जैस्मिन , यह नाम एक खूबसूरत सफेद रंग के खुशबूदार फूल की याद दिलाता है। भारत में जैस्मिन के फूल को चमेली के नाम से भी जाना जाता है। देश में चमेली के फूल का अलग ही महत्‍व है, यह खुशबूदार फूल दिखने में जितना सुंदर है उतना ही सेहत के लिए फायदेमंद भी।

बचपन में आपने भी आपनी दादी-नानी से चमेली के तेल के बारे में काफी कुछ सुना होगा। अपनी लॉन्‍ग लास्टिंग स्‍मेल की वजह से इस चमेली के फूल को कई लोग हेड और बॉडी मसाज के लिए इस्‍तेमाल करते हैं।

खासतौर पर विंटर सीजन में जैसमिन ऑयल के बेनेफिट्स और भी बढ़ जाते हैं। दरआसल, यह जैसमिन ऑयल सर्दियों में होने  वाली ड्राइनेस को कम करता है। इसलिए ज्‍यदातर लोग इस मौसम में जैस्मिन ऑयल से हेड मसाज करते हैं, मगर इसके फायदे यहीं खत्‍म नहीं होते बल्कि यह तेल त्‍वचा और बालों दोनों के लिए ही लाभकारी है।

तो चलिए आज हम आपको बताएंगे कि चमेली का तेल आपके लिए किस तरह से फायदेमंद है। 

इसे जरूर पढ़ें: रोजाना बाल धोने के झंझट से है बचना तो अपनाएं ये 9 स्‍मार्ट ट्रिक्‍स

skin care routine right way

स्‍कैल्‍प इंफैक्‍शन में लाभकारी 

सर्दियों के मौसम में स्किन के साथ ही बालों की देखभाल भी बहुत जरूरी हो जाती है।  पॉल्‍यूशन से बालों को काफी नुकसान पहुंचता है। सबसे गंभीर बात तो यह है कि महिलाएं वैसे तो बालों को अपना प्रिय गहना कहती हैं मगर वास्‍तव में जब बाद देखभाल की आती है तो हेयर केयर पर उनका ध्‍यान सबसे कम होता है।बालों को मैनेज करना और उनकी केयर करना उन्‍हें बोरिंग लगता है। इस कारण बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं। कई बार इस वजह से स्‍कैल्‍प पर इंफैक्‍शन भी हो जाता है और खूजली करने से स्‍कैल्‍प में कई डैमेजेस भी आजाते हैं। ऐसे में जैस्मिन ऑयल से हेड मसाज करने से यह इंफेक्‍शन कुछ हद तक कम हो जाता है। दरअसल, जैस्मिन ऑयल में कूलिंग इफैक्‍ट और एंटीसेप्टिक एलिमेंट्स मौजूद होते हैं जो किसी भी तरह के इंफेक्‍शन को दूर करन की ताकत रखते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: अब गर्मियों में स्किन और बाल नहीं होंगे ड्राई अगर करेंगी बियर का इस्तेमाल

बालों के लिए अच्‍छा कंडीशनर है

वैसे तो बाजार में बहुत सी ब्रांडेड कंपनियों के कंडीशनर मौजूद हैं मगर बहुत कम ऐसे कंडीशन होते हैं, जिनमें कैमिकल नहीं होते और वे बालों को बिना डैमेज किए कंडीशनर करते हैं। ऐसे में जैसमिन आपके बालों के लिए वरदान साबित हो सकता है। दरअसल जैस्मिन ऑयल में मौजूद मॉइश्‍चराइजर बालों की ड्राएनेस को खत्‍म करता है और बालों को स्‍मूद और स्‍ट्रॉन्ग बनाता है। इसके साथ ही अगर आपके बाल कुछ ज्‍यादा ही फ्रिजी हैं तो आप जैसमिन ऑयल के साथ कोकोनट ऑयल को मिक्‍स करके लगाएं इससे आपको काफी फायदा मिलेगा। वीक में 2 बाद जैस्मिन ऑयल से बालों की मसाज करने से आपके बालों की ड्राएनेस खत्‍म हो जाएगी साथ ही बाल स्‍ट्रॉन्‍ग हो जाएंगे और हेयरफॉल में भी राहत मिलेगी। 

स्किन इंफैक्‍शन में बचाव 

सर्दियों के मौसम में बालों के साथ ही त्‍वचा की देखभाल भी बहुत जरूरी है क्‍योंकि इस मौसम में धूल मिट्टी और कोहरे से त्‍वचा को काफी नुकसान पहुंचता है और इस वजह से कई तरह के स्किन इंफैक्‍शन भी हो जाते हैं मगर थोड़ी केयर की जाए तो इससे बचा जा सकता है। स्किन को दुरुस्‍त रखने के लिए विटामिन ई सबसे लाभकारी है और जैसमिन ऑयल विटामिन ई का सबसे अच्‍छा सोर्स है।

विंटर सीजन में स्किन में सबसे ज्‍यादा ड्राईनेस की समस्‍या आती है, जिससे पिंपल भी हो जाते हैं। इससे राहत पाने के लिए कई महिलाएं बाजार में मौजूद महंगे प्रोडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल भी करती हैं मगर इससे उन्‍हें कुछ समय के लिए भले ही राहत मिल जाए मगर लॉन्‍ग टर्म के लिए वह पिपंल से नहीं बच पातीं। इस कंडीशन में अगर आप जैस्मिन ऑयल का प्रयोग करें तो शायद आपको पिंपल और स्किन इंफैक्‍शन की प्रॉब्‍लम से जल्‍दी और बेहतर तरीके से राहत मिल सकती है। दरअसल, जैसमिन ऑयल में एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटीसेप्टिक तत्‍व होते हैं जो त्‍वचा को इंफैक्‍शन से बचात हैं और उन्‍हें मुलायम बनाते हैं। 

skin care routine steps tips

ड्राए स्किन वालों के लिए फायदेमंद 

बहुत सी महिलाएं ऐसी भी होत हैं जिनकी त्‍वचा डिहाइड्रेशन की वजह से ड्राए हो जाती है। वैसे त्‍वचा को हाइड्रेटेड रखने के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी है कि आप ज्‍यादा से ज्‍यादा मात्रा में पानी पीएं और ऐसे फल खाएं जो त्‍वचा को हाइड्रेटेड रखें।

मगर इन सब के अलावा जैस्मिन ऑयल के यूज से भी आप अपनी त्‍वचा की ड्राएनेस को खत्‍म कर सकती हैं इसके लिए आपको बादाम के तेल में जैसमिन ऑयल की कुछ बूंदे डाल कर चेहरे की मसाज करनी होगी। इससे आपकी त्‍वचा में मॉइश्‍चर आ जाएगा और आपकी ड्राए स्किन समस्‍या खत्‍म हो जाएगी। 

Recommended Video

करता है स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर 

कई बार बॉडी फैट की वजह से महिलाओं के शरीर में स्‍ट्रेच मार्क्‍स आ जाते हैं। इसके अलावा प्रेगनेंसी के दौरान भी बॉडी में स्‍ट्रेच मार्क्‍स आ जाते हैं। उन्‍हें होने से तो नहीं रोका जा सकता मगर होने के बाद इनके निशानों को त्‍वचा पर से हटाने के लिए जैस्मिन ऑयल से मसाज की जा सकती है। ऐसा करने से स्‍ट्रेच मार्क्‍स हल्‍के हो जाते हैं और धीरे से त्‍वचा पर से दिखना गायब हो जाते हैं। 

यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: freepik