फेस की देखभाल के लिए सिर्फ फेस मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना काफी नहीं है। आपके चेहरे की स्किन भी अलग-अलग जगह से काफी अलग होती है। मसलन, आंखों के आसपास के एरिया की स्किन काफी थिन व नाजुक होती है और इसलिए वहां पर रिंकल्स व फाइन लाइन्स जल्दी नजर आते हैं। ऐसे में फेस के इस हिस्से की देखभाल करने के लिए आई क्रीम की मदद लेनी चाहिए। एक आई क्रीम जो आपके नाजुक अंडर-आई एरिया को हाइड्रेट व ब्राइटन करने के साथ-साथ उसे यूथफुल बनाए रखने में भी मदद करती है। लेकिन ऐसा केवल तभी होता है, जब आपके द्वारा चुनी गई आई क्रीम सही हो। मसलन, आई क्रीम में मौजूद इंग्रीडिएंट्स उन सभी प्रॉब्लम्स पर काम करते हों, जो आप वास्तव में चाहती हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप आई क्रीम खरीदने व इस्तेमाल करने से पहले उसमें मौजूद इंग्रीडिएंट्स को जरूर चेक करें। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि एक अच्छी आई क्रीम में कौन-कौन से इंग्रीडिएंट होने चाहिए-

हाईऐल्युरोनिक एसिड

 natural cream inside

अगर आपका अंडर आई एरिया ड्राई हो गया है तो आपको ऐसी आई क्रीम को चुनना चाहिए, जिसमें हाईऐल्युरोनिक एसिड मौजूद हो। इस इंग्रीडिएंट में नमी बनाए रखने वाले गुण हैं जो हाइड्रेशन के स्तर को बढ़ाने में मदद करते हैं। साथ ही साथ यह आपके अंडर आई एरिया को पलम्प भी करता है, जिससे वह इवन टोन और अधिक ब्राइटर नजर आती है।

नेचुरल ऑयल्स

 natural cream inside

अगर आपकी आई क्रीम में हाईऐल्युरोनिक एसिड नहीं है तो आप ऐसी अंडर आई क्रीम का चयन करें, जिसमें नेचुरल ऑयल्स जैसे आर्गन ऑयल आदि मौजूद हो। आपको शायद पता ना हो, लेकिन आपकी अधिकांश अंडर-आई समस्याएं नमी की कमी के कारण होती हैं। इसलिए अगर आपकी आई क्रीम में मॉइश्चर को रिस्टोर करने के गुण होंगे तो यह आई एरिया को पोषण देने के साथ-साथ उसे पुनर्जीवित और अधिक ब्राइट करने में मदद करेंगे।

इसे जरूर पढ़ें: नाखून को मजबूत और सुंदर बनाएंगे ये DIY हैक्स, एक बार जरूर करें ट्राई

रेटिनोल

 natural cream inside

एंटी-एजिंग आई क्रीम में रेटिनोल एक सबसे अच्छा इंग्रीडिएंट माना गया है। विटामिन ए का डेरिवेटिव, रेटिनॉल एक बेहतरीन इंग्रीडिएंट है जो कोलेजन उत्पादन को बढ़ावा देता है और सेल-टर्न ओवर में सुधार करता है। इसका मतलब यह है कि यह न केवल आपके अंडर-आई क्षेत्र को चमकदार दिखता है, बल्कि आंखों के क्षेत्र के आसपास की महीन रेखाओं और झुर्रियों को कम करने में सक्रिय भूमिका निभाता है।

कैफीन

 natural cream inside

अगर आपको आई पफनेस और अंडर-आई बैग्स की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो कैफीन युक्त आई क्रीम आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन है। कैफीन एक वैसोकॉन्स्ट्रिक्टर है, जिसका अर्थ है कि यह रक्त वाहिकाओं के डायमीटर को सिकोड़ने में मदद करता है। इससे आंख के चारों ओर काले घेरे और पफनेस को कम करने में मदद मिलती है।

इसे जरूर पढ़ें: DIY: जानें चाय से कैसे बालों को किया जा सकता है काला

न्यूरो पेप्टाइड्स

 natural cream inside

यदि आपकी स्किन सुपर-सेंसिटिव है, तो ऐसे में रेटिनॉल आपकी स्किन के लिए समस्या खड़ी कर सकता है। ऐसे में आप रेटिनॉट के बजाय पेप्टाइड्स युक्त आई क्रीम का चयन करें। वे त्वचा पर एक बहुत अच्छे हैं और रेटिनोल की तरह, कोलेजन और इलास्टिन उत्पादन को प्रोत्साहित करते हैं, जिससे त्वचा अधिक फर्म और युवा दिखाई देती है।

विटामिन सी

 natural cream inside

विटामिन सी से भरपूर आई क्रीम कोलेजन उत्पादन को बढ़ाकर उम्र बढ़ने और फाइन लाइन्स के संकेतों से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। यह आपकी अंडर आई को एक ब्राइटर अपीयरेंस देते हैं और एज स्पॉट्स और हाइपरपिग्मेंटेशन को भी कम करने में मदद करते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik