एक स्वस्थ, बेदाग त्वचा ही खूबसूरत त्वचा होती है। वास्तव में त्वचा की खूबसूरती का मतलब उसका गोरा होना ही नहीं होता है बल्कि उसे भीतर से साफ़ होना चाहिए। ऐसा जरूरी नहीं है कि किसी की त्वचा शुरुआत से ही ग्लोइंग हो, लेकिन आप अपने अच्छे स्किन केयर रूटीन को फॉलो करके त्वचा को खूबसूरत बना सकती हैं। बाहरी त्वचा की देखभाल के लिए आपकी त्वचा और उसकी जरूरतों की समझ होना जरूरी है।

अपनी त्वचा के प्रकार को जानने के लिए, जब आप सुबह उठें, तो अपने चेहरे को धोने या साफ करने से पहले, एक टिश्यू से पोंछ लें। यदि टिश्यू  साफ है, तो आपके पास सामान्य से शुष्क त्वचा है। यदि टिश्यू में निशान पड़ें और यह गंदा हो जाए तो आपकी त्वचा सामान्य से तैलीय होती है। अलग-अलग हिस्सों के लिए अलग-अलग टिश्यू का इस्तेमाल करें, एक टिश्यू से माथे, नाक और ठुड्डी को पोंछें और गालों को पोंछने के लिए दूसरे टिश्यू का इस्तेमाल करें। इससे आपको यह जानने में मदद मिलेगी कि आपकी कॉम्बिनेशन स्किन है या नहीं। एक अच्छे स्किन केयर रूटीन को फॉलो करना हमेशा से अच्छा विकल्प है। आइए ब्यूटी एक्सपर्ट शहनाज हुसैन से जानें कि ग्लोइंग त्वचा के लिए कौन सा स्किन केयर रूटीन आपके लिए अच्छा है। 

त्वचा की अच्छी तरह से करें सफाई 

skin cleaning rutein

एक महिला जो दैनिक त्वचा देखभाल दिनचर्या को फॉलो करती है उसकी त्वचा में एजिंग के संकेत जल्दी नहीं दिखाई देते हैं और उसकी त्वचा लंबे समय तक जवान नजर आती है। नियमित देखभाल न केवल त्वचा के रंग-रूप में सुधार करती है, बल्कि आपको अच्छा भी महसूस कराती है। यह आपके आत्मविश्वास को भी बढ़ावा देती है। त्वचा की दैनिक देखभाल में क्लींजिंग, एक्सफोलिएशन (स्क्रब का उपयोग), टोनिंग, मॉइश्चराइजिंग, पोषण और फेस मास्क का उपयोग शामिल है। यह पूरी प्रक्रिया त्वचा की सफाई गंदगी, प्रदूषक, बासी पसीना, तेल, मृत त्वचा कोशिकाओं और मेकअप जैसी अशुद्धियों को दूर करने में मदद करती है। अगर आप साबुन का इस्तेमाल करती हैं तो दिन में सिर्फ दो बार ही चेहरे को धोएं। रूखी त्वचा को क्लींजिंग क्रीम या जेल की जरूरत होती है। ऑयली और कॉम्बिनेशन स्किन के लिए लाइट क्लींजिंग मिल्क और लोशन बेहतर होते हैं। मुंहासे वाली त्वचा के लिए, मेडिकेटेड क्लींजर का इस्तेमाल करें।

इसे जरूर पढ़ें:कैसे पता करें अपने स्किन टाइप के बारे में, शहनाज़ हुसैन के ये टिप्स हर तरह की स्किन के लिए आएंगे काम

त्वचा को एक्सफोलिएट करें 

एक्सफोलिएशन रोमछिद्रों को गहराई से साफ करने का एक अच्छा तरीका है और यह मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने में भी मदद करता है। यह फेशियल स्क्रब से किया जाता है। शुष्क त्वचा के लिए, सप्ताह में एक बार इसका उपयोग करें, ऑयली त्वचा के लिए, सप्ताह में दो या तीन बार इसका उपयोग करें। अगर आपको पिंपल्स और मुंहासे हैं, तो उन पर स्क्रब लगाने से बचें।

त्वचा की टोनिंग है जरूरी 

skin toning care

त्वचा की क्लींजिंग के बाद त्वचा की टोनिंग होती है। टोनिंग त्वचा की सतह पर रक्त परिसंचरण में सुधार करने, छिद्रों को बंद करने और त्वचा को ताज़ा करने में मदद करता है। गुलाब जल सबसे अच्छे प्राकृतिक स्किन टोनर में से एक है। सफाई के बाद, त्वचा को पोंछने और थपथपाने के लिए, त्वचा टॉनिक या गुलाब जल में भिगोए हुए रुई के पैड का उपयोग करें। इससे त्वचा को पोषण मिलने के साथ इसे साफ़ करने में मदद मिलती है। 

Recommended Video

धूप से करें त्वचा की सुरक्षा 

त्वचा की देखभाल के मुख्य पहलुओं में से एक धूप से सुरक्षा है। अधिकांश सनस्क्रीन में बिल्ट-इन मॉइस्चराइज़र होते हैं। त्वचा के लिए नमी सबसे ज्यादा जरूरी है। मॉइस्चराइज़र तरल और क्रीम दोनों रूपों में उपलब्ध होते हैं। ऑयली स्किन को केवल शुष्क मौसम में ही मॉइस्चराइजर की आवश्यकता हो सकती है। सामान्य से शुष्क त्वचा के लिए न्यूट्रिशन महत्वपूर्ण है। यह त्वचा को चिकना और मुलायम बनाए रखने में मदद करता है, जिससे उसमें नमी बनी रह सके। रात में त्वचा को साफ करने के बाद न्यूट्रिशन क्रीम लगाएं और त्वचा पर 2 से 3 मिनट तक मसाज करें। त्वचा को सॉफ्ट रूई से पोंछ लें।

इसे जरूर पढ़ें:Shahnaz Husain Tips: स्किन टाइप के अनुसार चेहरे को करें साफ

फेस पैक का करें इस्तेमाल 

शहनाज़ हुसैन बताती हैं कि फेस पैक त्वचा की देखभाल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि वे कई तरह से कार्य करते हैं। पैक का नियमित उपयोग त्वचा को अच्छी स्थिति में रखने में मदद करता है। यह त्वचा में चमक जोड़ता है, त्वचा में कसाव लाता है, सेल नवीनीकरण प्रक्रिया में सुधार करता है और उम्र बढ़ने के संकेतों को कम करता है। फेस मास्क का इस्तेमाल करते समय होठों और आंखों के आसपास के क्षेत्र से बचते हुए इसे चेहरे पर लगाएं। जब यह सूख जाए तो इसे धो लें या लेबल पर दिए निर्देशों का पालन करें।

shahnaz husain skin care tips ruitein

प्राकृतिक अवयवों का इस्तेमाल 

आजमाई हुई और परखी हुई आयुर्वेदिक प्रणाली के आधार पर प्राकृतिक अवयवों से त्वचा की देखभाल करने से हानिकारक दुष्प्रभावों और चिड़चिड़ी प्रतिक्रियाओं से त्वचा को राहत मिलती है। आयुर्वेदिक सौंदर्य देखभाल सही संतुलन प्राप्त करने में मदद करती है जो स्वस्थ त्वचा के लिए बहुत आवश्यक है। 

एक खूबसूरत और ग्लोइंग त्वचा को प्राप्त करना मुश्किल नहीं है, बशर्ते आप अपनी त्वचा की व्यक्तिगत जरूरतों को समझें और अच्छे स्किन केयर रूटीन को फॉलो करते हुए इसकी देखभाल करें। 

(शहनाज हुसैन भारत की फेमस ब्यूटी और हेयर केयर एक्सपर्ट्स में से एक हैं।  इतना ही नहीं, वह 'शहनाज हुसैन ग्रुप' की चेयरपर्सन, फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर भी हैं। शहनाज हुसैन के कई हर्बल प्रोडक्‍ट्स आपको बाजार में आसानी से मिल जाएंगे। ब्‍यूटी के क्षेत्र में आर्यूवेद को बढ़ावा देने के लिए उन्‍हें कई अवॉर्ड्स से नवाजा भी जा चुका है।)

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।