जब बात फिल्‍मों की होती है और शानदार लव स्‍टोरीज की कल्‍पना की जाती है तो 'चांदनी', 'दिल तो पागल है', 'कभी-कभी' और 'सिलसिले' जैसी कई फिल्‍मों के नाम जहन में उभर आते हैं। यह सभी फिल्‍में बनाने वाले कोई और नहीं बॉलीवुड के रोमांस किंग यश चोपड़ा थे। यश को रोमांस किंग केवल इसलिए नहीं कहा जाता था क्‍योंकि वह हमेशा 'लव स्‍टोरी' बनाते थे बल्कि यश को खूबसूरती से प्‍यार था और प्‍यार से ज्‍यादा खूबसूरत चीज उन्‍हें और कोई नहीं लगती थी। मगर दर्जनों लव स्‍टोरीज बनाने वाले रोमांस किंग ने खुद पामेला चोपड़ा से अरेंज मैरिज की थी। 

बेशक यश चोपड़ा आज हमारे बीच में नहीं हैं, मगर उनकी शादी के बाद वाली लव स्‍टोरी आपको काफी पसंद आएगी। 

इसे जरूर पढ़ें: इन टीवी एक्‍ट्रेसेस ने अपने को-स्‍टार से शादी टूटने पर भी नहीं की उनकी कभी बुराई

 Interesting  Love  Story  yash raj chopra

कब देखी पहली झलक 

रेडिफ डॉट कॉम को दिए एक पुराने इंटरव्‍यू में पामेला चोपड़ा से जब पूछ गया था कि उन्‍होंने पहली बार यश जी को कब देखा था तो उन्‍होंने कहा, ' मैं अपनी 2 कजिन के साथ दिल्‍ली में हो रहा क्रिकेट मैच देखने गई थी। मेरी दोनों बहनों को क्रिकेट में कोई दिलचस्‍पी नहीं थी, मगर वहां आने वाले सेलिब्रिटीज को देखना उन्‍हें अच्‍छा लगता था। मेरे को भी क्रिकेट में रुचि नहीं थी, मैं तो फिल्‍म लवर थी। क्रिकेट मैच के दौरान मेरी बहनों को यश चोपड़ा नजर आए और वह दोनों ही मुझे भी उन्‍हें देखने के लिए कहने लगी। सच कहूं तो मुझे तब यश जी की फिल्‍मों से ज्‍यादा अच्‍छी राजकपूर जी (राज कपूर की पुरानी तस्‍वीरें) की फिल्‍में लगती थीं। मेरी बहनों की आवाज यश जी तक पहुंची तो वह पीछे मुड़ कर देखने लगे। पहली बार मैंने उनकी झलक तब ही देखी थी। मेरी बहने काफी सुंदर थीं और यश जी को सुंदर चीजों को देखना अच्‍छा लगता था। कुछ देर वह हमें देख कर मुस्‍कुराते रहे। '

इसे जरूर पढ़ें: Neelam Kothari Tragic Love Life: ब्रेकअप और शादी टूटने के बाद मिला सच्‍चा जीवनसाथी

कब हुई पहली मुलाकात 

मगर यह उनकी मोहब्‍बत का आगाज नहीं था क्‍योंकि दोनों ने तब एक दूसरे को देखा भर था। दोनों की बातचीत पहली बार तब हुई थी जब पामेला मुंबई में यश चोपड़ा की भतीजी के संगीत में पहुंची। आपको बता दें कि यश और पमेला दोनों के ही परिवार एक दूसरे को पहले से जानते थे। सिमी गरेवाल भी पामेला की कजिन हैं। मुंबई में वह सिमी गरेवाल के घर ही रुकी थीं। यश चोपड़ा ने सिमी गरेवाल को अपने घर भतीजी के संगीत के लिए न्‍योता दिया था, तब पामेला भी उनके साथ ही वहां गई थीं। पामेला बताती हैं, 'जब में यश जी के घर गई तो वह काफी व्‍यस्‍त थे। जब संगीत का कार्यक्रम शुरू हुआ और मैंने गाना शुरू किया तब यश जी मेंरे पास आए और मेरी आवाज की तारीफ की। बस यही थी हमारी पहली मुलाकात।' 

Love Stories yash chopra

कैसे हुई शादी 

एक दूसरे से मिलने के बाद और एक दूसरे को जानने के बाद भी यश और पामेला चोपड़ा की अरेंज मैरिज हुई थी। यह शादी उनके कॉमन फैमिली फ्रेंड एवं वेटरेन एक्‍टर रोमेश शर्मा की मां ने करवाई थी। पामेला बताती हैं, 'यश और मेरी शादी की बात सबसे पहले यश जी की भाभी ने शुरू की थी। जब मैं शादी को लेकर पहली बार यश जी से मिली तो उन्‍होंने छूटते ही मुझसे पूछा कि क्‍या हम पहले भी मिल चुके हैं? मैंने कहा 'कब' तो उन्‍होंने मुझे ध्‍यान दिलाते हुए कहा 'दो बार मिल चुके हैं। पहली बार क्रिकेट ग्राउंड पर, दूसरी बार मेरे घर पर।' बाद में जब हमसे हमारे पेरेंट्स ने पूछा कि शादी का क्‍या ख्‍याल है तो हम दोनों ने ही एक दूसरे को रिजेक्‍ट कर दिया था।' मगर किस्‍मत को शायद कुछ और ही मंजूर था। दोनों ने वर्ष 1970 में अरेंज मैरिज कर ली थी।  (पति से उम्र में बड़ी हैं टीवी की ये 5 फेमस एक्‍ट्रेसेस)

शादी के बाद क्‍या आए बदलाव 

शादी के बाद यश अपनी वाइफ पामेला का ख्‍याल तो बहुत रखते थे, मगर उनके साथ वक्‍त बिताने के लिए उनके पास समय नहीं था। पामेला ने इंटरव्‍यू में बताया, 'मैं हाउस वाइफ थी। यश जी बेशक रोमांटिक फिल्‍में बनाते थे मगर वह असल लाइफ में बिलकुल रोमांटिक नहीं थे। मुझे समझ में आ गया था कि अगर मुझे अपने पति के साथ वक्‍त बिताना है तो मुझे उनके साथ काम करना होगा। मैंने भी काम में रुचि दिखाई और यश जी ने मुझे अपने साथ इनवॉल्‍व करना शुरू कर दिया। बस मुझे यह बात अच्‍छी नहीं लगती थी कि यश जी काम के चक्‍कर में बच्‍चों का बर्थ डे तक भूल जाते थे। ' 

Recommended Video

गौरतलब है, यश राज चोपड़ा एक कामयाब फिल्‍म मेकर थे। उनकी बनाई फिल्‍में आज भी नई सी लगती हैं। पामेला चोपड़ा के साथ यश जी का साथ उनके निधन वर्ष 2012 तक रहा। 

अगर आपको बॉलिवुड से जुड़ी और भी रोचक खबरें पढ़नी हैं, तो जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: rediff.com