आलिया भट्ट और रणबीर कपूर करीब एक महीने से वाराणसी में फिल्म ब्रह्मास्त्र की शूटिंग कर रहे हैं और ऐसे में अब वो पूरी तरह बनारसी हो चुके हैं। आलिया और रणबीर ने एक इंटरव्‍यू में कहा यह सारी बाते कही। ‘ब्रह्मास्त्र’ की पूरी कास्ट आलिया, रणबीर, नागार्जुन, मौनी रॉय, सौरभ और निर्देशक अयान मुखर्जी सभी बदलते बनारस से बेहद प्रभावित दिखे।

ranbir and alia enjoying in varanasi inside

इसे जरूर पढ़ें: सोनी राजदान ने शेयर की आलिया के बचपन की बेहद क्यूट तस्वीर, देखें और कौन-कौन हैं साथ

आलिया और रणबीर वाराणसी आकर बहुत खुश है। आलिया ने कहा कि वो पूरे बनारसी तरह से बनारसी हो चुकी हैं और बनारस की लाइफ स्टाइल ही जी रही हैं।’ आलिया ने आगे बताया कि बनारस में अपनी यात्रा को शुरुआत उन्‍होंने ठंडई पीकर की थी। उन्‍होंने कहा कि वो रोजाना शूटिंग के लिए जाते समय किसी न किसी खास दुकान के बाहर कभी लस्सी का स्वाद चखते हैं तो कभी चाट-गोलगप्पे खाते हैं। आलिया ने कहा कि वो बनारस को पूरी तरह जी रही हैं और शर्तिया यहां से जाने के बाद हम इस शहर को बहुत मिस करने वाली हैं।

रणबीर ने कहा कि वो वाराणसी आकर बहुत खुश है, हांलाकि पहले दिन उन्‍हें गर्मी का सामना करना पड़ा और उन्‍हें यहां बहुत गर्मी लगी लेकिन अब उन्‍हें इसकी आदत पड़ गई है। रणबीर ने आगे नागार्जुन के हवाले से कहा कि पद्रंह साल पहले नागार्जुन ने बनारस में शूटिंग करने के बाद अपने अनुभव मुझे बताए थे। उस आधार पर मैं कह सकता हूं कि बनारस बहुत बदला चुका है। रणबीर ने इसका श्रेय पीएम मोदी को दिया। नागार्जुन ने पद्रंह साल पहले और बाद के बनारस में बहुत बदलाव महसूस किया। उन्हें सफाई सबसे बड़ा बदलाव दिखा।

ranbir and alia in varanasi for brahmastra shooting inside

फिल्म के डायरेक्टर अयान मुखर्जी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इस फिल्म में बनारस भी एक किरदार है। ब्रह्मास्त्र की शूटिंग पिछले एक महीने से बनारस में चल रही है। अयान ने बताया कि वो ब्रह्मास्त्र पर पिछले छह साल से काम कर रहे हैं। इस दौरान दर्जनों बार उनका बनारस आना हुआ। इन छह सालों में उन्‍होंने बनारस को बदलते हुए न सिर्फ देखा है बल्कि महसूस भी किया है। ‘ब्रह्मास्त्र’ में बनारस अपने आप में एक किरदार के रूप में दिखाया जाएगा।

ranbir kapoor and alia bhatt in varanasi for brahmastra shooting inside

इसे जरूर पढ़ें: Kasautii Zindagii Kay 2: नए ‘Mr. Bajaj’ पुराने ‘मिस्टर बजाज’ से कैसे हैं अलग

अगर हम फिल्म की कहानी की बात करें तो इस फिल्‍म में नागार्जुन काशी के एक मंदिर के पुनरोद्धार के लिए काशी आते हैं। उसी क्रम में फिल्म के सभी महत्वपूर्ण किरदारों की मुलाकात काशी में होती है। ‘ब्रह्मास्त्र’ के बाद ‘ब्रह्मास्त्र-टू’ और ‘ब्रह्मास्त्र-थ्री’ की योजना भी पहले ही बनाई जा चुकी है।

Photo courtesy- (Navbharat Times, Bebak News, Hindi Rush, Times of India, Free Press Journal)