पिंपल्स किसी भी लड़की को बिल्कुल अच्छे नहीं लगते। हालांकि हम सभी ने कभी ना कभी अपनी स्किन पर पिंपल्स देखे ही हैं। आमतौर पर यह मुंहासे तब होते हैं, जब आपकी स्किन के पोर्स तेल, गंदगी या बैक्टीरिया से भर जाते हैं और फिर क्लॉग हो जाते हैं। पिंपल्स शरीर पर कहीं भी दिखाई दे सकते हैं। हालांकि अधिकतर मुंहासे उन क्षेत्रों में विकसित होते हैं जहां पर अधिक तेल होता है कि जैसे कि आपकी ठोड़ी, नाक या माथा आदि। वैसे आईब्रो पर पिंपल्स होना भी बेहद सामान्य है। लेकिन यह एरिया ऐसा नहीं है, जहां पर बहुत अधिक ऑयल इकट्ठा होता हो। तो ऐसे में आप सोच रही होंगी कि आखिरकार आपको आईब्रो पर पिंपल्स होने का कारण क्या है। दरअसल, इसके पीछे एक नहीं, कई अलग-अलग कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। तो चलिए आज हम इन्हीं कारणों पर चर्चा करते हैं, जिसे जानने के बाद आप भी काफी हद तक आईब्रो पिंपल्स से अपना बचाव कर सकती हैं-

आईब्रो की थ्रेडिंग या वैक्सिंग करवाना

eyebrows inside

अक्सर आई ब्रो पर थ्रेडिंग या वैक्सिंग करवाने के बाद छोटे-छोटे दाने या पिंपल्स निकलने लगते हैं। खासतौर से, जिन महिलाओं की स्किन सेंसेटिव है, उन्हें यह समस्या अधिक होती है। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि आप अपनी आई ब्रो को ग्रूम ना करें। बस आप थ्रेडिंग या वैक्सिंग से पहले उसे वॉश व हल्का एक्सफोलिएट करें। साथ ही वैक्सिंग या थ्रेडिंग के बाद बर्फ का इस्तेमाल करें।

इसे जरूर पढ़ें:प्याज में सिर्फ एक चीज़ मिलाकर आप अपनी पतली आईब्रो को कर सकती हैं घना

गंदे मेकअप टूल्स

makeup brush inside

गंदे मेकअप टूल्स आपकी स्किन के लिए कई मायनों में हानिकारक साबित होते हैं। इसके कारण सिर्फ आई ब्रो पर ही एक्ने नहीं होते, बल्कि जब आप अपने मेकअप टूल्स को अच्छी तरह साफ नहीं करती तो इससे वहां पर बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। बाद में जब आप उन मेकअप टूल्स का इस्तेमाल करती हैं तो वह बैक्टीरिया आपके चेहरे पर चले जाते हैं। इससे आपको आईब्रो के साथ-साथ फेस के अन्य हिस्सों में भी ब्रेकआउट्स हो सकते हैं। इतना ही नहीं, इससे स्किन इंफेक्शन होने का खतरा भी रहता है और आपका मेकअप लुक भी अच्छा नहीं आता। इसलिए हमेशा इस्तेमाल से पहले और बाद में अपने ब्रश व मेकअप टूल्स को अच्छी तरह क्लीन करें।

Recommended Video

हेयरस्टाइलिंग

hair style inside

सुनने में आपको शायद अजीब लगे लेकिन आपकी हेयरस्टाइलिंग भी कभी-कभी आई ब्रो पिंपल्स की वजह बनती है। मसलन, अगर आपने लॉन्ग बैंग्स लुक रखा है तो बाल बार-बार आपके माथे व आईब्रो को टच करेंगे। तेल और गंदगी को आपके बालों से चेहरे तक स्थानांतरित करते हैं। इससे आपके रोम छिद्र बंद हो सकते हैं और अंततः ब्रेकआउट हो सकता है। इसलिए अगर आपको आईब्रो पिंपल्स की समस्या होती है तो ऐसे में हेयरपिन या हेडबैंड का उपयोग करके अपने चेहरे से अपने बैंग्स को दूर रखें।

इसे जरूर पढ़ें:कहीं आई ब्रो को Fill करते समय आप भी तो नहीं करतीं यह तीन गलतियां

आई ब्रो प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करना

eyebrows products inside

अक्सर आई ब्रो प्रॉडक्ट भी आपकी आई ब्रो पर पिंपल्स या मुंहासों की वजह बन जाते हैं। आई ब्रो प्रॉडक्ट में पेट्रोलियम, सिलिकॉन्स और वीए / वीपी कॉपोलिमर जैसे तत्व होते हैं जो आपके छिद्रों को बंद कर सकते हैं और ब्रेकआउट और ब्लैकहेड्स को जन्म दे सकते हैं। इसलिए किसी भी प्रॉडक्ट में इनवेस्ट करने से पहले उसके लेबल को अच्छी तरह पढ़ें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।