आंखों के आस-पास की त्वचा बहुत ही ज्यादा सेंसिटिव होती है और भले ही आप अपना कितना भी ख्याल रखें कई बार आंखों के आस-पास सूजन, झुर्रियां, काले घेरे आदि आ ही जाते हैं। इससे कोई मतलब नहीं कि आप 8 घंटे की नींद लेते हैं या नहीं, अपनी आंखों के लिए कितने ट्रीटमेंट लेते हैं या फिर आप किस तरह की एंटी-एजिंग क्रीम लगा रहे हैं। ये जरूरी है कि आप सही तरह की क्रीम्स अपने लिए चुनें ताकि आपके लिए सही तरह का ट्रीटमेंट हो सके। 

अगर आपको स्ट्रेस और खराब लाइफस्टाइल के कारण ये समस्या हो रही है तो सही अंडर आई क्रीम आपके लिए बेस्ट साबित हो सकती है। पर कई लोगों को ये समझने में परेशानी होती है कि आखिर वो अपने लिए सही तरह की आई क्रीम कैसे चुनें। हम आपको बताते हैं कि आप अपने लिए सही आई क्रीम कैसे चुन सकते हैं-

1. पफीनेस के लिए आई क्रीम-

आंखों में पफीनेस कई कारणों से आ सकती है जैसे कम सोने के कारण, जिनेटिक्स के कारण, ज्यादा नमक खाने के कारण, कार्ब्स ज्यादा लेने के कारण आदि। कई बार यहां के आस-पास की नसें भी सूजी हुई होती है और अगर आपको पफीनेस की समस्या है तो कैफीन जैसे किसी इंग्रीडियंट से भरपूर आई क्रीम लेनी चाहिए। 

इसी के साथ, ऐसी क्रीम्स चुनें जो मेटल रोलरबॉल के साथ आती हों ताकि आंखों के आस-पास के एरिया की मसाज हो सके। तो आप अपनी आई क्रीम में ये दो इंग्रीडियंट्स जरूर चुनें अगर आपको पफीनेस से छुटकारा पाना है तो। 

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- डार्क सर्कल और आंखों के नीचे की झुर्रियों से हैं परेशान? ये 8 अंडर आई क्रीम कर सकती हैं मदद

2. आंखों की झुर्रियों के लिए आई क्रीम-

आंखों के आस-पास की स्किन में झुर्रियां सबसे ज्यादा इसलिए होती हैं क्योंकि यहां ड्राईनेस सबसे ज्यादा असर करती है। ड्राईनेस बढ़ने से यहां डेड स्किन भी इकट्ठा होती है जिससे डार्क सर्कल्स बन जाते हैं। आप कितना भी धो लें ये समस्या बढ़ती ही जाएगी। 

eye cream for puffiness

ऐसे में आपके लिए वो क्रीम चुनना सही है जिसमें ड्राइनेस खत्म करने और झुर्रियों को रोकने की क्षमता हो। इसके लिए सिरामाइड्स और लिपिड्स जैसे इंग्रीडियंट्स वाली आई क्रीम को चुनें। ये स्किन के मॉइश्चर लॉस को कम करती है और ड्राईनेस को भी खत्म करती है। एक बार यहां की ड्राईनेस आदि खत्म होने लगे तो ये समस्या भी खत्म हो जाती है। 

इसे जरूर पढ़ें- चेहरे को कंसील करने से लेकर लिप्स को सॉफ्ट बनाने में मदद करती है आई क्रीम, जानिए कैसे 

3. डार्क सर्कल्स के लिए कौन सी आई क्रीम है बेस्ट? 

डार्क सर्कल्स का अहम कारण जिनेटिक समस्याएं हो सकती हैं और यही कारण है कि कई लोगों के डार्क सर्कल्स पूरी तरह से नहीं मिटते हैं चाहें वो कुछ भी कर लें। पर अगर ये जिनेटिक नहीं है तो नींद में कमी, ज्यादा लंबे समय तक स्क्रीन को देखना, खाने-पीने की खराब आदतें, स्ट्रेस, अनीमिया आदि भी इसका जिम्मेदार हो सकता है।  

इसके लिए आपको विटामिन सी और रेटिनॉल आधारित आईक्रीम लेनी चाहिए जो आपकी समस्याओं को थोड़ा कम कर सके। ये कोलीजन प्रोडक्शन को सही कर आपकी स्किन को अच्छा बनाती है और फाइन लाइन्स को भी कम कर सकती है।  

तो अगली बार अपने लिए अंडर आई क्रीम चुनते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।