Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    Maintenance Demand: अब पति भी अपनी पत्नी से मांग सकते है मेंटेनेंस की डिमांड, जानें कैसे

     मेंटेनेंस की डिमांड अब र्सिफ पत्नी ही नहीं बल्कि पति भी कर सकते हैं, चलिए जानते है कैसे।
    author-profile
    Updated at - 2022-10-11,18:56 IST
    Next
    Article
    relationship divorce

    अक्सर आपने सुना होगा कि तलाक के बाद पत्नी अपने पति से मेंटेनेंस की डिमांड करती हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि पति भी मेंटेनेंस की डिमांड कर सकते है। बता दें कि सरकार ने ये नियम काफी पहले लागू कर दिया था। चलिए जानते हैं कैसे आप  मेंटेनेंस की डिमांड कर सकते हैं।

    बता दें कि 17 अप्रैल 1992 को एक महिला और पुरुष की शादी हुई थी। पत्नी ने अपने पति को तलाक देने का फैसला किया। ऐसे में  साल 2015 में नांदेड़ की अदालत ने तलाक को मंजूरी दे दी थी। यह मामला यहीं खत्म नहीं हुआ, पति ने निचली अदालत में एक याचिका लगाई और कहा की उसे अपनी पत्नी से हर महीने 15 हजार रुपये चाहिए।

    पत्नी कमाती है तो कर सकते है मेंटेनेंस की डिमांड

    पती ने अपने याचिका में कहा था कि उनके पास कोई भी सोर्स ऑफ इनकम नहीं है। वहीं उनकी पत्नी पढ़ी लिखी है और  MA और BEd तक पढ़ाई की है और स्कूल टीचर है। ऐसे में उन्हें हर महीने 15 हजार रुपये चाहिए।

    इसे भी पढ़ें- Relationship Tips: इन टिप्स से जानिए आप अपने पति की पहली पसंद हैं या नहीं

    सरकार दोनो के पक्ष सुनने के बाद लेती है फैसला

    जिसके बाद सरकार ने हर महीने 3 हजार रुपये देने का फैसला किया। बता दें कि इसी प्रकार आप भी मेंटेनेंस की डिमांड आसानी से कर सकते हैं। मेंटेनेंस की डिमांड करने से पहले मेंटेनेंस के बारे में जानना काफी जरुरी हैं।

    इसे भी पढ़ें- पति कभी नहीं बटाता घर के कामों में हाथ तो आजमाएं ये 5 अचूक तरीके

    मेंटेनेंस का क्या मतलब है

    बता दें कि जब एक व्यक्ति दूसरे को खाना, कपड़ा, घर, एजुकेशन और मेडिकल जैसी बेसिक जरूरत की चीजों के लिए फाइनेंशियल सपोर्ट देता है तो उसे मेंटेनेंस यानी गुजारा भत्ता कहते हैं। ऐसे में अगर आपकी वाइफ काम करती है और कमाती है, इसके बाद पत्नी से तलाक लेती है तो आप उनसे मेंटेनेंस की मांग कर सकते हैं।

    मेंटेनेंस की अर्जी कब और कैसे लगाएं

    आपको बता दें कि अगर पति और पत्नी के रिश्ते खराब हो गए हैं और दोनों एक-दूसरे के साथ कानूनी तौर पर नहीं रहते हैं तो पति या पत्नी, दोनों में से कोई भी मेंटेनेंस की अर्जी कोर्ट में लगा सकता है। इसके लिए आपको कोर्ट में अर्जी लगाना होगा। कोर्ट दोनों की पक्ष सुनने के बाद ही आगे का फैसला लेती हैं। 

    आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो उसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी के साथ। 

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।