• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

शनि के गोचर से इन राशियों पर हो सकता है असर, शनि की ढैय्या के ज्योतिषीय उपाय

12 जुलाई को शनि का गोचर मकर राशि में होने वाला है जिससे कुछ राशियों में शनि की ढैय्या के योग हैं। इससे बचने के लिए आप कुछ ज्योतिषीय उपाय आजमा सकते हैं...
author-profile
Published -07 Jul 2022, 17:40 ISTUpdated -07 Jul 2022, 17:55 IST
Next
Article
shani gochar astro remedy

Shani Ki Dhaiya Ke Upay: शनि ग्रह को सभी राशियों के लिए विशेष रूप से असरदायक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि जिस पर शनि की कृपा दृष्टि होती है वह व्यक्ति बहुत जल्द ही उन्नति करता है। वहीं यदि शनि की बुरी जाणार किसी पर पड़ गई तो वो आपके बनते काम बिगाड़ सकते हैं। लोग शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए कई तरह के उपाय आजमाते हैं जिससे उनकी कृपा सदैव बनी रहे। ऐसा माना जाता है कि जब शनि ग्रह का प्रवेश किसी अन्य राशि में होता है तो इसे शनि का गोचर कहा जाता है।

शनि का गोचर कुछ राशियों के लिए अच्छा और कुछ के लिए खराब हो सकता है। इस साल 12 जुलाई 2022 को शनि वक्री अवस्था में प्रातः 10 बजकर 28 मिनट पर मकर राशि में गोचर करेंगे। इस गोचर से कुछ राशियों पर शनि की ढैय्या के योग हैं। आइए ज्योतिर्विद पं रमेश भोजराज द्विवेदी जी से जानें कि जुलाई के महीने में शनि के गोचर से कौन सी राशियों में ढैय्या के योग हैं और इससे बचने के उपाय क्या हैं। 

इन राशियों पर लगेगी शनि की ढैय्या 

shani ki dhaiya kin rashiyon par hai

12 जुलाई को शनि मकर राशि में वक्री अवस्था में प्रवेश करेंगे इससे कई राशियों पर अशुभ प्रभाव पड़ सकता है। शनि के मकर राशि में परिवर्तन से मीन, वृश्चिक और तुला राशि के जातक शनि की ढैय्या की चपेट में आ सकते हैं। शनि की ढैय्या का असर इन राशियों पर कम से कम जनवरी 2023 तक रहेगा। इस  राशि के लोग शनि की ढैय्या की वजह से कुछ आर्थिक परेशानियों से जूझ सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:12 जुलाई से शनि देव मकर राशि में कर रहे हैं गोचर, जानें धन लाभ के अचूक उपाय

Recommended Video


मीन राशि

जुलाई के महीने में शनि के मकर राशि में प्रवेश करने से मीन राशि पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। ज्योतिष के अनुसार शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाता है। कुछ उपायों से इसके असर को कम किया जा सकता है। 

उपाय -शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करें और उन्हें चोला चढ़ाएं। हनुमान चालीसा का नियमित पाठ करें। शनिवार के दिन शनि चालीसा का पाठ करें आपको अवश्य ही समस्याओं से बाहर निकलने में मदद मिलेगी। 

वृश्चिक राशि

offering oil to shanidev

शनि के मकर राशि में प्रवेश करने से वृश्चिक राशि पर शनि की ढैय्या शुरू होने के योग हैं। इससे इस राशि को समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय-वृश्चिक राशि के लोग शनि की ढैय्या से बचने के लिए शनि जी की शिला पर सरसों का तेल चढ़ाएं और शनि चालीसा का पाठ करें। 

इसे जरूर पढ़ें:Guru Purnima 2022: इस दिन राशि अनुसार करें ये उपाय, घर में आएगी सुख समृद्धि

कर्क राशि

शनि के मकर राशि में गोचर से कर्क राशि में जुलाई के महीने में शनि की ढैय्या शुरू होने के योग हैं। शनि की ढैय्या लगने पर व्यक्ति को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।

उपाय- शनिवार के दिन पीपल के पेड़ में सरसों के तेल का दीया जलाएं। इस उपाय से आपको जल्दी ही शनि की ढैय्या से बाहर निकलने में मदद मिलेगी। 

शनि के गोचर से जिन राशियों में शनि की ढैय्या के योग हैं उनके लिए आप ज्योतिष के कुछ उपाय आजमा सकते हैं। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ जुड़ी रहें।

Image Credit: Freepik 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।