Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    चेहरे पर हैं दाने और काले स्पॉट्स तो डर्मेटोलॉजिस्ट से जानें इसे ठीक करने का तरीका

    कई बार हमारी स्किन टोन कुछ ऐसी हो जाती है कि चेहरे के कुछ हिस्से पर अलग पैच दिखने लगते हैं। ऐसे में डर्मेटोलॉजिस्ट के बताए ये टिप्स अपनाएं। 
    author-profile
    Updated at - 2022-11-11,20:00 IST
    Next
    Article
    How to make uneven skin tone even

    हमारे चेहरे पर अगर कोई दाग हो या फिर दाने हो रहे हों तो अच्छा नहीं लगता। हममे से कई लोग ऐसे होते हैं जिनकी स्किन टोन अनईवन होती है। ये किसी भी कारण से हो सकती है जैसे स्किन पर किसी कॉस्मेटिक का रिएक्शन होना, जेनेटिक समस्या होना, किसी तरह की दवा का रिएक्शन होना आदि। ऐसा कई बार सूरज की धूप के कारण भी हो जाता है, कई लोगों को सन एलर्जी होती है और उन्हें इसके बारे में पता भी नहीं होता। स्किन टोन अगर अनईवन हो या चेहरे पर किसी तरह का पिगमेंटेशन हो तो यकीनन अच्छा नहीं लगता। ऐसे में हम कई तरह के स्किन केयर ट्रीटमेंट इस्तेमाल करने की कोशिश करते हैं। 

    स्किन केयर चाहे जितना भी अच्छा हो अगर आपकी स्किन अंदर से सही नहीं है तो उसका कोई फायदा नहीं होता। भले ही आप कितने भी एडवर्टाइजमेंट देखें और कोई कंपनी कितना भी क्लेम करे कि वो आपकी स्किन को बिल्कुल साफ और बेदाग कर देगी सच तो ये है कि प्रॉपर डर्मेटोलॉजिकल प्रोसेस के बिना ऐसा नहीं हो सकता है। 

    FAAD बोर्ड सर्टिफाइड डर्मेटोलॉजिस्ट और स्किन 'इन्फिनिटी बाय जयश्री' की फाउंडर और कई किताबों की ऑथर डॉक्टर जयश्री शरद ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इससे जुड़ी जानकारी शेयर की है। 

    skin tone and its problems

    इसे जरूर पढ़ें- सर्दियों में ड्राईनेस को कम करने के लिए अपनाएं ये Korean Skin Care Tips

    अगर आपकी अनईवन स्किन टोन है तो सबसे पहले देसी नुस्खे आजमाने की जगह आपको एक बार डर्मेटोलॉजिस्ट से बात कर लेनी चाहिए। डॉक्टर जयश्री के मुताबिक इस तरह के पिगमेंटेशन को कम करने के लिए कुछ टिप्स अपनाए जा सकते हैं जैसे-

    सूरज की धूप से हमेशा बचकर रहें

    जैसा कि हमने बताया कि ये सन एलर्जी की वजह से हो सकता है और सूरज की यूवीए और यूवीबी रेज स्किन को बहुत ज्यादा डैमेज कर सकती हैं। कई बार ब्लू लाइट और इंफ्रारेड रेज जो किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस से निकलती हैं वो भी स्किन के लिए हानिकारक होती हैं और ये हाइपर पिगमेंटेशन और पैची स्किन का कारण बनती हैं। इसके लिए आप रोज़ाना सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें। भले ही आप घर के अंदर हों, लेकिन आपको सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना ही है। घर के अंदर भी कई बार हमारी स्किन सूरज की किरणों के कारण डैमेज हो सकती है। सनस्क्रीन हर मौसम में लगानी चाहिए और रोज़ाना लगानी चाहिए। 

    skin tone and uneven skin

    एंटीऑक्सीडेंट सप्लीमेंट्स का करें इस्तेमाल

    अगर आपकी स्किन में काफी पहले से पैच पड़े हुए हैं या फिर स्किन की टोन अनईवन है तो आपको एंटीऑक्सीडेंट सप्लीमेंट्स इस्तेमाल करने चाहिए। ये फ्री रेडिकल्स से स्किन को फ्री करते हैं और अनईवन स्किन टोन को खत्म करते हैं। हालांकि, इस तरह का कोई भी स्किन सप्लीमेंट लेने से पहले आपको डर्मेटोलॉजिस्ट से बात कर लेनी चाहिए। कई लोग बिना सोचे समझे फिश ऑयल, ओमेगा-3 फैटी एसिड्स वगैरह भरपूर मात्रा में ले लेते हैं जो उनके लिए नुकसानदेह साबित हो सकते हैं।  

     

     
     
     
    View this post on Instagram

    A post shared by Jaishree Sharad (@drjaishreesharad)

    स्किन इंग्रीडिएंट्स का ध्यान रखें 

    आपको ऐसे स्किन इंग्रीडिएंट्स को चुनना चाहिए जो डर्मेटोलॉजिस्ट अप्रूव हों। अपने स्किन केयर रूटीन में कोजिक एसिड, विटामिन-सी, लिकोरिस (मुलेठी) आरब्यूटिन जैसे इंग्रीडिएंट्स को चुनें, लेकिन इन्हें इस्तेमाल करने से पहले डर्मेटोलॉजिस्ट से बात जरूर कर लें। हो सकता है कि इनमें से कोई इंग्रीडिएंट आपकी स्किन को सूट ना करता हो। ऐसे में डर्मेटोलॉजिस्ट द्वारा बताया गया ट्रीटमेंट काफी मददगार साबित हो सकता है।  

    इसे जरूर पढ़ें- गर्दन के कालेपन को कम करने के लिए अपनाएं ये आसान घरेलू पैक 

    ग्लाइकोलिक एसिड 

    ग्लाइकोलिक एसिड, टीसीए, रेटिनॉल और अन्य केमिकल पील्स भी स्किन पिगमेंटेशन और अनईवन स्किन टोन को ठीक करने में मदद कर सकते हैं। आजकल केमिकल पील्स वैसे भी काफी ज्यादा इस्तेमाल हो रही है। केमिकल पील्स 2-3 हफ्ते के अंतराल से करनी चाहिए और अगर आप चाहें तो किसी एक्सपर्ट से इसका सेशन भी करवा सकती हैं। ये हाइपरपिगमेंटेशन को कम करने के लिए सबसे अच्छा तरीका साबित हो सकता है।  

    लेजर ट्रीटमेंट 

    आजकल क्रॉनिक पिगमेंटेशन को कम करने के लिए लेजर ट्रीटमेंट करवाना काफी ज्यादा अच्छा माना जाता है। मेलानिन पिगमेंट को कम करने के लिए लेजर ट्रीटमेंट काफी अच्छा हो सकता है, लेकिन इसके लिए पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए कि आपकी स्किन को वो सूट करता भी है या नहीं। स्किन डिस्कलरेशन के लिए ये सबसे उपयोगी ट्रीटमेंट्स में से एक होता है।  

    स्किन पिगमेंटेशन कई लोगों की समस्या होती है, लेकिन इसका अगर ठीक तरह से ट्रीटमेंट किया जाए तो ये सही हो सकता है। इसके लिए डर्मेटोलॉजिस्ट से बात करें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।