Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    बेहद खास है यह महालक्ष्मी मंदिर, सभी मुरादें होती हैं पूरी

    अगर आप भी माता महालक्ष्मी जी के भक्त हैं तो आपको इस मंदिर का दर्शन करने ज़रूर जाना चाहिए। सभी मुरादें होती हैं पूरी।  
    author-profile
    Updated at - 2022-10-21,08:53 IST
    Next
    Article
    mahalakshmi temple mumbai know history in hindi

    सनातन काल से हिन्दू धर्म के मां लक्ष्मी सबसे पूजनीय देवी में एक हैं। आज भी हर भारतीय घर मां लक्ष्मी की पूजा-पाठ होते रहती है ताकि घर में धन की कमी न हो मां का आशीर्वाद बना रहें। 

    धनतेरस और दिवाली के शुभ मौके पर भारत के किसी-किसी स्थान पर धूमधाम के साथ मां लक्ष्मी की पूजा-पाठ होती है। कई लोग इस शुभ मौके पर पवित्र और फेमस लक्ष्मी मंदिर का दर्शन करने भी पहुंचते हैं।

    भारत में एक ऐसा ही महालक्ष्मी मंदिर जिसके बारे में कहा जाता है जो भी भक्त सच्चे मन यहां पहुंचता है तो खाली हाथ नहीं जाता है। इस लेख में हम आपको इसी मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं।

    कहां है महालक्ष्मी मंदिर?

    mahalakshmi temple mumbai history

    जी महालक्ष्मी मंदिर के बारे में हम आपसे जिक्र कर रहे हैं वो किसी और राज्य में नहीं बल्कि मायानगरी यानी मुंबई में स्थित है। समुद्र के किनारे स्थित यह मंदिर मुंबई के साथ-साथ अन्य शहरों के लोगों के लिए बेहद ही पवित्र स्थान है। आपको बता दें कि यह मुंबई के भूलाभाई देसाई मार्ग पर स्थित है। यहां हर समय भक्तों की भीड़ लगी रहती हैं।  

    इसे भी पढ़ें: खूबसूरती का बेजोड़ नमूना है सागर, आप भी एक बार घूमने पहुंचें

    महालक्ष्मी से जुड़े मिथक क्या है?

    about mahalakshmi temple mumbai

    इस महालक्ष्मी मंदिर का इतिहास बेहद ही दिलचस्प है। कहा जाता है कि बहुत पहले मुबई शहर में वर्ली और मालाबार हिल जो पुल के माध्यम से जोड़ने का काम चल रहा था। हजारों कारीगर काम ले लगे हुए थे मगर दीवार बनाने में परेशानी हो रही थी। कई दिनों तक प्रयास करने के बाद ही दीवार खाड़ी नहीं हो पाई और कार्य को छोड़ना पड़ा। (रावण के ससुराल में है कुबेर मंदिर?)

    इसी बीज एक व्यक्ति ने सपना देखा कि मां लक्ष्मी उससे बोल रही हैं कि 'वर्ली में समुद्र किनारे एक मूर्ति है और उस मूर्ति को लाकर समुद्र किनारे मेरी स्थान करों। इससे तुम्हारी समस्या दूर हो जाएगी'।

    सपना सुनने के बाद उस व्यक्ति ने कुछ ऐसा ही किया और बाद में दीवार खाड़ी हो गई। इस घटना के बाद मूर्ति हर जगह फेमस हो गई।

    Recommended Video

    महालक्ष्मी के साथ अन्य देवी की मूर्ति 

    कहा जाता है साल 1813 के आसपास इस छोटे से मंदिर को बड़ा स्वरूप दिया गया। इस मंदिर में महालक्ष्मी जी के साथ-साथ महाकाली की भी प्रतिमा स्थापित है। यह स्थापित देवियों को बड़े ही सुंदरता के साथ सजाया गया है। कहा जाता है कि इस मंदिर में महालक्ष्मी जी को शेर पर सवार दिखाया गया है जो राक्षश का वध कर रही हैं।

    इसे भी पढ़ें: इस कुबेर मंदिर में दर्शन मात्र से भक्तों की सभी मुरादें हो जाती हैं पूरी


    धनतेरस और दिवाली पर भक्तों भी होती हैं भीड़ 

    know about mahalakshmi temple mumbai

    आमतौर यहां हर समय भक्तों की भीड़ होती हैं, लेकिन धनतेरस और दिवाली के समय कुछ अधिक भी भीड़ होती है। कहा जाता है दिवाली से पहले हर रोज लाखों भक्त दर्शन के लिए पहुंचते हैं। यह सिर्फ मुंबई ही नहीं बल्कि देश भर से लोग पहुंचते हैं। (धन्वंतरि मंदिर दर्शन करने पहुंचें)

    इस मंदिर को लेकर यह मान्यता है कि मंदिर के दीवार पर जो भी भक्त सिक्के चिपकते हैं उनकी सभी मुरादें पूरी हो जाती हैं।

    अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

    Image Credit:(@punyadarshan)

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।