क्या आप आईब्रोज़ थ्रेडिंग के दर्द से परेशान हैं ? क्या ये दर्द कई बार इतना ज्यादा असहनीय हो जाता है कि आपके आंसू तक निकल आते हैं? अगर हां, तो इस दर्द ये छुटकारा पाने के लिए कुछ आसान युक्तियां अपनाई जा सकती हैं। 

आजकल आईब्रोज़ को थ्रेडिंग करवाना न सिर्फ हमारी जरूरत है, बल्कि सही आकार में सेट की गई आईब्रोज़ हमारी खूबसूरती को भी निखारती हैं। लेकिन थ्रेडिंग की प्रक्रिया अक्सर इतनी दर्द भरी होती है कि थ्रेडिंग करवाने से पहले कई बार सोचना पड़ता है। 

थ्रेडिंग धागे की सहायता से आईब्रोज़ को सही आकार में लाने का एक अच्छा तरीका है। इस प्रक्रिया में आइब्रो के अनचाहे बालों को हटाया जाता है और इसे चेहरे के आकार के हिसाब से सुंदर शेप दिया जाता है। ये पूरी प्रक्रिया चेहरे की खूबसूरती तो बढ़ाती है लेकिन इसमें दर्द भी सहना पड़ता है। अगर आप भी थ्रेडिंग के समय होने वाले दर्द से परेशान हैं तो आइए सुप्रसिद्ध कॉस्मेटोलॉजिस्ट ऐस्थिटीशियन व एल्पस ब्यूटी क्लीनिक एंड एकेडमी की फाउंडर डॉयरेक्टर, भारती तनेजा जी से जानें इससे बचने के कुछ आसान नुस्खे। 

बर्फ का करें इस्तेमाल 

ice use threading

अत्यधिक ठंडे तापमान से बालों के रोम कमजोर हो जाते हैं और त्वचा सुन्न हो जाती है। जब आप आईब्रोज़ में थ्रेडिंग करा रही हों उससे पहले आइब्रो के आस-पास वाले हिस्से में बर्फ के टुकड़े रगड़ें या ठंडे पानी से चेहरा अच्छी तरह से धोएं। बर्फ का इस्तेमाल करें या ठंडे पानी से अपना चेहरा अच्छी तरह धोने से थ्रेडिंग के दर्द को कम किया जा सकता है। 

प्रो टिप्स 

भारती तनेजा जी बताती हैं कि जब भी आप आइब्रो थ्रेडिंग कराने जाएं उससे थोड़ी देर पहले बर्फ के एक टुकड़े को पॉलिथीन में डालकर आइब्रो वाले हिस्से पर रगड़ें। इससे आइब्रो वाला हिस्सा सुन्न हो जाता है और थ्रेडिंग के समय दर्द नहीं होता है। 

आइब्रो थ्रेडिंग वाले हिस्से को तीन भागों में बांटें 

थ्रेडिंग के समय आइब्रो को ऊपर और नीचे से कसकर पकड़ें और आइब्रो को तीन हिस्सों में बांट लें। सबसे पहले फ्रंट वाले हिस्से को ऊपर और नीचे से तेजी से पकड़कर  थ्रेडिंग कराएं। फिर बीच वाले हिस्से को तेजी से ऊपर और नीचे से पकड़कर थ्रेड कराएं और आखरी में सबसे किनारे वाले हिस्से को पकड़कर थ्रेडिंग कराएं। ऐसा करने से थ्रेडिंग के समय होने वाले दर्द से बचा जा सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:पहली बार करवाने जा रही हैं आईब्रो थ्रेडिंग तो इन बातों पर जरूर दें ध्यान

च्विंगम चबाएं 

आईब्रोज़ थ्रेडिंग के दर्द से बचने के लिए च्विंगम चबाना भी एक कारगर तरीका है। यदि आप आईब्रोस की थेडिंग के समय तेजी से च्विंगम चबाती हैं तो दर्द कम हो जाता है और थ्रेडिंग प्रक्रिया थोड़ी आसान भी हो जाती है।  

टैल्कम पाउडर का करें इस्तेमाल 

use talcome powder

हालांकि जब आप सलून में थ्रेडिंग करवाती हैं तब टैलकम का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन कई बार जरूरी नहीं है कि यह प्रक्रिया सही ढंग से की जाए इसलिए यदि आप थ्रेडिंग के दर्द से बचना चाहती हैं तो सही टैल्कम पाउडर का चुनाव करें और थ्रेडिंग से पहले इसे अच्छी तरह आइब्रो (क्यों होती है आइब्रो डैंड्रफ) वाले हिस्से में लगाएं। टैल्कम पाउडर को त्वचा में जोर से रगड़ें जिससे इसक्षेत्र से सभी अतिरिक्त नमी और तेल को अवशोषित किया जा सके। तब नमी अच्छी तरह सूख जाती है तब थ्रेडिंग के समय काफी कम दर्द होता है। 

Recommended Video

आईब्रोज़ के हिस्से को तेजी से रगड़ें 

यदि आप आईब्रोस थ्रेडिंग की प्रक्रिया को दर्द रहित बनाने की सोच रही हैं तो इससे पहले आइब्रो वाले हिस्से को तेजी से रगड़ें। रगड़ने से आसपास की त्वचा उत्तेजित हो जाती है और यह अतिरिक्त तेल और नमी से भी छुटकारा दिलाती है। कोशिश करें कि आईब्रोस के बीच वाले हिस्से को तेजी से रगड़ें जिससे थ्रेडिंग के समय दर्द से बचा जा सके। 

इसे जरूर पढ़ें:आई मेकअप को बनाना है परफेक्ट तो कुछ इस तरह चुनें आई ब्रो पेंसिल

एलोवेरा जेल लगाएं 

apply ale vera gel

अगर थ्रेडिंग के बाद भी आपको आईब्रोज़ वाले हिस्से में जलन हो रही है तो इसे शांत करने के लिए थोड़ा सा एलोवेरा जेल लगाएं। यह थ्रेडिंग के बाद त्वचा की जलन शांत करने में मदद करता है। 

कम ग्रोथ होने पर ही करवाएं थ्रेडिंग 

हमेशा आईब्रोज़ थ्रेडिंग करवाते समय इस बात का ध्यान रखें कि बहुत ज्यादा ग्रोथ होने से पहले ही थ्रेडिंग करा लें। आइब्रोज़ में ज्यादा ग्रोथ होने पर थेडिंग की प्रक्रिया ज्यादा दर्द भरी हो सकती है। इसलिए अपनी ग्रोथ के हिसाब से सही समय अंतराल में ही थ्रेडिंग करवाएं। 

उपर्युक्त सभी नुस्खे आजमाकर आप आईब्रोस थ्रेडिंग में होने वाले दर्द से भी बच सकती हैं और अपनी खूबसूरती भी कायम रख सकती हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik and shutterstock