अपनी त्‍वचा का ध्‍यान तो आप खुद रख सकती हैं, मगर क्‍या अपके बच्‍चे भी अपनी त्‍वचा की उचित देखभाल करना जानते हैं। शायद नहीं, क्‍योंकि बच्‍चों को खेल-कूद में इस बात का आभास भी नहीं हो पाता है कि उनके चेहरे पर धूल-मिट्टी जम रही है और इससे उनकी त्‍वचा प्रभावित हो रही है। 

ऐसे में आपके लिए अपने बच्‍चों की त्‍वचा की एक्‍सट्रा केयर करना बहुत जरूरी हो जाता है। वैसे तो बाजार में आपको कई महंगे प्रोडक्‍ट्स मिल जाएंगे, जिन्‍हें खासतौर पर बच्‍चों की त्‍वचा की देखभाल के लिए तैयार किया गया होता है। मगर आप अपने बच्‍चे की त्‍वचा की देखभाल नेचुरल अंदाज में करना चाहती हैं तो टीवी एक्‍ट्रेस जूही परमार द्वारा बताए गए इस खास उबटन का इस्‍तेमाल जरूर करें। 

चलिए हम आपको इस होममेड उबटन को बनाने की आसान विधि बताते हैं- 

इसे जरूर पढ़ें: आपकी त्वचा के लिए कौन सा उबटन है बेस्ट, जानिए इसे बनाने का सही तरीका

सामग्री 

  • 1 बड़ा चम्‍मच बेसन 
  • 1 बड़ा चम्‍मच कच्‍चा दूध 
  • 1/2 बड़ा चम्‍मच गुलाब जल 

विधि 

एक बाउल लें और इन तीनों ही सामग्रियों को आपस में मिला दें और स्‍मूद पेस्‍ट तैयार कर लें। इसके बाद आप इसे बच्‍चे के चेहरे, गर्दन और हाथ-पैर में लगा सकती हैं। इस होममेड उबटन को हाथों को सर्कुलर मोशन में घुमाते हुए त्‍वचा पर लगाएं और इसे 30 मिनट तक लगा रहने दें। इसके बाद आप इसे हल्‍के हाथों से रगड़ते हुए छुड़ा लें। इसके बाद आप बच्‍चे के चेहरे को गुनगुने पानी से वॉश करवा लें। 

आप इस उबटन को नियमित रूप से बच्‍चे के चेहरे पर लगा सकती हैं। यदि आपके पास रोज इस प्रक्रिया को दोहराने का वक्‍त नहीं है तो हफ्ते में 2-3 बार इस उबटन का इस्‍तेमाल जरूर करें। इस उबटन के इस्‍तेमाल से बच्‍चों की त्‍वचा सॉफ्ट हो जाएगी और त्‍वचा में मौजूद इंप्‍योरिटीज भी दूर हो जाएंगी। 

इसे जरूर पढ़ें: Skin care Tips: इन 5 उबटनों से ग्लोइंग त्वचा के साथ यंग लुक पाएं

homemade  ubtan  for  kids

त्‍वचा के लिए बेसन के फायदे 

  • अगर आपके बच्‍चे की त्‍वचा ऑयली है तो बेसन का इस्‍तेमाल करने से बहुत लाभ मिलेगा। इतना ही नहीं, बेसन से बच्‍चे की त्‍वचा में सॉफ्टनेस भी बरकरार रहेगी। 
  • कई बच्‍चों के चेहरे पर बाल होते हैं। इन बालों को भी बेसन से तैयार उबटन की मदद से हटाया जा सकता है। यदि बेसन से बने उबटन को रोज त्‍वचा पर लगाया जाए तो बाल नेचुरली झड़ना शुरू हो जाते हैं। हां, इस बात का ध्‍यान रखें कि उबटन को त्‍वचा पर जोर से रगड़ें नहीं। 
  • घर के बाहर जब बच्‍चे खेलने जाते हैं तो धूप और धूल-गर्द के कारण उनकी त्‍वचा में टैनिंग होने लग जाती है। खासतौर पर बच्‍चों की गर्दन काली पड़ने लग जाती है। यदि वक्‍त रहते इस पर ध्‍यान दिया जाए तो बच्‍चे की गर्दन को काला होने से बचाया जा सकता है। इसके लिए आप बेसन का लेप इस्‍तेमाल करें, इससे बहुत फायदा मिलेगा।  
kids  skin  care  tips

त्‍वचा के लिए दूध के फायदे 

  • कच्‍चा दूध त्‍वचा के लिए किसी वरदान से कम नहीं होता है। वैसे तो दूध का इस्‍तेमाल स्किन टाइटनिंग में बहुत मददगार होता है, मगर बच्‍चों की त्‍वचा में पहले से ही कसाव होता है। इसलिए बच्‍चों की त्‍वचा पर कच्‍चे दूध का इस्‍तेमाल आप मॉइश्‍चराइजर के रूप में कर सकती हैं। 
  • कच्‍चा दूध बहुत ही अच्‍छा नेचुरल स्किन टोनर होता है। खासतौर पर ऑयली स्किन वालों के लिए कच्‍चा दूध बेहद फायदेमंद होता है। इतना ही नहीं, यह त्‍वचा के टिशूज को मजबूत बनाता है और त्‍वचा में फ्लेक्सिबिलिटी लाता है। 
  • खेलने-कूदने के दौरान बच्‍चों के चेहरे पर धूल-मिट्टी चिपक जाती है। साधारण पानी से चेहरे को धोने से स्किन पोर्स में छुपे धूल-मिट्टी के कण साफ नहीं हो पाते हैं। ऐसे में कच्‍चा दूध फेस क्‍लींजर का काम भी करता है। आप कॉटन के पफ को कच्‍चे दूध में डिप करके बच्‍चे के चेहरे की सफाई कर सकती हैं। 
  • कच्‍चे दूध में ब्‍लीचिंग प्रॉपर्टीज भी होती हैं। यह त्‍वचा में बनने वाले मेलेनिन हार्मोन को नियंत्रित रखता है। नियमित रूप से त्‍वचा पर कच्‍चा दूध लगाने से रंग भी निखरता है। 
besan  ubtan  for  kids

त्‍वचा के लिए गुलाब जल के फायदे 

  • गुलाब जल की अच्‍छी खुशबू होने के कारण यह बच्‍चों को काफी पसंद होता है। गुलाब जल में स्किन व्‍हाइटनिंग गुण होते हैं। यदि इसे रोज बच्‍चों के चेहरे पर लगाया जाए तो इससे रंग में निखार आता है। 
  • त्‍वचा के पीएच बैलेंस को बनाए रखने के लिए भी गुलाब जल का इस्‍तेमाल करना बेहद जरूरी है। 
  • गुलाब जल एंटीबैक्‍टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी भी होता है। इसे नियमित रूप से त्‍वचा पर लगाने से किसी भी प्रकार के इन्‍फेक्‍शन से त्‍वचा को बचाया जा सकता है। 
  • गुलाब जल त्‍वचा को हाइड्रेटेड रखता है और उसे ड्राई नहीं होने देता है। 

Recommended Video

आप भी यह उबटन अपने बच्‍चों के चेहरे पर लगा सकती हैं। अगर बच्‍चे की त्‍वचा बहुत अधिक सेंसिटिव है तो पहले त्‍वचा विशेषज्ञ से बात कर लें। इसके बाद ही इस उबटन को बच्‍चे के चेहरे पर लगाएं। 

यह आर्टिकल आपको अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी ब्‍यूटी से जुड़े आर्टिकल पढ़ने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik