• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

IRCTC Luggage Rules 2022 : 'लगेज फी' को लेकर रेलवे की नई गाइडलाइन हुई जारी

ट्रेन में सात्विक भोजन को लेकर तो आपकी प्रोबल्म सॉल्व हो गई है, लेकिन रेलवे के नए रूल का आप क्या करेंगे?
author-profile
Published -05 Jun 2022, 16:21 ISTUpdated -08 Jun 2022, 09:46 IST
Next
Article
indian railway new luggage rules

क्या आपको पता है कि भारत में चौथा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है जिसमें 22,593 से अधिक परिचालन ट्रेनें हैं और जिसमें 24 मिलियन यात्री रोजाना यात्रा करते हैं। रेलवे भारते में कहीं जाने का सबसे सरल विकल्प है। ट्रेन का सफर आदमी बड़े ही आराम से करता है। इसमें खाने-पीने से लेकर सोने की सारी सुविधा आपको मिलती है। आपके पास कितना भी सामान हो यात्री बड़े आराम से ट्रेन में यात्रा कर सकता है।

ऐसे में कई यात्रियों के साथ दो तरह की समस्याएं हो सकती हैं, एक उन्हें सात्विक भोजन की कमी महसूस होती है और दूसरा कई लोग बहुत सारे सामान के साथ यात्रा करते हैं। मगर क्या आपको पता है कि रेलवे के नए नियम के मुताबिक आपके लिए बहुत सारा सामान ले जाना आपको भारी पड़ सकता है?

हालांकि खाने को लेकर आईआरसीटीसी ने जो पहल शुरू की है, उससे सात्विक भोजन ढूंढने वालों के मजे हैं। आईआरसीटीसी के इन दो नए फैसलों के बारे में आइए विस्तार से जानें-

रेल यात्रा के दौरान सात्विक भोजन?

अब आप हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर अपनी यात्रा के दौरान ई-कैटरिंग सर्विस द्वारा गोविंदा रेस्टोरेंट से सात्विक भोजन की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। आपको बता दें कि दिल्ली के इस्कॉन मंदिर द्वारा गोविंदा रेस्टोरेंट चलाया जाता है और उसी के तहत इस सुविधा को यात्रियों के लिए शुरू किया गया है। इसमें आप डिलक्स थाली, महाराजा थाली, पुरानी दिल्ली वेज बिरयानी, वेज डिमसुम, पनीर डिम सुम, वोक टॉस नूडल्स, दाल मखनी सहित कई चीजों का आनंद ले सकेंगे। 

इसे भी पढ़ें : बिना नाम के भी सालों से आबाद हैं ये 2 अनोखे रेलवे स्टेशन, जानें रोचक वजह

sattvic food in trains

कैसे बुक करें सात्विक भोजन?

अगर आप हजरत निजामुद्दीन लाइन से यात्रा कर रहे हैं, तो आप आईआरसीटीसी की ई-कैटरिंग वेबसाइट www.ecatering.irctc.co.in पर जाकर स्टेशन से स्पाइसी वैगन फूड एग्रीगेटर के जरिए इस्कॉन मंदिर, दिल्ली के गोविंदा रेस्टोरेंट से भोजन बुक कर सकते हैं। खाना बुक करने के बाद यह आपकी बर्थ पर ही आपको डिलिवर हो जाएगा।

भारतीय रेलवे का नया नियम क्या है?

रेलवे के मुताबिक, एसी फर्स्ट क्लास में 70 किलोग्राम तक और एसी सेकंड क्लास में 50 किलोग्राम तक फ्री लगेज की अनुमति है। एसी 3-टियर स्लीपर, एसी चेयर कार और स्लीपर क्लास में 40 किलोग्राम तक का सामान ले जाने की अनुमति होगी। इसके अतिरिक्त 2-क्लास की सीमा 25 किलोग्राम तक है। वहीं न्यूनतम सामान शुल्क 30 रुपये होगा।

रेल मंत्रालय ने हाल ही में यात्रियों को अपने आधिकारिक सोशल मीडिया ट्विटर हैंडल के माध्यम से ट्रेनों में अतिरिक्त सामान के साथ यात्रा नहीं करने का आग्रह किया है। मंत्रालय ने एक हिंदी ट्वीट में कहा कि अतिरिक्त सामान के साथ यात्रा करने से यात्रा का मजा आधा हो जाता है! अधिक बैग लेकर ट्रेन से न जाएं। यदि आपके पास अतिरिक्त सामान है, तो पार्सल कार्यालय जाकर बुक करें। आइए आपको इस नए नियम के बारे में विस्तार से बताएं (IRCTC बुकिंग टिप्स)।

luggage rule irctc

ज्यादा सामान होने पर क्या करें?

आप जिस ट्रेन में जा रहे हैं उसी में अगर अपना अतिरिक्त सामान ले जाना चाहें, तो उसके लिए आपको 30 मिनट पहले लगेज ऑफिस में जाकर बुकिंग करवानी होगी। आप जब अपना टिक बुक कराते हैं, तब भी सामान की एडवांस बुकिंग करवाई जा सकती है। आईआरसीटीसी ने यह भी स्पष्ट किया है कि अगर आपने लगेज को सही ढंग से पैक नहीं किया होगा तो उसकी बुकिंग नहीं की जाएगी।

इसे भी पढ़ें : IRCTC लेकर आया है 6 दिन का खास अंडमान टूर पैकेज, पढ़ें पूरी डिटेल

अनबुक्ड लगेज पर पड़ेगा जुर्माना

अगर आप यात्रा के दौरान या फिर स्टेशन पर फ्री सीमा से अधिक अनबुक्ड लगेज के साथ दिखाई देंगे तो आपको भारी जुर्माना चुकाना पड़ेगा। जी हां, फ्री लगेज के बाद आपके ज्यादा लगेज पर लगेज स्केल रेट से छह गुना ज्यागा जुर्माना वसूला जाएगा। हालांकि, अगर बिना बुक किए या आंशिक रूप से बुक किए गए सामान की पकड़ा जाता है और वो फ्री अनुमति से अधिक और सीमांत भत्ते के भीतर होता है, तो इसे लगेज स्केल रेट से 1.5 गुना चार्ज किया जाएगा।

एक तरफ खाने को लेकर चिंता खत्म हुई तो लगेज को लेकर चिंता बढ़ जाएगी, क्योंकि ट्रेन से कई सारा सामान ले जाया सकता है। आपकी इन दोनों खबरों पर क्या राय है, हमें जरूर बताएं। अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। ऐसे अन्य नियमों के बारे में जानने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

Image Credit: Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।