Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    October Festival List: जानें इस माह के त्‍योहार और उनके शुभ मुहूर्त

    वर्ष का 10वां महीना अक्‍टूबर त्‍योहारों से भरा हुआ है। इस महा पड़ने वाले त्‍योहार और उनके शुभ मुहूर्त जानें। 
    author-profile
    Updated at - 2022-10-10,11:34 IST
    Next
    Article
    shubh muhurat  festival pic

    अक्‍टूबर का महीना आ रहा है और यह महीना अपने साथ ढेरों त्‍योहार लेकर आ रहा है। इस महीने में सारे बड़े त्‍योहार आने वाले हैं। अगर आप भी इन त्‍योहारों की लिस्‍ट तलाश रही हैं और साथ ही इनके शुभ मुहूर्त और महत्‍व के बारे में जानना चाहती हैं, तो यह आर्टिकल पूरा जरूर पढ़ें। 

    अक्‍टूबर के त्‍योहार  (Festival List Of October 2022)

    • 03 अक्टूबर- श्री दुर्गाष्टमी व्रत, सोमवा
    • 4 अक्टूबर- श्री दुर्गा नवमी व्रत, मंगलवार
    • 5 अक्टूबर- दशहरा, बुधवार 
    • 6 अक्टूबर- पापांकुशा एकादशी व्रत, गुरुवार
    • 9 अक्टूबर- शरद पूर्णिमा, रविवार
    • 13 अक्टूबर- करवा चौथ, गुरुवार
    • 17 अक्टूबर- अहोई अष्टमी व्रत,  सोमवार 
    • 23 अक्टूबर- धनतेरस, रविवार
    • 24 अक्टूबर- नरक चतुर्दशी और दिवाली, सोमवार 
    • 25 अक्टूबर- गोवर्धन पूजा, मंगलवार
    • 26 अक्टूबर-भाई दूज, बुधवार
     
    festival calendar october

    दुर्गाष्टमी 

    नवरात्रि का यह दिन बहुत ही महत्‍वपूर्ण होता है। इस दिन पूजा-पाठ के साथ कुछ लोग देवी जी का व्रत भी रखते हैं और घर में कन्‍या पूजन भी करते हैं। 

    शुभ मुहूर्त- अष्‍टमी की तिथि 2 अक्‍टूबर 2022 शाम 6:47 बजे से शुरू होकर 3 अक्‍टूबर 2022 शाम 4:37 बजे तक रहेगी। 

    दुर्गा नवमी 

    दुर्गा नवमी के दिन देवी दुर्गा का विसर्जन किया जाता है। इस दिन नवरात्रि का आखिरी दिन होता है। कई घरों में हवन-पूजन भी होता है। नवमी पर कई लोग व्रत भी रखते हैं। इस दिन देवी दुर्गा की विदाई की जाती है। कई लोग दशहरा यानि की दसवीं की दिन दुर्गा जी की विदाई करते हैं। 

    शुभ मुहूर्त- नवमी का पर्व 3 अक्‍टूबर को शाम 4:40 मिनट से शुरू होकर 4 अक्‍टूबर को 2:25 मिनट तक रहेगा। 

    इसे जरूर पढ़ें- Diwali 2022 Vastu Tips: दिवाली में वास्तु के अनुसार रखें दीये, घर में होगा माता लक्ष्मी का वास

    दशहरा

    दशहरा का दिन बहुत विशेष है और इस दिन से जुड़ी बहुत सारी कथाएं हैं। यह दिन रावण दहन के लिए प्रसिद्ध है। मगर इस दिन दहन से पहले रावण का पूजन किया जाता है, क्‍योंकि वह बहुत बड़ा ज्ञानी था और महादेव का भक्‍त भी था। 

    शुभ मुहूर्त- दशहरा 4 अक्टूबर 2022 को दोपहर 2 बजकर 21 मिनट से शुरू होकर 5 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे तक रहेगा। 

    पापांकुशा एकादशी

    यह पर्व 6 अक्‍टूबर के दिन पड़ रहा है। सभी एकादशियों में यह वाली एकादशी काफी महत्‍वपूर्ण होती है। ऐसा कहते हैं कि आप इस दिन भगवान विष्‍णु की पूजा और व्रत करती हैं, तो आपको सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है। 

    शुभ मुहूर्त- 5 अक्‍टूबर को दोपहर 2:50 बजे शुरू हो कर 6 अक्‍टूबर रात 11:57 बजे पर समाप्‍त होगा। 

    शरद पूर्णिमा

    शरद पूर्णिमा से एक नई ऋतु की शुरुआत होती है और इस दिन देवताओं की सभा भी स‍जती है। ऐसा कहा जाता है कि शरद पूर्णिमा के दिन आकाश से अमृत टपकता है। 

    शुभ मुहूर्त- 9 अक्‍टूबर को दोपहर 3:41 से शुरू होकर 10 अक्‍टूबर को दोपहर 2:24 को समाप्‍त होगा। 

    October Festival List

    करवा चौथ

    करवा चौथ महिलाओं का पर्व है, जो वे अपने-अपने  पतियों की दीर्घ आयु के लिए मनाती हैं और इस दिन निर्जला फास्‍ट भी रखती हैं। 

    शुभ मुहूर्त- चतुर्थी तिथि 13 अक्टूबर 2022 की मध्‍य रात्रि 01.59 से शुरू होगी और 14 अक्टूबर 2022 की सुबह 03.08 पर समाप्‍त होगी। 

    अहोई अष्टमी 

    अहोई अष्‍टमी का पर्व महिलाएं अपनी संतान के लिए रखती हैं। इस दिन व्रत रखा जाता है और तारा देखकर व्रत खोला जाता है। 

    शुभ मुहूर्त- अष्टमी तिथि 17 अक्टूबर 2022 को शाम 5:50 से शुरू होकर 18 अक्टूबर 2022 शाम 7:05 समाप्‍त होगा।

    धनतेरस

    धनतेरस के दिन को बहुत ही महत्‍वपूर्ण माना गया है। इस दिन देवी लक्ष्‍मी के धन स्‍वरूप की पूजा होती है, जिससे घर में धन, वैभव, सुख और समृद्धि का वास होता है। 

    शुभ मुहूर्त- 23 अक्टूबर की शाम 05:44 से शुरू होकर 06:05 तक होगा।

    festival calendar october

    नरक चतुर्दशी और दिवाली

    दिवाली का पर्व दीपों का पर्व होता है और इस पर्व पर देवी लक्ष्‍मी की पूजा की जाती है। हिंदू धर्म में यह साल का सबसे बड़ा पर्व होता है। 

    शुभ मुहूर्त- 24 अक्‍टूबर को अमावस्या तिथि आरंभ 06:03 बजे से होगा और समापन  02:44 बजे होगा। लक्ष्मी पूजा के लिए शुभ मुहूर्त शाम 6:54 से रात्रि 08:16 तक रहेगा। 

    गोवर्धन पूजा

    गोवर्धन पूजा का हिंदू धर्म में बहुत महत्‍व है। इस दिन घर पर श्रीकृष्‍ण के गोवर्धन स्‍वरूप की पूजा होती है और अन्‍नकूट का प्रसाद उन्‍हें अर्पित किया जाता है। 

    शुभ मुहूर्त- 25 अक्टूबर, मंगलवार की शाम 4 बजकर 18 मिनट से आरंभ होकर 26 अक्टूबर, बुधवार दोपहर 2 बजकर 42 मिनट पर समाप्‍त होगी। 

    भाई दूज

    26 अक्टूबर को भाई दूज है। इस दिन बहनें भाइयों को अपने घर बुलाती हैं और भोजन कराती हैं। साथ ही इस दिन भाइयों के टीका भी लगाया जाता है। 

    शुभ मुहूर्त- भाई दूज पर टीका लगाने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1:10 बजे शुरू होकर 3:22 बजे तक रहेगा। 

    उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़ें रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।