• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

लता दी अपने बचपन की इन गलतियों को याद कर जोर-जोर से हंसने लगती हैं

लता दी को जब भी अपने बचपन की कुछ गलतियां याद आती हैं वो जोर-जोर से हंसने लगती हैं। 
author-profile
  • Kirti Jiturekha
  • Her Zindagi Editorial
Published -27 Sep 2018, 10:04 ISTUpdated -27 Sep 2018, 13:02 IST
Next
Article
lata mangeshkar childhood memories

लता दी जब भी अपने बचपन की गलतियां याद करती हैं वो जोर-जोर से हंसने लगती हैं। लता मंगेशकर की बचपन की यादों को हम इसलिए याद कर रहे हैं क्योंकि 28 सितंबर को उनका जन्मदिन है। साल 1929 को मध्यप्रदेश में इंदौर शहर के एक मध्यम वर्गीय मराठी परिवार में लता ताई का जन्म हुआ। 

लता मंगेशकर ने साल 1977 में 'किनारा' फिल्म के लिए एक गाना गाया था जिसे गुलजार ने लिखा था और उस गाने के बोल कुछ ऐसे थे “नाम गुम जाएगा चेहरा ये बदल जाएगा, मेरी आवाज ही मेरी पहचान है।“ आज इसी गीत को याद करके लोग लता दी और उनकी गायिकी को याद किया करते हैं। 

लता दी का जीवन बेहद कठिनाइयों भरा रहा। साल 1942 में तेरह वर्ष की छोटी उम्र में ही लता दी के सिर से पिता का साया उठ गया और परिवार की जिम्मेदारी उनके ऊपर आ गई। इसके बाद उनका पूरा परिवार पुणे से मुंबई आ गया। ऐसे में लता मंगेशकर ने अपने पूरे परिवार को संभाला। 

lata mangeshkar childhood memories

Image Courtesy: Pinterest

लता दी के बचपन के किस्से 

लता मंगेशकर अपने बचपन में बहुत ज्यादा शरारत किया करती थीं। ज्यादा शरारत करने पर लता दी की मां उन्हें पकड़कर बहुत मारा करती थीं। लता मंगेशकर बचपन में गुस्से में अपनी फ्रॉक को गठरी में बांधकर कहती थीं 'घर छोड़कर जा रही हूं'। लता दी घर छोड़ जब घर के पास वाली सड़क पर खड़ी हो जाती थीं तो उनकी मां जल्दी से उनके पीछे भागती थीं क्योंकि घर के पास ही एक तालाब था जिस कारण उनकी मां को डर लगता था कि वो कहीं तलाब में ना गिर जाएं।

Read more: आशा ताई को प्रेग्नेंसी टाइम में भी क्यों छोड़ना पड़ गया था अपने पति का घर?

एक दिन ऐसा आया जब लता दी घर छोड़कर जाने लगीं तो उनके पिता ने कहा कि इसे घर छोड़कर जाने दिया जाएं। ऐसे में लता दी को लगा कि उनके पिता मजाक कर रहे हैं और उन्होंने बार-बार पीछे मुड़कर देखा तो कोई उन्हें रोकने के लिए नहीं आ रहा था। 

लता दी के पिता ने यह बात उन्हें बचपन में ही समझा दी थी कि गलत और सही का फैसला आपको खुद ही लेना होगा। जिंदगी में कोई आपका सथा देने नहीं आता है कि आपको अपने फैसले खुद ही लेने होते हैं। आज जब भी लता दी इस किस्से को याद करती हैं तो वो हंस पड़ती हैं। 

lata mangeshkar childhood memories

Image Courtesy: Pinterest

लता दी ने इसलिए नहीं की शादी 

लता दी ने एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में कहा था, “बेहद कम उम्र में ही मैं काम करने लगी थी। बहुत ज्यादा काम मेरे पास रहता था। सोचा कि पहले सभी छोटे भाई बहनों को व्यवस्थित कर दूं फिर कुछ सोचा जाएगा फिर बहन की शादी हो गई और उनके बच्चे हो गए तो उन्हें संभालने की जिम्मेदारी आ गई। इस तरह से वक्त निकलता चला गया।“ 

Read more: अपनी उम्र से कम आरडी बर्मन से हो गया था बेइंतहा प्यार, शादी के लिए तमाम हदें भी पार कर लेना चाहती थीं आशा भोसले

lata mangeshkar childhood memories

Image Courtesy: Pinterest

लता दी का भूपेन हजारिका से था कोई संबंध 

एक समय में लता दी और भूपेन हजारिका का नाम साथ जोड़े जाने लगा था। स्वर्गीय गायक भूपेन हजारिका की पत्नी प्रियंवदा पटेल ने यह खुलासा किया था कि लता मंगेशकर का असम के मशहूर गायक भूपेन हजारिका से अफेयर था। 

सुर की देवी लता मंगेशकर अब तक 20 भाषाओं में 30,000 तक गाने गा चुकी हैं। इनकी गायकी के ना केवल बड़े ही दीवाने हैं बल्किअ छोटे-छोटे बच्चे  भी इनके सुर पर ताल ठोकते हैं। यही कारण है कि इन्होंकने अपने मधुर गीत से सभी के दिलों में अपने लिए प्या र जगाया है। 

Recommended Video

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।