हर महिला की इच्छा होती है कि उसकी स्किन नेचुरली दमकती रहे। इसके लिए आपको अपनी स्किन का सही तरह से ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। लेकिन सवाल यह उठता है कि स्किन का सही तरह से ख्याल किस तरह रखा जाए। आजकल मार्केट में कई तरह के स्किन केयर प्रॉडक्ट्स मौजूद हैं, तो ऐसे में समझ नहीं आता कि किस प्रॉडक्ट को चुना जाए और अपनी स्किन का ख्याल रखा जाए। आमतौर पर महिलाएं अपनी स्किन की केयर करने के लिए क्लींजिंग, मॉइश्चराइजिंग व सनस्क्रीन आदि का इस्तेमाल करती हैं। 

यकीनन यह सभी प्रॉडक्ट्स आपकी स्किन का ख्याल रखने में मदद करते हैं। लेकिन दमकती स्किन पाने के लिए सिर्फ इतना ही करना काफी नहीं है। बेहतर होगा कि आप इन प्रॉडक्ट्स के साथ-साथ टोनर को भी अपने स्किन केयर रूटीन में शामिल करें। टोनर आपकी स्किन को कई मायनों में लाभ पहुंचाता है। यह आपकी स्किन को क्लीन व टोन करने के साथ-साथ मुंहासों व ब्रेकआउट्स से भी स्किन को प्रोटेक्ट करता है। हालांकि बहुत सी महिलाओं को टोनर से मिलने वाले स्किन बेनिफिट्स की पूरी जानकारी नहीं होती। तो चलिए आज हम आपको टोनर से होने वाले फायदों व उसे चुनने के तरीकों के बारे में बता रहे हैं।

क्या है टोनर

right skin toner

टोनर एक वाटर कंसिस्टेंसी की तरह का होता है और यह पानी की तरह ही काम करता है। यह ऑक्सीजन और हाइड्रोजन से इंफ्यूज़्ड होता है और इसमें ग्लिसरीन, विटामिन ई, एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी जैसे कई स्किन लविंग इंग्रीडिएंट्स होते हैं। इसके इस्तेमाल का लाभ यह होता है कि यह आपकी स्किन को गहराई तक हाइड्रेट करता है और सतह की गंदगी और मृत त्वचा कोशिकाओं को भी हटाता है। इतना ही नहीं, यह पोर्स को shrink करने में मदद करता है और बैक्टीरिया और गंदगी को आसानी से प्रवेश करने से रोकता है। क्लींजर अक्सर त्वचा के पीएच को भी अम्लीय बनाते हैं। टोनर को वापस उसके सामान्य, स्वस्थ स्तर पर लाने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें: एक्ने प्रोन है स्किन तो विंटर में कुछ इस तरह रखें इसका ख्याल

Recommended Video

ऐसे चुनें सही टोनर

skin toner for skin type

  • जब आप एक टोनर का चयन कर रही हैं तो आपको हमेशा अपनी स्किन टाइप का ख्याल रखना चाहिए। अन्य स्किन केयर प्रॉडक्ट की तरह ही मार्केट में अलग-अलग स्किन टाइप के लिए टोनर अवेलेबल हैं।
  • उदाहरण के तौर पर, अगर आपकी स्किन ऑयली है तो आप ऐसे टोनर को चुनें, जिसमें ग्लिसरीन और विच हेज़ल जैसे तत्व हों। यह डेड स्किन सेल्स छुटकारा दिलाने में भी मदद करते हैं। यह पोर्स को टाइट करता है, त्वचा को निखारता है और त्वचा की अशुद्धियों को दूर करके उसे अधिक हेल्दी बनाता है।
  • वहीं अगर आपकी स्किन सेंसेटिव या नार्मल है तो आप ऐसे टोनर को अपनी स्किन केयर रूटीन का हिस्सा बनाएं, जिसमें कैमोमाइल और ऑलेंटोइन जैसे तत्व शामिल हों। यह इंग्रीडिएंट्स आपकी स्किन की रेडनेस, इचिंग और इन्फ्लेमेशन को दूर करते हैं और आपकी स्किन को हाइड्रेट करते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।