खाने को पकाने के कई तरीके होते हैं और इन्हीं में से एक है ग्रिलिंग। जब फूड को ग्रिल किया जाता है तो इससे आपको एक स्मोकी फ्लेवर मिलता है। वैसे फूड को ग्रिल करना वास्तव में एक कला है और अगर सही तरह से ग्रिलिंग किया जाए तो इससे आपको एक अलग ही टेस्ट मिलता है। वैसे तो आप भी कई बार अपने फूड को ग्रिल करती होंगी, लेकिन चिकन को ग्रिल करना यकीनन काफी मुश्किल होता है। जो महिलाएं नॉन-वेजिटेरियन हैं, वह इस बात को बेहद अच्छी तरह से समझ सकती हैं। दरअसल, घर पर चिकन को ग्रिल करते हुए कभी भी रेस्टोरेंट स्टाइल फ्लेवर नहीं मिलता और आपको समझ नहीं आता कि आखिरकार गलती आपसे कहां हो रही है।

हो सकता है कि आपने इंटरनेट पर कई बार वीडियो भी देखे हों, लेकिन फिर भी आपको अपनी मिसटेक के बारे में ना पता चला हो। अगर आपको भी अक्सर यह समस्या होती है तो आप इस लेख को जरूर पढ़ें। इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी ही मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जिसे अक्सर महिलाएं चिकन को ग्रिल करते हुए बार-बार दोहराती हैं-

हाई हीट का इस्तेमाल

chicken grilled mistakes

यह वास्तव में एक मिथ है कि मीट (मटन निहारी रेसिपी) को ग्रिल करने के लिए हाई हीट की जरूरत होती है और इसलिए जब आप हाई हीट पर मीट को ग्रिल करती हैं तो इससे वह टेस्ट नहीं आता। मीट को पूरी तरह से पकाने के लिए, मध्यम-उच्च गर्मी आदर्श तापमान है जो लगभग 350 डिग्री है। इससे अधिक तापमान आपकी डिश को खराब कर सकता है।

इसे जरूर पढ़ें- आलू के अनोखे हैं फायदे, जो अब तक नहीं होंगे आपको मालूम

थर्मामीटर की उपेक्षा करना

chicken grilled mistakes

यदि आपको लगता है कि मीट थर्मामीटर का उपयोग करना बहुत अधिक फैंसी या थका देने वाला है, तो हम आपको बता दें कि यह वास्तव में चिकन को सही तरीके से ग्रिल करने का एक स्मार्ट तरीका है। चिकन (चिकन फ्रिटर्स रेसिपी) को सही तरह से ग्रिल करने के लिए, आदर्श इंटरनल टेंपरेचर 165ºF होना चाहिए और जिसे केवल थर्मामीटर की मदद से जांचा जा सकता है।

Recommended Video

ग्रिलिंग का समय

chicken grilled mistakes

चिकन को ग्रिल करने का समय मीट के कट साइज पर निर्भर करता है। उदाहरण के लिए, चिकन ब्रेस्ट को ग्रिल करने के लिए अन्य भागों की तुलना में अधिक समय की आवश्यकता होगी। इसलिए हर बार चिकन को ग्रिल करते हुए उतना ही समय लगाने से आपका चिकन पूरी तरह नहीं पकेगा।  

बहुत जल्दी सॉस डालना

chicken grilled mistakes

चिकन को ग्रिल करते हुए आप जिस सॉस का इस्तेमाल करती हैं, उसमें शुगर कंटेंट हाई होता है। इसलिए ग्रिलिंग के शुरूआत में चिकन में सॉस डालने से क्रस्ट कैरेमेलाइज हो सकता है। इसके बाद आपके लिए यह तय करना मुश्किल होगा कि चिकन एकसमान रूप से पका है या नहीं।

इसे जरूर पढ़ें- इन आसान तरीकों से पहचानें कि मार्केट में मिलने वाला मक्खन असली है या नकली

ग्रिल का गंदा होना

chicken grilled mistakes

ग्रिल पर खाना पकाने से पहले यह बेहद जरूरी है कि आप उसे अच्छी तरह साफ करें। इस पर लगे जंग को पहले क्लीन करें। इसलिए, आप ब्रिस्टल-रहित ब्रश या नायलॉन कपड़े की मदद से ग्रिल को साफ करें। यदि आपके पास दोनों में से कोई नहीं है, तो आप एल्यूमीनियम फॉयल को छोटे टुकड़े में क्रश करें। आप इसे रसोई के चिमटे की मदद से उपयोग कर सकती हैं।

इस लेख को पढ़ने के बाद अब आपके लिए भी घर पर रेस्टोरेंट स्टाइल ग्रिल्ड चिकन का टेस्ट कर पाना काफी आसान हो गया होगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।