का ही सामान था अजिसे, थेपला, खाखरा, इंस्टेंट भेल, पैकेट टी और बहुत सारे इंडियन होम मेड स्नैक्स!

shardha kapoor travel tips

हर ट्रिप में खोज होती है इंडियन रेस्तरां की

श्रद्धा बताती हैं कि हम हर साल कहीं ना ट्रिप प्लान करते हैं। मुझे लगता है फैमिली टाइम ही सबसे बेस्ट टाइम होता है और मेरे लिए यह बहुत ज़रूरी भी होता है। हम सब ही जब भी कहीं घूमने निकलते हैं तो साथ सतह में इंडियन रेस्तरां भी ढूंढ़ते हैं। हाल ही में जब मैं फ्रांस गई थी तो यह हमारा 9 दिन का ट्रिप था जिसमें से 4 दिन तो हम इंडियन रेस्तरां में ही खाना खा रहे थे। और बाकी के दिन घरसे लाया हुआ स्नैक्स और थोड़ा बहुत लोकल फ़ूड और फ्रूट्स खाए।

आपको बता दें कि श्रद्धा जब शूटिंग कर रही होती है तब भी बाहर का कुछ नहीं खाती। घर पर बने खाने का एक बड़ा सा डब्बा उनके साथ हमेशा होता है जिसे वो अपने कास्ट और क्रू के साथ बांटकर खाती हैं।