गाहे-बगाहे आपके हेल्थ इंश्योरेंस के बारे में सुनने को मिल ही जाता है। इस दौरान जब लोग अपनी सेहत को लेकर सजग हो रहे हैं और बीमारियों ने हमें परेशान कर रखा है तब हेल्थ इंश्योरेंस एक बहुत बड़ी जरूरत बनती चली जा रही है। हेल्थ इंश्योरेंस की बात करें तो अधिकतर लोग अपने ऑफिस के हेल्थ इंश्योरेंस से ही खुश हो जाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनकी जरूरत कितनी बड़ी है?

दरअसल, हेल्थ इंश्योरेंस पिछले कुछ सालों में इतना जरूरी टूल बन गई है कि आपको इसकी अहमियत समझनी चाहिए। ये आपके लंबे-चौड़े हेल्थ बिल का भुगतान आसानी से कर सकती है और किसी बड़े ऑपरेशन का खर्च भी निकाल सकती है।

पर अधिकतर लोगों की समस्या ये होती है कि उन्हें ये जानकारी नहीं होती कि कैसा इंश्योरेंस प्लान उनके लिए बेस्ट होगा। इसके बारे में जानने के लिए हमने इन्वेस्टमेंट, इंश्योरेंस, टैक्सेशन और फाइनेंशियल सर्विसेज की फील्ड में काम करने वाले जिगर शाह से बात की। जिगर ने हमें बताया कि किस तरह से आपको हेल्थ इंश्योरेंस प्लान तय करना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें-  दुनिया के इन देशों में एम्प्लॉयज को मिलती है सबसे ज्यादा सैलरी

मुख्य दो तरह के होते हैं इंश्योरेंस प्लान-

जिगर के अनुसार आपको सबसे पहले तो ये तय करना होगा कि आपको किस टाइप का हेल्थ इंश्योरेंस लेना है यानि आपको फैमिली प्लान लेना है या फिर एक सिंगल प्लान जो सिर्फ आपको कवर करे। अगर आपकी शादी हो गई है तो फैमिली फ्लोटर प्लान बहुत उपयोगी साबित हो सकता है। सिंगल लोगों के लिए ही नॉर्मल प्लान होना चाहिए।

सिर्फ ऑफिस के प्लान पर भरोसा ना करें क्योंकि कई बार ये काफी नहीं होता है। अगर आपने अपना ऑफिस छोड़ा तो साथ ही प्लान का कवर भी छूट जाएगा। आपको अपनी हेल्थ हिस्ट्री के हिसाब से ही अपना प्लान तय करना चाहिए।

health insurance types

कितनी तरह के होते हैं हेल्थ इंश्योरेंस प्लान? 

अब बात करते हैं हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की और बात करते हैं कि आखिर कितने प्लान आप ले सकते हैं? हेल्थ इंश्योरेंस प्लान हॉस्पिटलाइजेशन और डे-केयर ट्रीटमेंट्स भी कवर कर सकते हैं। कुछ प्लान ऐसे भी होते हैं जो हेल्थ चेक अप और एम्बुलेंस चार्ज भी मैनेज कर लेते हैं। आप इन तरह के इंश्योरेंस प्लान ट्राई कर सकते हैं- 

1. इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस- 

जैसा कि हमने पहले बताया ये इंश्योरेंस प्लान सिर्फ एक सिंगल इंसान के लिए होता है। ये प्लान फाइनेंशियल बेनिफिट्स देता है पर आपको परिवार के हर इंसान के लिए अलग-अलग कवर लेना होगा। 

family health insurance

2. फैमिली फ्लोटर प्लान- 

ये वो प्लान है जिसमें आपको पूरे परिवार को कवरेज मिलता है। ये काफी अफोर्डेबल होता है और अलग-अलग फैमिली मेंबर्स इसका इस्तेमाल करते हैं। एक ही इंश्योरेंस पॉलिसी में सभी को कवर करने का फायदा ये होता है कि सभी फैमिली मेंबर्स फ्लोटर प्लान के जरिए कवर हो जाते हैं। आप इसमें माता-पिता, पत्नी, खुद की बीमारी और बच्चों की बीमारियां कवर कर सकते हैं। 

3. ग्रुप हेल्थ इंश्योरेंस- 

ये आमतौर पर वो हेल्थ इंश्योरेंस है जिसमें एक ग्रुप को कवर किया जाता है। ये कॉर्पोरेट, एम्प्लॉयज या स्टार्टअप्स के लिए लिया जाता है। ये आमतौर पर ऑफिस से मिलने वाला इंश्योरेंस है जिसमें सभी के पास एक जैसे इंश्योरेंस बेनिफिट्स होते हैं। 

health insurance for child

इसे जरूर पढ़ें- कॉलेज की ये डिग्रियां आपको दिला सकती हैं सबसे ज्यादा सैलरी, जानें कहां मिलेंगे ये कोर्सेज 

4. गंभीर बीमारियों के लिए इंश्योरेंस- 

ये इंश्योरेंस प्लान सिर्फ गंभीर बीमारियों के लिए होता है जैसे किडनी फेल, स्ट्रोक, हार्ट अटैक, लकवा आदि। इस प्लान को पहले से लिया जाता है और इसका प्रीमियम भी ज्यादा हो सकता है। आपकी फैमिली हिस्ट्री के हिसाब से ये प्लान लिया जा सकता है। 

5. एक्सीडेंटल इंश्योरेंस- 

ये वो प्लान होता है जिसमें दुर्घटनाओं को कवर किया जाता है। अगर कोई दुर्घटना हो जाती है तो आपकी सेविंग्स खत्म ना हो इसलिए आपको ये इंश्योरेंस करवाना चाहिए। ये पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस पॉलिसी आपके किसी भी तरह के एक्सीडेंट, डिसेबिलिटी, मौत आदि सभी को कवर करती है। 

6. मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस- 

ये वो हेल्थ इंश्योरेंस प्लान है जिसमें मां और होने वाले बच्चे के लिए बेसिक हेल्थ पॉलिसी दी जाती है। ये डिलीवरी से पहले होने वाले टेस्ट, डिलीवरी का खर्च और उसके बाद होने वाले मेडिकल खर्च को कवर करता है। इस प्लान का वेटिंग पीरियड होता है और बेहतर होगा कि आप इस प्लान को बच्चे की प्लानिंग करने से पहले लें। 

Recommended Video

7. सीनियर सिटीजन हेल्थ इंश्योरेंस- 

ये पॉलिसी सीनियर सिटिज़न्स के लिए ली जाती है और 60 साल से ऊपर के किसी भी इंसान को इस पॉलिसी के अंतर्गत कवर किया जा सकता है। इस प्लान का रेट काफी हाई होता है।

 

आपको ये जानना जरूरी है कि आजकल लाइफ इंश्योरेंस लेने से पहले हेल्थ इंश्योरेंस लेना जरूरी होता है और ये किसी भी तरह की अनहोनी में आपकी मदद कर सकता है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।