शरीर की साफ-सफाई के लिए नियमित रूप से नहाना बहुत ही जरूरी होता है। मगर साधारण पानी से नहाने पर शरीर की सफाई तो हो जाती है, मगर कोई अतिरिक्त लाभ नहीं मिल पाता है। ऐसे में अगर आप अपने नहाने के पानी में कुछ औषधीय गुणों वाली सामग्रियों को मिला लेंगी, तो त्वचा और बालों दोनों को ही विशेष लाभ पहुंचता है। 

ब्‍यूटी एक्‍सपर्ट पूनम चुग ने हमें एक ऐसे ही औषधीय गुणों से भरपूर स्नान प्रक्रिया के बारे में बताया है। वह कहती हैं, 'पहले के समय में जब लोगों के पास सौंदर्य प्रसाधन की वस्तुएं नहीं होती थीं, तब लोग कुदरती चीजों से ही अपनी जरूरतों को पूरा करते थे। यकीन मानिए आज भी कुदरती चीजों के भरोसे बहुत से ब्यूटी ट्रीटमेंट किए जाते हैं, बस उन्हें बड़े-बड़े नाम दे दिए गए हैं इसलिए उनकी कीमत भी अधिक है। मगर इन्‍हें आप घर पर भी बिना किसी समस्या के खुद भी ट्राई कर सकती हैं। केवल नहाने के पानी में तुलसी और नीम की पत्तियों को डाल कर और उस पानी से नहा लेने भर से ही आपको बहुत सारे फायदे हो सकते हैं। इसमें न तो आपको मेहनत करने की जरूरत है और न ही आपको अधिक समय देने की जरूरत है। तुलसी और नीम की पत्ती आपको फ्री में मिल जाएगी।'

पूनम जी इसी के साथ यह भी बताती हैं कि तुलसी और नीम के पानी से नहाने की प्रक्रिया क्या है और इससे आपको क्या फायदे हो सकते हैं- 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: फिटकरी के पानी से नहाने के अद्भुत लाभ जानें

neem  bath  for  skin

तुलसी और नीम के पानी से नहाने की प्रक्रिया 

सामग्री 

  • मुट्ठी भर नीम की ताजी पत्तियां 
  • मुट्ठी भर तुलसी की ताजी पत्तियां 
  • 1 बाल्‍टी पानी 

विधि 

  • रात में सोने से पहले तुलसी और नीम की पत्तियों को पानी में डाल दें। 
  • अब रात भर इन्‍हें पानी में पड़ा रहने दें। 
  • सुबह आपको इसी पानी से स्नान करना है। 
  • मगर इससे पहले आपको नीम और तुलसी की भीगी हुई पत्तियों से लेप तैयार करना है। 
  • इस लेप को गुप्त अंगों और कान, नाक और आंख को छोड़ कर शरीर के बाकी अंगों में मल लें। 
  • इसे उबटन की तरह रगड़ कर रिमूव करें। फिर तुलसी और नीम के पानी से नहा लें। 

नोट- अगर आपके शरीर में मुंहासे हो रहे हैं या फिर स्किन सेंसिटिव है, तो इस लेप का प्रयोग बिना स्किन एक्सपर्ट से परामर्श किए न लगाएं। 

इसे जरूर पढ़ें: नहाने के पानी में मिलाएं ये चीज़ें, पहली बार में ही स्किन हो जाएगी सॉफ्ट

tulsi  bath  for  skin 

क्‍या हैं नीम और तुलसी के पानी से स्नान करने के फायदे 

1. ऑयली स्किन के लिए फायदेमंद 

अगर आपकी त्वचा ऑयली है, तो नीम और तुलसी के पानी में आप नींबू का रस भी मिक्‍स कर सकती हैं। आपको बता दें कि नींबू में एस्ट्रिंजेंट गुण होते हैं, यह शरीर के एक्‍सट्रा ऑयल को कंट्रोल करता है। वहीं नीम और तुलसी में ऐसे एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। 

2. शरीर के दाग-धब्बे हो जाते हैं दूर 

शरीर में अगर मुंहासे के दाग-धब्बे हैं, तो आपको तुलसी और नीम के पानी से स्नान जरूर करना चाहिए। इससे दाग-धब्बे हल्‍के पड़ने लगते हैं और मुंहासों की समस्या भी कम हो जाती है। आपको बता दे कि तुलसी एंटी इंफ्लेमेटरी होती है, इसलिए शरीर में यदि कहीं सूजन है तो वह भी इस पानी से नहाने पर दूर हो जाती है। 

3. शरीर की बदबू होती है दूर 

यदि आपके शरीर से पसीने की बहुत अधिक दुर्गंध आती है, तो आपके लिए तुलसी और नीम के पानी से स्नान करना एक बहुत ही अच्‍छा विकल्‍प है क्योंकि दोनों में ही शरीर में बदबू फैलाने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करने की क्षमता होती है।

4. बालों में अगर डैंड्रफ की समस्या हो रही है, तो भी नीम और तुलसी का पानी आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। आपको बता दें कि नीम और तुलसी दोनों में एंटी बैक्‍टीरियल गुण होते हैं। बालों में इस पानी को डालने से डैंड्रफ की समस्या कम हो जाती है।   

Recommended Video

कब न करें तुलसी-नीम के पानी से स्नान 

पूनम जी कहती हैं, 'यदि आपका शरीर कहीं से जल गया है, तो नीम और तुलसी के पानी से स्नान न करें। क्योंकि ऐसा करने पर आपको जलन हो सकती है। जब जलने का घाव ठीक हो जाए तब आप इस पानी से स्नान कर सकती हैं, इससे जले का निशान भी धीमे से दूर हो जाएगा।'

तो देर किस बात की है, कल ही आप एक बार नीम और तुलसी के पानी से स्नान करके देखें। यह जानकारी आपको पसंद लगी हो, तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: freepik