आखिरकार पीएम मोदी और बियर ग्रिल्स का मैन Vs वाइल्ड एपिसोड डिस्कवरी चैनल में लाइव कर दिया गया। नरेंद्र मोदी इस शो में हिंदी में बात कर रहे थे और बियर ग्रिल्स इंग्लिश में। इस शो को उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क में शूट किया गया है। सिर्फ इस एक एपिसोड से जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क ने 1.26 लाख रुपए कमा लिए। फ्री का प्रमोशन हुआ सो अलग। जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क बेहद खूबसूरत है और यहां पर जंगल सफारी की बात ही कुछ और है।  

इस पार्क में कई तरह के एक्सपीरियंस लिए जा सकते हैं। मैं यहां जून में ही घूम कर आई हूं और अपने पर्सनल एक्सपीरियंस से बता सकती हूं कि ये पार्क अत्यंत मनमोहक है और यहां पर रिजॉर्ट से लेकर सफारी तक सभी का अपना अलग अनुभव है। तो अगर आप भी जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क घूमना चाहते हैं तो यहां जाने से पहले ये 5 बातें जान लें। 

man vs wild jim corbett

इसे जरूर पढ़ें- Interesting Facts: पास बहती है सबसे बड़ी नदी, फिर भी ये है दुनिया का सबसे सूखा शहर 

1. यहां है वन्य जीवन की भरमार- 

यहां वन्य जीवन की भरमार है। यहां 110 पेड़ों की प्रजाति, 50 स्तनधारी जीव, 580 पक्षियों की प्रजाति, 25 रेप्टाइल प्रजातियां मिलेंगी। यहां जंगल सफारी चार गेट्स पर होती है, लेकिन मानसून के समय अक्सर ये बंद रहते हैं। सबसे बेहतरीन गेट ढेला और ढिकाला है जहां ज्यादा जानवरों के दिखने की उम्मीद रहती है। पर यहां सफारी के लिए पहले से पर्मिट लेना होता है। ये पार्क 520 स्क्वेयर किलोमीटर में फैला हुआ है।  

Man vs wild pm modi

2. सफारी के अलावा क्या है देखने लायक- 

सफारी के अलावा यहां गिरिजा मंदिर, कोसी नदी, कॉर्बेट म्यूजियम आदि देखने लायक है। अच्छे मौसम में यहां एडवेंचर स्पोर्ट्स भी होते हैं। उसके लिए पहले से पता करना होगा। यहां रि़जॉर्ट में भी कई सारी एक्टिविटीज होती हैं। तो होटल बुकिंग के पहले ये देख लें कि किस रिजॉर्ट में एडवेंचर स्पोर्ट्स करने को मिलेंगे।

man vs wild shoot india

3. कौन सा समय बेस्ट होगा- 

जिम कॉर्बेट जाना मॉनसून में घूमना सही नहीं होगा। हालांकि, अक्टूबर से फरवरी तक का सर्दियों का मौसम पक्षियों को देखने के लिए काफी अच्छा माना जाता है। इसी के साथ, गर्मियों के मौसम में सबसे ज्यादा जानवर दिखेंगे।

  

4. किस मौसम में होगी सफारी- 

ये पार्क पांच जोन में भिवाजित है और घूमने के लिए झिरना सफारी, बिजरानी सफारी, ढेला सफारी, ढिकाला सफारी और दुर्गा देवी सफारी जोन हैं। ढिकाला सिर्फ 15 नवंबर से 15 जून तक ही खुलता है, बिजराना 15 अक्टूबर से 30 जून तक खुला रहता है, झिरना और ढेला पूरे साल खुले रहते हैं हालांकि, मौसम देखना पड़ता है। दुर्गा देवी जोन 15 नवंबर से 15 जून तक खुला रहता है।  

 

इसे जरूर पढ़ें- जिम कॉर्बेट में बाघ की दहाड़ों के रोमांचक सफर का मजा उठाइए

5. जाने से पहले-

रिजॉर्ट का ध्यान दें। जिम कॉर्बेट में कई सारे होटल और रिजॉर्ट हैं, लेकिन वहां जाकर बुकिंग करवाने का मत सोचें। पहले से ही बुकिंग करवा कर जाएं। इसके अलावा, यहां जाने से पहले सफारी का ध्यान रखें। किस जोन में सफारी करनी है वो देख लीजिए। मॉनसून का समय यहां जाने के लिए सही नहीं रहेगा।