आजकल मार्केट में कई सारे शैम्पू और कंडीशनर मिकते हैं। हर कोई दावा करता है कि उनका शैम्पू अच्छा है तो फलाने का शैम्पू बेकार। इन दावों का एक ही लक्ष्य होता है- ग्राहकों को आकर्षित करना। 

ग्राहक आकर्षित होते भी हैं तभी तो ये सारी चीजें बाजार में बिक रही हैं। लेकिन ग्राहकों को इन सारी चीजों से बचकर रहना चाहिए। साउथ दिल्ली की आरडी सलुन की ब्यूटीशियन रितु धारीवाल कहती हैं कि ग्राहकों को भ्रम में डालने के लिए बहुत सारे प्रोडक्ट बाजार में उतार दिए गए हैं और दावा किया जाता है कि इनसे उनके बाल झड़ना बंद हो जाते हैं और बालों में चमक आती है। लेकिन कोई यह नहीं बताता है कि इसमें मौजूद केमिकल्स हमारे बालों और स्कैल्प को काफी अधिक नुकसान पहुंचाते हैं। लेकिन बिना शैम्पू किए हम रह भी नहीं सकते। इसलिए हमें ऐसा शैम्पू यूज़ करना चाहिए जो हमें सूट करते हैं और कम से कम नुकसान पहुंचाते हैं। 

आज इस आर्टिकल में हम इन्हीं केमिकल्स से होने वाले नुकसानों के बारे में बात करेंगे जो आपको नहीं मालूम होंगे। 

बार-बार ना बदलें शैम्पू

बाजार में हर महीने नया शैम्पू आता है। इसलिए इन नए शैम्पू के चक्कर में बिल्कुल भी ना पड़ें और बार-बार शैम्पू ना बदलें। हमेशा वही शैम्पू यूज़ करें जो आपके बालों पर सूट करता हो। सल्‍फेट फ्री शैंपू का इस्तेमाल करें। 

shampoo related facts in monsoon inside

एक घंटे पहले बालों में करें तेल

आजकल लड़कियां रोज शैम्पू करती हैं। जबकि रोज शैम्पू करने से बालों को नुकसान पहुंचता है। हर दूसरे दिन में शैम्पू करना चाहिए और शैम्पू करने से एक घंटे पहले बालों में तेल जरूर लगा लेना चाहिए। बिना तेल लगाए शैम्पू करने से बाल ड्राय हो जाते हैं और हेयर फॉल की समस्या हो जाती है। इसलिए शैम्पू करने से एक घंटे पहले तेल जरूर लगाएं। इससे बाल मुलायम बनेंगे और टूटेंगे नहीं। (Read More: मानसून में लंबे बाल नहीं होंगे चिपचिपे, अगर ट्राय करेंगी कॉफी हेयर मास्क)

कम शैम्पू है काफी

बालों को सिल्की एंड शाइन बनाने के लिए कम शैम्पू ही काफी होता है। कुछ लोगों को लगता है कि बालों में जितना अधिक शैम्पू यूज़ करेंगी बाल उतने अधिक मजबूत और शाइन बनेंगे। लेकिन ऐसा नहीं है। अगर कम शैम्पू से बाल सॉफ्ट बन जाते हैं तो उतना काफी है। क्योंकि अधिक मात्रा में शैम्पू यूज़ करने से उसमें मौजूद केमिकल्स हमारे बालों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए एक रुपए के सिक्‍के के आकार से ज़्यादा शैंपू का इस्‍तेमाल ना करें।

shampoo related facts in monsoon inside

स्कैल्प को ना रगड़ें

यह बात आपको जरूर नहीं मालूम होगी और आप यह गलती करती ही होंगी। हर की करता है। दरअसल शैम्पू करने के दौरान लोग बालों में से गंदगी साफ करने के लिए स्कैल्प को रगड़ते हैं और सोचते हैं कि इससे स्कैल्प पूरी तरह से साफ हो जाएंगे। जबकि ऐसा नहीं है। इससे स्कैल्प कमजोर हो जाते हैं और बालों के झड़ने की समस्या शुरू हो जाती है। साथ ही बहुत अधिक शैम्पू स्कैल्प में चले जाते हैं जिससे रुसी की समस्या भी हो जाती है। इसलिए शैम्पू करने के दौरान स्कैल्प को कभी नहीं रगड़ें। 

shampoo related facts in monsoon inside

कंडीशनर जरूर यूज़ करें

शैम्पू करने के बाद कंडीशनर जरूर यूज़ करना चाहिए। कंडीशनर बालों को सॉफ्ट बनाते हैं। याद रखिएगा, शैम्पू केवल आपके बालों की गंदगी को साफ करते हैं। बालों को सॉफ्ट और शाइन बनाने का काम कंडीशनर को होता है। इसलिए शैम्पू करने के बाद बालों में कंडीशनर का इस्तेमाल जरूर करें। 

बालों को ठंडे पानी से धोएं

शैम्पू करने के बाद बालों को हमेशा ठंडे पानी से धोने चाहिए। गर्म पानी से बालों को धोने पर स्कैल्प में मौजूद एसेंशियल ऑयल निकल जाता है। जिससे बालों की जड़ें कमज़ोर होती हैं। ठंडे पानी से बालों को धोने पर बालों के रोमछिद्र मज़बूत होते हैं और बाल जड़ से मज़बूत बनते हैं। ठंड के मौसम में भी बालों को गर्म पानी से धोने के बजाय बिल्कुल हल्के गर्म गुनगुने पानी से धोएं। 

तो शैम्पू करने समय इन बातों का ख्याल रखें और बालों को मजबूत बनाएं। 

Recommended Video

Read More: Glycerin को बनाइये अपने बालों का कंडिश्नर जो रखेगा उन्हें silky