हर महिला हमेशा ही बेहद ब्यूटीफुल नजर आना चाहती है, लेकिन हर महिला की स्किन नेचुरली बेदाग या इवन टोन नहीं होती है। ऐसे में महिला अपने चेहरे की खामियों को छिपाने व खूबसूरती को निखारने के लिए मेकअप का सहारा लेती हैं। लेकिन मेकअप में भी आप तभी ब्यूटीफुल लग सकती हैं, जब आपको अलग-अलग मेकअप प्रोडक्ट्स और उन्हें इस्तेमाल करने के सही तरीके के बारे में पता हो। वैसे जब मेकअप की बात हो तो उसमें कुछ बेसिक प्रोडक्ट्स भी होते हैं, जैसे- प्राइमर, फाउंडेशन व कंसीलर आदि।

जो महिलाएं मेकअप में बिगनर हैं, उन्हें इस बात की जानकारी नहीं होती कि इन तीनों मेकअप प्रोडक्ट में क्या अंतर है और इसलिए उन्हें किस प्रोडक्ट को किस तरह इस्तेमाल करना चाहिए, इसे लेकर भी एक कशमकश रहती है। लेकिन आपको किसी बात को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। आज इस लेख में हम आपको प्राइमर फाउंडेशन और कंसीलर के बीच अंतर के बारे में बता रहे हैं-

प्राइमर 

जब मेकअप की बात होती है तो सबसे पहला मेकअप प्रोडक्ट है प्राइमर, जिसका आपको इस्तेमाल करना चाहिए। अधिकतर महिलाएं प्राइमर को स्किप कर देती हैं, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं करना चाहिए। प्राइमर फाउंडेशन सहित अन्य फेस मेकअप के लिए एक स्मूद बेस बनाता है। इतना ही नहीं, यह फाइन लाइन्स की विजिबिलिटी को भी कम करता है और डिस्कलरेशन को सही करता है। अगर आप लंबे समय के लिए मेकअप कर रही हैं तो ऐसे में आपको प्राइमर जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। यह आपके मेकअप को लॉन्ग लास्टिंग बनाने में मदद करता है। मेकअप की शुरूआत में आप पहले फेस वॉश करके मॉइश्चराइज अप्लाई करें। उसके बाद आप फाउंडेशन लगाने से पहले प्राइमर को यूज करें।

फाउंडेशन

how to apply foundation

प्राइमर के बाद बारी आती है फाउंडेशन लगाने की। यह आपके मेकअप के लिए एक बेस की तरह काम करता है। कुछ महिलाओं को यह समझ नहीं आता है कि पहले फाउंडेशन लगाएं या कंसीलर। फाउंडेशन को पहले अप्लाई किया जाना चाहिए। फाउंडेशन की मदद से ही आप अपने मेकअप को मैट, ड्यूई या नेचुरल लुक दे सकती हैं। आमतौर पर, मार्केट में तीन तरह के फाउंडेशन अवेलेबल हैं- लिक्विड, क्रीम और पाउडर। अगर आप मेकअप में न्यू हैं तो ऐसे में लिक्विड फाउंडेशन को चुनें, क्योंकि इन्हें ब्रश की मदद से बेहद आसानी से अप्लाई किया जा सकता है। वहीं, अगर आप क्रीम बेस्ड फाउंडेशन लगा रही हैं तो ऐसे में आप नम स्पॉन्ज की मदद से उसे ब्लेंड करते हुए अप्लाई करें। साथ ही फाउंडेशन अप्लाई करते हुए सही शेड का चयन किया जाना भी बेहद आवश्यक होता है।

इसे भी पढ़ें :लिक्विड फाउंडेशन को अप्लाई करते समय यह ट्रिक्स आएंगे बेहद काम

कंसीलर 

how to apply concealer

अगर आपकी स्किन पर डार्क सर्कल्स से लेकर स्पॉट्स हैं तो ऐसे में आपको प्राइमर व फाउंडेशन के बाद कंसीलर अवश्य लगाना चाहिए। यह आपकी स्किन को नेचुरली ब्यूटीफुल और बेदाग दिखाने में मदद करता है। कंसीलर का मुख्य काम आपकी स्किन की सभी प्रॉब्लम को हाइड करना है। आप कंसीलर को अप्लाई करने के लिए उंगलियों या कंसीलर ब्रश का इस्तेमाल कर सकती हैं। कंसीलर को पूरे फेस पर नहीं, बल्कि स्पॉट को कवर करने के लिए, और अंडर-आई सर्कल को कवर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसे भी पढ़ें :परफेक्ट और फ्लॉलेस मेकअप के लिए इन टिप्स और ट्रिक्स का रखें ध्यान

Recommended Video

इन बातों का रखें ध्यान

things to remember for foundation and concealer

  • किसी भी मेकअप प्रोडक्ट को चुनने से पहले अपने स्किन टाइप, स्किन टोन व मौसम का विशेष रूप से ध्यान रखें।
  • जब आप प्राइमर, फाउंडेशन व कंसीलर अप्लाई करती हैं तो उसे सही तरह से ब्लेंड करना चाहिए, ताकि आपका मेकअप केकी ना लगे। वहीं, ओवर ब्लेंडिंग से भी बचें।
  • मेकअप करते हुए बहुत अधिक मेकअप प्रोडक्ट भी अप्लाई नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसे ब्लेंड करने में आपको अधिक समय व मेहनत नष्ट करनी पड़ेगी।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- freepik