जब भी किसी लड़की की शादी की बात घर में चलती है तो वह मन ही मन कई सपने संजो लेती है। अपने भावी पति के साथ खुशियों के पल और एक खुशनुमा जीवन के सपने उसकी आंखों में बस जाते हैं। एक लड़की को मन ही मन लगता है कि अब उसकी जिन्दगी में कोई ऐसा खास होगा, जिससे वह बिना झिझके अपने मन की हर बात शेयर कर पाएगी। अपने पार्टनर के साथ खूब घूमेगी, मस्ती करेगी और एक खुशहाल जिन्दगी जीएगी। लेकिन यह सिक्के का सिर्फ एक ही पहलू है। यह सच है कि शादी के बाद आपको कुछ नए और बेहतरीन अनुभव होते हैं, लेकिन शादी के बाद स्त्री को कुछ कठिन परिस्थितियों का भी सामना करना पड़ता है, हालांकि इसके बारे में कोई बात नहीं करता। जब शादी के बाद स्त्री के सामने यह कड़वी सच्चाई उसके सामने आती है तो काफी कष्ट होता है। आपको यह कष्ट न उठाना पड़े, इसलिए हम आपको इन साइडइफेक्टस के बारे में पहले ही बता रहे हैं। इससे आप स्वयं को मानसिक रूप से हर विपरीत परिस्थिति के लिए तैयार कर पाएंगी-

करने पड़ते हैं समझौते

inside

एक सफल शादी के लिए जीवन में कई तरह के समझौते करने पड़ते हैं। शादी महज दो लोगों का ही आपसी बंधन नहीं है, बल्कि इसके साथ आपको अन्य कई रिश्ते बोनस में मिलते हैं और उन सभी के साथ तालमेल बिठाने के चक्कर में कई बार अपनी खुशियों व मर्जी की भी आहूति देनी पड़ती है। हालांकि इन सब के बीच में आप यह जरूर सुनिश्चित करें कि आप खुद का व्यक्तित्व कभी न खोएं। 

इसे जरूर पढ़ें: फैमिली गोल्स बनाएं तो खुशहाल शादीशुदा जिंदगी के साथ ऑफिस में भी बना रहेगा बैलेंस

सिर्फ खुशियां नहीं

inside  marriage side effects to know

शादी को सपनों की दुनिया में कदम रखने की भूल कभी न करें। इसमें जितनी खुशियां है, उतने ही गम व लड़ाईयां भी हैं। कई बार जीवन में विपरीत परिस्थितियां आती हैं या फिर हो सकता है कि आप दोनों की सोच आपस में न मिले। ऐसे में आप इस बात को अपने जेहन में रखें कि शादी के बाद आपको जीवन में कई तरह के उतार-चढ़ाव से गुजरना पड़ सकता है।

प्यार में धुंधलापन

inside  marriage side effects to know

शादी के शुरूआती दिनों में हर चीज बेहद खूबसूरत और प्यारभरी लगती है, लेकिन वक्त के साथ-साथ उस प्यार पर भी धूल की एक परत जमने लग जाती है। पति व पत्नी दोनों ही अपनी रोजमर्रा की दिनचर्या में इस कदर व्यस्त हो जाते हैं कि वह शादी के शुरूआती दिनों के प्यार व एक्साइटमेंट को कहीं खो देते हैं। कई बार तो व्यक्ति समझ लेता है कि उसके पार्टनर को उससे अब प्यार ही नहीं है, जिससे रिश्ते भी कई बार दरकने लगते हैं। इसलिए जीवन में एक्साइटमेंट बनाए रखने के लिए कभी-कभी कुछ एक्सपेरिमेंट करने से गुरेज न करें।

इसे जरूर पढ़ें: एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के मायाजाल में फंसना क्यों है खतरनाक

बाहरी आकर्षण

inside  marriage side effects to know

यह भी शादी की एक कड़वी सच्चाई है। जब शादी के बाद आप घर-परिवार व अन्य बाहरी परेशानियों में इस कदर उलझ जाते हैं कि अपने रिश्ते को समय नहीं दे पाते तो बाहरी व्यक्ति के प्रति व्यक्ति आकर्षित होने लगता है। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो आपा खोने की बजाय गौर करें कि ऐसा क्यों हो रहा है। हो सकता है कि  आपको अपने जीवनसाथी से ध्यान नहीं मिल रहा है या आपका रिश्ता किसी न किसी पचड़े से गुजर रहा है। ऐसे में जरूरी है कि आप दोनों बैठकर शांतिपूर्वक बात करें और एक-दूसरे की परेशानियों को समझकर रिश्ते में नवीनता का संचार करें। 

तुलना और गलत अपेक्षाएं

हर व्यक्ति की अपने जीवनसाथी से कुछ न कुछ अपेक्षाएं होती हैं, लेकिन रिश्ते में जब तुलना व गलत अपेक्षाएं जगह बना लेती हैं तो उसमें कड़वाहट घुलते देर नहीं लगती। जब भी लोग अपनी शादी की तुलना दूसरों से करते हैं तो कपल्स को असुरक्षा और अनहोनी का अहसास होता है। इतना ही नहीं, शादी के बारे में पूर्व धारणाएं गलत अपेक्षाओं को जन्म देती हैं, जिससे नए जीवन में समायोजन करना काफी कठिन हो जाता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपनी शादी में इन दो गलतियों को करने से बचें।