पुलवामा श्रीनगर से बत्‍तीस किलोमीटर दूर बसा जम्मू-कश्मीर का एक छोटा सा शहर है। पुलवामा जम्मू-कश्मीर का सांस्कृतिक रूप से समृद्ध जिला है और चावल के अधिक उत्पादन की वजह से इसे 'राइस बाउल ऑफ कश्मीर' कहा जाता है। पहले इसे 'पुलगाम' या 'पनवंगम' के नाम से जाना जाता था। सोलहवीं शताब्दी में पुलवामा पर मुगलों का शासन था और उन्‍नीसवीं शताब्दी में अफगानों ने यहां राज किया। पुलवामा सेब के बगीचे, प्राकृतिक झरने और प्राकृतिक घाटियों से सजा है, इसलिए यह शहर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षण करता है। इसके अलावा यह शहर ट्रेकिंग, स्कीइंग और स्नोबोर्डिंग जैसी रोमांचक गतिविधियों के लिए भी फेमस है।

 complete information about pulwama inside

इसे जरूर पढ़ें: बिल्‍कुल आगरा के ताजमहल जैसा दिखता है 'गरीबों का ताजमहल', जानें इसके पीछे की दिलचस्‍प कहानी

पुलवामा के फेमस पर्यटक स्थल-

पायेर मंदिर

पुलवामा से तीन किलोमीटर दक्षिण में स्थित यह मंदिर सबसे लोकप्रिय धार्मिक स्‍थलों में से एक है, इसे पेटेक मंदिर भी कहा जाता है। इस मंदिर की वास्तुकला के बारे में कहा जाता है कि दसवीं शताब्दी में इसे एक एकल पत्थर से तराशा गया था। इसकी अनूठी वास्तुकला अभी भी अपने प्राचीन अतीत को बरकरार रखे हुए है, जो वाकई में देखने लायक है।

Recommended Video

अहरबल झरना

पुलवामा खूबसूरत झरनों का शहर है और उन्‍हीं में से एक है अहरबल झरना जो बेहद खूबसूरत है। यह झरना पीर पंजाल पहाड़ों में घने देवदार पेड़ो की घाटी से पच्‍चीस मीटर नीचे गिरने वाली विशभ नदी की धारा है। यह जम्मू-कश्मीर घाटी (सोनमर्ग के ये 5 खूबसूरत डेस्टिनेशन) का सबसे फेमस और विशाल झरना है। पर्यटक यहां फ्लाई फिशिंग, राफ्टिंग, ट्रेकिंग जैसी गतिविधियों का आंनद लेते है।

 complete information about pulwama inside

 

अवंतीश्वर मंदिर

पुलवामा जिले के जौबरी गांव में स्थित अवंतीश्वर मंदिर यहां के सबसे ऐतिहासिक तीर्थ स्थानों में से एक है। यह भगवान विष्णु और भगवान शिव का मंदिर है, इसे नौवीं शताब्दी में राजा अवंति वर्मा ने बनवाया था। आपको बता दें झेलम नदी के तट पर स्थित यह मंदिर पुरातत्व सर्वेक्षण के रखरखाव के अंतर्गत संरक्षित है।

तरस और मानसर झील

पुलवामा जिले में नागबरन गांव से लगभग तीन किलोमीटर और पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित तरस और मानसर दो खूबसुरत झीलें है। मानसर झील दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान के करीब स्थित है, इन दोनों झीलों को जुड़वां बहन कहा जाता हैं। यहां पर्यटक और स्थानीय लोग पिकनिक मनाने के लिए आते हैं। साथ ही, यहां के ट्रेक कश्मीर घाटी (कश्मीर की सबसे खूबसूरत जगहें) के सबसे लोकप्रिय ट्रेक में से एक है।

 complete information about pulwama inside

मुगल रोड

पुलवामा की प्राकृतिक खूबसूरती की बात ही निराली है। यहां का ऐतिहासिक मुगल रोड काफी फेमस है। इस रोड पर अहरबल झरना, शिकारगाह, अरीपाल नाग, हुरपुरा और तरस और मानसर झील है, जिनकी खूबसूरती देखते ही बनती है।

जामा मस्जिद शोपियां

पीर पंजाल के पास मुगल रोड पर स्थित जामा मस्जिद मुस्लिम समुदाय वालों के लिए प्रमुख आस्था केन्द्रों में से एक है। इसका निमार्ण मुगल काल के दौरान किया गया था और उस दौर में यह मस्जिद कश्मीर वापस जाने वाले मुगलों के मार्ग का प्रमुख पड़ाव हुआ करता था। यह मस्जिद आज भी कश्मीर (कश्मीरी फेस्टिवल के बारे में जानें) का एक प्रमुख आकर्षण है।

 complete information about pulwama inside

कौसरनाग झील

समुद्र तल से चार हजार मीटर की ऊंचाई पर स्थित पुलवामा का कौसरनाग झील यहां के सबसे आकर्षक जगहों में से एक है। इस झील की सबसे खास बात यह है कि गर्मियों के मौसम में भी इसमें बर्फ जमी रहती है, जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यहां ट्रेकिंग, स्कीइंग, घुड़सवारी और फोटोग्राफी जैसी गतिविधियों को एन्जॉय किया जा सकता है। 

पुलवामा घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

हिमालय पर्वतमाला के बीच में स्थित पुलवामा का मौसम वैसे तो पूरे साल सुहाना रहता है, लेकिन यहां घुमने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से अक्टूबर का महीना है।

कैसे पहुंचे पुलवामा-

सड़क मार्ग से

अगर आप सड़क मार्ग से जाना चाहती हैं तो यहां जाने के लिए कई निजी और राज्य सरकार द्वारा संचालित बस सेवाएं चलती हैं, जो पुलवामा को जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग शहरों से जोड़ती है। इसके अलावा आप टैक्सी और निजी वाहन से भी यहां जा सकती हैं।

ट्रेन से

अगर आप ट्रेन से जाना चाहती हैं, तो पुलवामा का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन श्रीनगर रेलवे स्टेशन है, जो यहां से लगभग छब्‍बीस किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आपको बता दें दिल्ली और श्रीनगर के बीच कोई सीधी ट्रेन नहीं है, इसीलिए बेहतर यह होगा कि आप पहले ट्रेन से जम्मू जाएं फिर वहां से पुलवामा के लिए बस या टैक्सी लें।

 complete information about pulwama inside

इसे जरूर पढ़ें: एक ऐसा देश जहां 40 मिनट की होती है रात, जानें इस शहर की खास बात

फ्लाइट से

श्रीनगर हवाई अड्डा पुलवामा शहर का निकटतम हवाई अड्डा है, जो पुलवामा से तीस किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। तकरीबन सभी प्रमुख शहरों से श्रीनगर के लिए कई उड़ानें उपलब्‍ध है, यहां से आप टेक्सी या बस से पुलवामा पहुंच सकती हैं। अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो जुड़ी रहिए हमारे साथ। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए पढ़ती रहिए हरजिंदगी।

Photo courtesy- (c1.hiqcdn.com, spiderimg.amarujala.com, adotrip.com, cdn.dnaindia.com, lh3.googleusercontent.com, holidify.com,kashmirconvener.com, i.dawn.com)