अगर आपका चेहरा एक दिन हैवी नजर आता है और फिर दूसरे दिन ठीक लगता है तो यह रातभर में वजन या फैट का बढ़ना नही है। सूजे हुए चेहरे या पफीनेस का मुख्‍य कारण वॉटर रिटेंशन है और यह अस्‍थायी है और इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। शादी की तैयारियों के बीच दुल्‍हन को कई चीजों को झेलना पड़ता है जैसे नींद की कमी, कम पानी पीना और बहुत ज्‍यादा नमक वाले स्नैकिंग आदि। खासतौर पर अगर उसे सभी पार्टियों में शामिल होना है। अगर आप भी जल्‍द ही दुल्‍हन बनने वाली हैंं और चेहरे की सूजन को कम करने के सही समाधान की तलाश में हैंं तो मेरे पास आपके लिए प्राकृतिक समाधान है। कुछ आसान प्राकृतिक उपायों को अपनाकर आप इस समस्‍या से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।

फल और सब्जियां लें

vegetable for face puffiness inside

ऐसी फल और सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करें जिसमें भरपूर मात्रा में पानी होता है। तरबूज, खरबूजा, स्ट्रॉबेरी, संतरे, नींबू, अनानास जैसे फल पानी से भरपूर होते हैं। साथ ही खीरे, टमाटर, मशरूम, लेट्यूस, ब्रोकली, अजवाइन, पालक, लौकी जैसी सब्जियां में पानी की मात्रा भरपूर होती है। इसे अपनी उबली हुई सब्जियों में मिलाएं या अपने पानी में इसकी स्लाइस को मिलाएं और इस पानी को दिनभर में घूंट कर-करके लें। यह स्वाद और पोषक तत्व दोनों से भरपूर होता है। आप ताजा सब्जी का रस या सूप भी बनाकर ले सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें:होने वाली दुल्‍हन एक्‍सपर्ट के किचन सीक्रेट्स से करें अपने बालों की देखभाल

धनिया का पानी

Coriander water inside

धनिया, जीरा और सौंफ एक मूत्रवर्धक के रूप में काम करता है। इन मसालों का कॉम्बिनेशन सूजन को कम करने और आपके शरीर को हाइड्रेट करने में मदद करता है। डिटॉक्स टी बनाकर इसका सेवन करना सबसे अच्छा रहता है। इस चाय को बनाने के लिए 300 मिली पानी में 1 चम्मच धनिया के बीज, 1 चम्मच जीरा और 1 चम्मच सौंफ के बीज डालकर उबाल लें। एक बार उबाल लें, फिर छानकर इसकी चाय बनाकर पिएं। सुबह खाली पेट, दोपहर के भोजन के बाद और रात के खाने के बाद इसका सेवन करें। आप दिन में 3 कप पी सकती हैं। यह चाय आपके चेहरे पर पफीनेस को कम करने और फूला हुए पेट की भावना को कम करने में मदद करेगी।

पानी

water  for puffiness inside

पफीनेस को दूर करने और वॉटर रिटेंशन को कम करने के लिए पानी के साथ हाइड्रेटिंग से अच्‍छा कुछ भी नहीं है। कम पानी पीने से वॉटर रिटेंशन होता है। अगर आप अपने चेहरे के चारों ओर सूजन और वॉटर रिटेंशन को कम करना चाहती हैं तो सुनिश्चित करें कि आप भरपूर मात्रा में पानी पीती हैं और खुद को हाइड्रेटेड रखती हैं। पफीनेस डिहाइड्रेशन का संकेत है। आदर्श रूप से एक व्यक्ति को प्रति दिन 30 मिलीलीटर शरीर के वजन के हिसाब से पानी पीना चाहिए। इसका मतलब है कि अगर आपका वजन 50 किलोग्राम है, तो एक दिन में 1.5 लीटर पानी पीना चाहिए। अगर आप एक्‍सरसाइज या गर्मी के कारण ज्‍यादा पसीना आता है तो आपको एक्‍स्‍ट्रा लिक्विड को भी शामिल करना चाहिए। आदर्श रूप से पानी को घूंट में पीना चाहिए। अगर आप एक बार में पानी पीते हैं, तो यह आपको हाइड्रेट करने में मदद नहीं करेगा। मैं दुल्हन और उनके परिवार को सुझाव देती हूं कि खरीदारी के लिए या घर के बाहर जाते समय 1 लीटर कांच की बोतल अपने साथ ले जाएं और इसे घूंट में पिएं।

फेशियल रोलर और आलू का रस

Facial roller  inside

पफीनेस को कम करने के लिए चेहरे के रोलर का इस्‍तेमाल करना एक जादू की तरह काम करता है। आपकी त्वचा के प्रकार के आधार पर आप रोज क्वार्ट्ज या जेड रोलर ब्लेड खरीद सकती हैं। अगर आपकी त्‍वचा संवेदनशील है तो रोज क्वार्ट्ज रोलर का इस्‍तेमाल करें। ठंडे पानी में फेस सीरम और डिप रोलर लगाएं और पफीनेस कम करने के लिए चेहरे की मसल्‍स की दिशा में अपने चेहरे की मालिश करें। आप अपनी आंखों या चेहरे पर कॉटन की मदद से डूबा हुआ कच्चा आलू का रस भी लगा सकती हैं और इसे 15 मिनट के लिए छोड़ सकती हैं।

लिम्फेटिक ब्रश या मसाज

शावर से पहले लिम्फेटिक ड्रेनेज ब्रश या बॉडी ब्रश का उपयोग करना पफीनेस और वॉटर रिटेंशन को दूर करने में मदद करता है। शावर से पहले इस ब्रश का उपयोग करना, लिम्फेटिक ड्रेनेज को उत्तेजित करता है और टिशूओं में निर्मित एक्‍स्‍ट्रा फ्लूइड को निकालता है। इसे हर दिन इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए, सप्ताह में केवल 3 -4 बार काफी होता है। सर्कुलेशन आपके पैर की उंगलियों से शुरू होकर आपके दिल की ओर होना चाहिए। इसे त्‍वचा के संवेदनशील हिस्‍से पर इस्‍तेमाल नहीं करना चाहिए। अगर ब्रिस्टल से छेड़छाड़ होती है या ब्रूसी होती है तो अपना ब्रश बदलें। हल्के प्रेशर का इस्‍तेमाल करें और अपनी त्वचा पर बहुत अधिक रगड़ें नहीं। एक डीप टिशू मसाज और लिम्फेटिक ड्रेनेज मसाज वॉटर रिटेंशन को दूर करने का एक शानदार तरीका है।

Recommended Video

नमक

salt for puffiness inside

भोजन में सोडियम वॉटर रिटेंशन में महत्वपूर्ण योगदान देता है। तले हुए स्नैक्स, सूप, चिप्स, रेस्टारंट्स का खाना और सेलिब्रेशन के दौरान परोसे जाने वाले फूड्स  सोडियम से भरपूर होते हैं। हमारा शरीर एक निश्चित समय में 1.5 लीटर तक लिक्विड होल्‍ड कर सकता है। जब हम आहार या नमक में एक्‍स्‍ट्रा सोडियम खाते हैं, तो शरीर कोशिकाओं के बाहर एक्‍स्‍ट्रा फ्लूइड को बरकरार रखता है। इसलिए बहुत ज्‍यादा नमक की जगह ताजा जड़ी बूटियों और मसालों का सेवन करें। अगर  संभव हो तो भोजन में नमक न डालें और दोपहर के भोजन में नमक न लें। भोजन में ताजा सब्जियों का जूस और घर का बना सूप पिएं और सलाद, उबली और स्‍टीम की हुई सब्जियां लें। 

इसे जरूर पढ़ें:शादी से पहले स्किन और बालों में ऐसे आएगी शाइन, एक्सपर्ट स्वाति बथवाल से जानें टिप्स 

एक्सरसाइज या वॉक

face puffiness remedy GRAPHIC

एक्‍सरसाइज वॉटर रिटेंशन को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है। इसके लिए वॉकिंग, रनिंग या कोई अन्‍य फिजिकल एक्‍सरसाइज करें। जब आप एक्‍सरसाइज करते हैं तो यह ब्‍लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है और टिशूओं के बीच बने द्रव को कम करता है। अगर आप एक्‍सरसाइज नहीं कर सकती हैं, तो फेशियल योग करें। 

अन्य कारक जैसे नींद कम लेना, अधिक शराब या शीतल पेय या कैफीन या हार्मोनल उतार-चढ़ाव भी वॉटर रिटेंशन का कारण बनते हैं। यहां तक कि अगर आप ऊपर दिए गए किसी भी सुझाव का पालन करती हैं, तो यह निश्चित रूप से पफीनेस को कम करने में मदद करेगा और आपको एक पिक्‍चर-परफेक्‍ट लुक देगा।