जीवनभर हेल्दी रहने की ख्वाहिश तो हर किसी की होती है, लेकिन जीवनभर हेल्दी कोई रह नहीं पाता है। क्यों?

क्योंकि लोग मानते हैं कि हेल्दी रहने के लिए केवल हेल्दी ही खाना जरूरी है। जबकि यह आधा सत्य है। हेल्दी रहने के लिए अच्छा खान-पान तो होना ही चाहिए लेकिन इसके साथ में खाने की सही टाइमिंग भी काफी मायने रखती है। 

खाना तो सभी खाते हैं और हेल्दी ही खाते हैं। लेकिन फिर भी लोग बीमार पड़ जाते हैं। ऐसा खाना सही टाइम पर ना खाने की वजह से होता है। आजकल की भागती-दौड़ती जिंदगी में किसी के पास बी बैठकर अच्छे से खाने का समय नहीं है। खासकर महिलाओं के पास तो अपने लिए बिल्कुल भी टाइम नहीं होता है। सुबह-सुबह सबके टीफिन पैक करने के दौरान महिलाएं जो थोड़ा-बहुत खा लेती हैं उसके बाद सीधे लंच करती हैं। 

वहीं कॉलेज और कॉलेज जाने वाली लड़कियां बिस्तर में बैठे-बैठे नाश्ता कर लेती है। ब्रेकफास्ट करने का ये तरीका भी हमारे स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है। 

ऑफिस की टाइमिंग

इसलिए आज हम आपको बताते हैं कि क्या होना चाहिए आपके खाने-पीने का सही समय क्या होता है। 

ब्रेकफास्ट: 7 बजे से लेकर 9

food timing according to diet inside

ब्रेकफास्ट का आइडियल समय सुबह 7 बजे होता है। लेकिन आप 9 बजे तक भी नाश्ता कर सकती हैं। किंतु हाउसवाइव्स शायह ही इन टाइम पर ब्रेकफास्ट करती होंगी। हमेशा 11 बजे तक ब्रेकफास्ट करती हैं। जिससे लंच के समय भूख नहीं लगती है और फिर दिन का लंच उन्हें स्किप करना पड़ता है। 

इसलिए अधिकतर हाउसवाइव्स ब्रेकफास्ट और लंच एक साथ 11- 12 बजे करती हैं। लेकिन ब्रेकफास्ट स्किप करने से बॉडी का मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है जिससे खाना देर से पचता है और कब्ज व मोटापे की शिकायत होती है। इसलिए सुबह का नाश्ता कभी स्किप नहीं करना चाहिए। 

ब्रेकफास्ट पूरी तरह से पौष्टिक होना चाहिए जैसे ओट्स , ब्रेड, उपमा, दूध , जूस, अंडे आदि।

लंच: 12 से 2 बजे

food timing according to diet inside

लंच के लिए आइडियल समय 1 से 2 बजे तक के बीच का समय माना जाता है। 9 बजे किया गया ब्रेकफास्ट तब तक पच भी जाता है। 3-4 बजे लंच करने से शरीर को नुकसान पहुंचता है। क्योंकि 4 बजे स्नैक्स और चाय लेने का समय हो जाता है और चाय पीने के बाद शरीर में कैफीन आ जाता है जिससे खाना जल्दी नहीं पचता है।  लंच में दाल, चावल, रोटी, सब्जी, दही , सलाद सभी चीजे शामिल होनी चाहिए.

स्नैक्स टाइम: 4 बजे

food timing according to diet inside

शाम में स्नैक्स लेने की सही टाइमिंग 4 बजे मानी जाती है। स्नैक्स के साथ जूस या ग्रीन टी लें। वैसे तो चाय-कॉफी एक टाइम पीने से कुछ नहीं होता है। लेकिन बेहतर होगा कि जूस या ग्रीन टी पिएं। 

डिनर: 8 बजे

food timing according to diet inside

डिनर करने का सही समय रात को 8 बजे माना जाता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार सोने से 3 घंटे पहले खाना चाहिए। डिनर के बाद ठहलने का समय जरूर रखें ताकि खाना पच जाए और नींद भी अच्छे से आए। 

अगर आप ये डाइट टाइमिंग फॉलो करेंगी तो कभी बीमार नहीं पड़ेंगी। तो फिर देर किस बात की है, आज से ही ये डाइट टाइमिंग फॉलो करना शुरू कर दें। 

Recommended Video

Read More: रेस्टोरेंट में सर्व किए जाने वाले मसाला पापड़ को इस तरह से बनायें घर पर