सुहाना मौसम हो और हल्की-हल्की बारिश हो रही हो साथ ही आपके हाथों में आपके जीवनसाथी का हाथ हो ऐसे में आप बस यही चाहेंगी कि काश ये वक्त लंबे समय के लिए रुक जाए। अगर आप अपने जीवनसाथी के साथ कुछ ऐसे ही पल गुजारना चाहती हैं तो आपको कर्नाटक के इस हिल स्टेशन जरूर जाना चाहिए। 

गर्मियों से राहत पाने के लिए अधिकतर कपल्स हिल स्टेशन जाते हैं लेकिन कर्नाटक में एक ऐसा हिल स्टेशन है जहां लोग बारिश के मौसम में जाते हैं। हम बात कर रहे हैं चिकमगलूर हिल स्टेशन की जो कर्नाटक में बहुत ही खूबसूरत जगह है। चिकमगलूर का अर्थ है छोटी बेटी का नगर। ऐसा माना जाता है कि चिकमगलूर को रुकगनगडे की बेटी को दहेज के तौर पर दिया गया था और इसी कारण इस शहर का नाम चिकमगलूर पड़ा। 

तो चलिए आपको लेकर चलते हैं चिकमगलूर हिल स्टेशन की तरफ। 

chikmagalur karnataka romantic weather

बारिश के मौसम में कपल्स आते हैं यहां 

बारिश के मौसम में हजारों कपल्स चिकमगलूर पहुंचते हैं, यह कर्नाटक का एक बेहद ही खूबसूरत हिल स्टेशन है। इस जगह की खूबसूरती टूरिस्ट्स को यहां आने के लिए मजबूर कर देती हैं। यहां का शांत वातावरण,  बहती हुईं नदियां और चारों तरफ खूबसूरत नजारे यहां आने वाले टूरिस्ट को अपना दीवाना बना देते हैं। 

chikmagalur karnataka romantic weather

चिकमगलूर की कॉफी और चाय है खास 

चिकमगलूर को कॉफी लैंड के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि यहां पर काफी मात्रा में चाय और कॉफी के बाग हैं और इन बागों में उगाई जाने वाली चाय और कॉफी की गुणवत्ता पूरे देश में फेमस है। जिन लोगों को एडवेंचर का शौक है वे यहां की मुलायनगिरी पहाड़ी पर जाकर एडवेंचर का भरपूर लुफ्त उठा सकते हैं। ये पहाड़ी कर्नाटक की सबसे ऊंची पर्वतीय चोटी है। चिकमगलूर का हेबे फॉल्स सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। बारिश के मौसम में इस जगह की खूबसूरती देखते ही बनती है। 

chikmagalur karnataka romantic weather

चिकमगलूर की फेमस जगहें 

बाबा बूदान की पहाड़ियों से घिरा ये शहर कर्नाटक के प्रमुख पर्यटक स्थलों में से एक है। यहां पर स्थित बाबा बूदान गिरी पहाड़ पर एक दरगाह है, मुसलमानों के साथ ही ये दरगाह हिंदुओं के लिए भी आस्था का प्रमुख केंद्र है। 

यहां का महात्मा गांधी उद्यान बहुत ही खूबसूरत है और इस गार्डन को देखने के लिए दूर-दूर से टूरिस्ट्स आते हैं। यहां की कुदरेमुख पर्वमाला एक बेहत ही सुंदर पर्वत श्रृंखला है, इस पर स्थित घास के मैदान और घने जंगल इस स्थान को और भी खास बना देते हैं। यह पर्वतमाला दूर से देखने पर घोड़े के मुख के जैसी प्रतीत होती है और इसी कारण इस पर्वतमाला का नाम कुदरेमुख पर्वमाला रखा गया। यहां का गुलाब का बगीचा, सुंदर जलप्रपात इस स्थान की खूबसूरती को और बढ़ा देता है।