भारत में घूमने के लिए खूबसूरत जगहों के अलावा कई ऐसे प्रसिद्ध और प्राचीन गुरुद्वारे भी मौजूद हैं, जिनके इतिहास के बारे में बहुत कम लोगों को मालूम है। भारत के हर राज्य में आपको गुरूद्वारे देखने को मिल ही जाएंगे लेकिन आज हम आपको हरियाणा में स्थित पंजोखरा साहिब गुरुद्वारे के बारे में बताते हैं, जिसका इतिहास हजारों साल पुराना है। इस गुरुद्वारेे का लंगर ना जाने कितने लोगों का पेट भरता है। कहा जाता है पंजोखरा साहिब गुरुद्वारे का निर्माण 17वी सदी में किया गया था। हालांकि, इसके निर्माण को लेकर कोई ठोस प्रमाण नहीं है। तो चलिए जानते हैं पंजोखरा साहिब गुरुद्वारे से जुड़ी कुछ रोचक बातें...

क्या है इतिहास?gurudwara

यह भारत के सबसे प्रसिद्ध गुरुद्वारों में से एक है, जो गुरुद्वारा पंजोखरा साहिब गुरुद्वारा आठवें गुरु श्री हरकृष्ण साहिब जी को समर्पित है। इसलिए यह गुरुद्वारा श्री पंजोखरा साहिब के नाम से भी जाना जाता है। यह अंबाला-नारायणगढ़ रोड पर स्थित है और ये सिक्ख धर्म के अलावा भी सभी धर्मों के लिए मायने रखता है। यहां दर्शन के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। कहा जाता है कि एक बार गुरु हरकृष्ण साहिब जी ने पवित्र स्थान गुरुद्वारा पंजोखरा साहिब का दौरा किया था। वह यहां कई दिनों तक रहे थे। इसी दौरान, गुरु साहिब ने चाजू नाम के एक बहरे और गूंगा व्यक्ति को आशीर्वाद दिया और उसे पास के एक सरोवर में स्नान करने के लिए कह दिया। फिर उन्होंने उस व्यक्ति के सिर पर एक छड़ी रखी और फिर वह व्यक्ति भगवद गीता सुनाने लगा। 

इसके बाद, यहां गुरु जी ने रेत का एक छोटा-सा पठार बनाया और उन्होंने इस स्थान को अपनी शक्तियों से आशीर्वाद दिया कि जो कोई भी पूरी श्रद्धा के साथ इस पवित्र स्थान पर आएगा और सरोवर में स्नान करेगा, उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी और उसका सारा दान सीधे मेरे पास आएगा।

क्या है खासियत? 

इस गुरुद्वारे की खूबसूरती और शुद्धता ही इसे खास बनाती है। यहां के स्थानीय लोगों का मानना है कि पंजोखरा साहिब गुरुद्वारे में जाने और प्रार्थना करने से आपके सारे पाप धुल जाते हैं। साथ ही, हर बीमारी दूर हो जाती है। इसके अलावा, कहा जाता है कि यहां आने वाले लोगों की हर प्रार्थना पूरी हो जाती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें- भारत के ये डेस्टिनेशन्स भी हैं ताज महल की तरह बेहद खूबसूरत

स्वादिष्ट लंगर सेवा 

पंजोखरा साहिब गुरुद्वारा का लंगर हर दिन 50 हजार लोगों को अपनी सेवा प्रदान करता है। त्योहारों के मौके पर यहां लोगों की संख्या अक्सर एक लाख हो जाती है। बड़ी संख्या के बावजूद, गुरुद्वारा में कभी भी स्वच्छता और गुणवत्ता से समझौता नहीं किया जाता है। लोग यहां प्रार्थना करने के साथ-साथ यहां के स्वादिष्ट लंगर का लुत्फ भी उठाते हैं। 

Recommended Video

कैसी है वास्तुकला?

pankhera

इस गुरुद्वारे की खूबसूरती भी लोगों को काफी आकर्षित करती है। यहां साल भर लोगों की भीड़ लगी रहती है। सफेद संगमरमर से बना यह गुरुद्वारा लोगों को शांत वातावरण प्रदान करता है। इसके अलावा, इस गुरुद्वारे में त्योहार वाले दिन बड़ी सख्या में लोग यहां प्रार्थना करने आते हैं। पंजोखरा साहिब गुरुद्वारा सिख धर्म का प्रमुख गुरुद्वारा है। इसलिए लोग दिल्ली से ही नहीं बल्कि पूरे भारत से लोग इस गुरुद्वारे का दर्शन करने आते हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें- इंडिया के अलावा पाकिस्तान, दुबई और लंदन में भी हैं वर्ल्ड फेमस गुरुद्वारे

अगर आपको यकीन नहीं हो रहा है तो आप भी एक बार पंजोखरा साहिब गुरुद्वारे का दौरा कर सकते हैं। लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@google)