बाल झाड़ते समय या चोटी करते वक्त जब एक भी सफेद बाल दिख जाता है तो हर किसी को टेंशन हो जाती है। महिलाओं के लिए तो ये और अधिक टेंशन की बात हो जाती है। क्योंकि बालों का सफेद होना उम्र बढ़ने के लक्षण माने जाते हैं। जबकि महिलाएं हमेशा अपनी उम्र कम कर के बताती हैं। ऐसे में जब कोई सफेद बाल दिखता है तो महिलाएं के दिमाग में सबसे पहला ख्याल उम्र को लेकर आता है औऱ इसलिए वे परेशान हो जाती हैं।

वैसे भी भारत में सफेद बाल उम्र के बढ़ने की निशानी मानी जाती है। इसलिए महिलाएं सफेद बाल देखते ही सोचने लगती है कि "अब मेरी उम्र बढ़ रही है।" जिसके कारण कई महिलाएं कई सारी दवाईयां और प्रोडक्ट्स यूज़ करने लगती हैं। जबकि ऐसी स्थिति में सबसे पहले बालों के सफेद होने का कारण पता करना चाहिए। 

बालों के सफेद होने के कारण

उम्र के बढ़ने के साथ-साथ बालों का सफेद होना लाजमी है। लेकिन कई बार बाल सफेद कुछ दूसरे कारणों से भी होते हैं। जैसे कि-

  • बढ़ते प्रदूषण से भी बाल खराब हो जाते हैं और सफेद होने लगते हैं।
  • खराब खानपान और बदलती जीवनशैली से भी बाल सफेद हो जाते हैं।
dadi maa ke nushkhe part  in

करवा लेती हैं डाई

इन सफेद बालों को काला करने के लिए कई महिलाएं डाई यूज़ करने लगती हैं या कुछ दवाईयां खाने लगती हैं। जबकि इन डाई और दवाईयों के साइडइफेक्ट से बाल और अधिक खराब हो जाते हैं। ऐसे में क्या किया जाए?

ऐसे में दादी मां का ये नुस्खा ट्राय करें।

नैचुरल डाई

पहले जमाने में और अब भी कई महिलाएं बालों को हेल्दी और काले बनाए रखने के लिए दादी मां का नुस्खा यूज़ करती हैं। इस दादी मां के नुस्खे में नैचुरल डाई का इस्तेमाल किया जाता है। इस नैचुरल डाई को घर पर ही बनाए जाते हैं। इसे बनाने के लिए इन तीन चीजों की जरूरत होती है-

  • मेहंदी
  • चुकंदर का रस
  • चायपत्ती का पानी
dadi maa ke nushkhe part  in

ऐसे बनाएं डाई

  • एक कटोरी में मेहंदी का पाउडर ले लें।
  • अब उसमें जरूरत के अनुसार चायपत्ती का पानी मिलाएं।
  • दो से तीन चम्मच चुकंदर का रस मिलाएं।
  • अब इसे अच्छी तरह से धो लें। 
  • इस घोल को छह घंटे के लिए रख दें। छह घंटे बाद आपका नैचुरल डाई तैयार हो जाएगा।
dadi maa ke nushkhe part  in

ऐसे करें इस्तेमाल 

  • जब डाई तैयार हो जाए तो इसे बालों में लगा लें। 
  • फिर इसे आधे घंटे बाद गुगुने पाने से धो लें।
  • बालों को धोने के बाद बालों में तेल लगा लें।
  • अगले दिन बालों को शैम्पू से धो लें। 

 

नोट- इस नैचुरल डाई का इस्तेमाल महीने में दो बार करें। इससे सफेद बालों की समस्या नहीं होगी। 

Read More: पैरों की बदबू से होना पड़ता है शर्मिंदा तो आज ही यूज़ करें अदरक