मौसम कोई भी हो मगर पॉल्‍यूशन से त्‍वचा का खराब होने का खतरा हमेशा रहता है। मगर आप अगर इन समस्‍यों को दूर भगाने के लिए कोई घरेलू उपाय खोज रही हैं तो बीटरूट यानी चुकंदर से बहतर और कोई विकल्‍प नहीं हो सकता।

विटामिन सी से भरपूर बीटरूट न केवल सेहत के लिए बल्कि स्किन के लिए भी बहुत ही फायदेमंद है। कुछ स्‍टडीज के मुताबिक इसमें मौजूद एंटी ऑक्‍सींट्स त्‍वचा के कोलेजन के स्‍तर को बढ़ाते हैं, साथ ही स्किन को फ्लेक्‍सीबल बनाते हैं। चुकंदर का स्किन पर इस्‍तेमाल करने से धूल मिट्टी से होने वाले स्किन इंफेक्‍शन से भी राहत मिल जाती है।

चुकंदर का रोजाना त्‍वचा पर इस्‍तेमाल करने से डेड स्किन की शिकायत भी कम हो सकती है। इतना ही नहीं, स्किन के लिए बीटरूट के और भी कई फायदे हैं। आइए कुछ फायदे हम आपको बताते हैं। 

Read More: इस Summer ज़रूर ट्राय करें यह cool आउटफिट्स

beetroot skin benefits ()

पिंपल फ्री स्किन के लिए 

अगर आपकी स्किन ऑयली है तो इस से त्‍वचा में एक्‍ने और पिंपल की समस्‍या हो जाती है। जिनकी त्‍वचा पहले से ऑयली है उनके लिए यह समस्‍या और भी बढ़ जाती है। बाजार में ऑयल कंट्रोल करने वाली वैसे तो कई क्रीम्‍स और जैल्‍स आते हैं मगर बीटरूट से अच्‍छा समाधान इस समस्‍या का और कोई नहीं हो सकता है। दरअसल बीटरूट एंटी इनफ्लामेट्री और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। यह त्‍वचा के ऑयल को कंट्रोल करके उसे नॉर्मल बनाए रखने में हैल्‍प करता है। आप चाहें तो घर पर बीटरूट, क्‍यूकंबर और ऑरेंज पल्‍प को मिक्‍स करके एक फेस बैक तैयार कर सकती हैं और इसे रोजाना दिन में एक बार चहरे पर लगा सकती हैं। इसे आपके चहरे पर ऑयल भी नहीं आएगा और पिपंल से भी आपको काफी राहत मिल जाएगी। 

Read More: दादी मां का नुस्खा- अगर नहीं ठीक हो रहे हैं पिंपल्स तो यूज़ करें बर्फ का टुकड़ा

स्किन पर लाता है ग्‍लो

बीटरूट में विटामिंस, मिनरल्‍स और आयरन का खजाना होता है। इसे त्‍वचा पर एप्‍लाई करने से त्‍वचा में इंस्‍टेंट चमक आती है। धूल मिट्टी और गंदगी से त्‍वचा में बनने वाले डेड सेल्‍स भी बीटरूट के रोजाना इस्‍तेमाल से खत्‍म हो जाते हैं और उनके स्‍थान पर नए सेल्‍स बनने लगते हैं। इससे आपके चहरे पर अनोखी सी चमक आजाती है। आप चाहें तो बीटरूट का रस निकालकर चहरे पर रोज लगा सकती हैं। 

चहरे की रंगत को निखारता है

फेयर कलर कॉमप्‍लेक्‍श हर लड़की का सपना होता है मगर  तेज धूप लड़कियों के इस सपने को पूरा नहीं होने देती बल्कि तेज धूप से त्‍वचा पर टैनिंग हो जाती है। मगर इससे बचा जा सकता है। त्‍वचा को निखारने और टैनिंग को खत्‍म करने के लिए रोजाना रात में सोने से पहले आपको बीटरूत में लेमन जूस मिला कर 15 मिनट के लिए चहरे पर लगाना होगा। इसके बाद चहरे को ठंडे पानी से वॉश कर लें। आपको हफ्ते भर में ही असर साफ दिखने लगेगा।

beetroot skin benefits ()

डार्क स्‍पॉट करता है कम 

बीटरूट एक नेचुरल ब्‍लड प्‍योरीफायर होता है। इसे पीने के साथ ही चहरे पर लगाने से चेहरे के दाग-धब्‍बे भी कम हो जाते हैं। इसके आपको मुलतानी मिट्टी में थोड़ा सा बीटरूट का रस मिला कर पैक तैयार करना होगा। इस पैक को रोज लगाने से चले, कटे और पिपंल के दाग त्‍वचा से साफ हो जाते हैं। 

डार्क सर्किल हो जाते हैं गायब

आज के तकनीकी युग में सभी मोबाइल और लैपटॉप में लगे रहते हैं। कई महिलाएं तो कम के चक्‍कर में पूरी नींद भी नहीं ले पातीं। हालाकि यह आदते उन्‍हें सधारनी चाहिएं मगर इन सब वजह से आपके डार्क सर्किल हो गए हों तो बीटरूट इसमें भी काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए चुकंदर के रस से रोज अपनी आंखों के आसपास मालिश करें। कुछ समय बाद ही यह डार्क सर्किल्‍स हल्‍के हो जाएंगे। 

होठ और त्‍वचा हो जाती है गुलाबी 

गुलाबी होंठ और त्‍वचा भला किस लड़की को नहीं चाहिए होती है। बल्कि कई लड़कियां तो इसके लिए आर्टीफीशियल चीजों को भी इस्‍तेमाल करती हैं। मगर बीटरूट के इस्‍तेमाल से आपके होंठ और त्‍वचा में नैचुरल गलाबीपन आ जाएगा। इसके लिए आप अपने चहरे की रोजाना बीटरूट और गाजर के रस से मसाज करें। कुछ ही समय बात आपको फर्क देखने को मिल जाएगा । 

नोट- बताए गए इन घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल बिना स्किन पैच टेस्ट के न करें। त्वचा सेंसिटिव है तो पहले स्किन एक्सपर्ट से परामर्श करें और तब ही इस फेस पैक का इस्तेमाल करें। हम ऐसा कोई भी दावा नहीं कर रहे हैं कि इन घरेलू नुस्खों को आजमा कर आपकी त्वचा को लाभ जरूर मिलेगा। इसलिए आप इनका प्रयोग करते वक्त पूरी सावधानी बरतें।

Recommended Video