आजकल केराटिन ट्रीटमेंट महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों के बीच भी काफी पॉपुलर है। इस ट्रीटमेंट में पॉल्यूशन के कारण खराब हुए बाल, डैंड्रफ और रूखेपन को दूर करने के लिए बालों को केराटिन अलग से दिया जाता है। इसके अलावा बढ़ती उम्र में बालों से प्रोटीन लॉस होने लगता है, जिससे वह फ्रीजी हो जाते हैं। ऐसे में केराटिन ट्रीटमेंट बालों की फ्रीजीनेस को खत्म करके उसकी शाइन वापस लौटाता है और इस पूरी प्रक्रिया से बाल मुलायम हो जाते हैं।  

केराटीन ट्रीटमेंट बालों की सरंचना को बदलता है। इसलिए बालों को चमक देने के लिए इस तरह का टीटमेंट कराना एक आम बात है। लेकिन लोग इस ट्रीटमेंट के बाद अपने बालों की सही देखभाल नहीं कर पाते हैं जिससे बालों की चमक बढ़ने की बजाय कम होने लगती है। आइए सुप्रसिद्ध कॉस्मेटोलॉज़िस्ट, ऐस्थिटीशियन व एल्पस कॉस्मेटिक क्लीनिक एंड एकेडमी की फाउंडर डॉयरेक्टर, भारती तनेजा जी से जानें कि अगर आप बालों में केराटिन ट्रीटमेंट करवा रही हैं तो इस ट्रीटमेंट के बाद आपको किस तरह से बालों की केयर करनी चाहिए, जिससे लंबे समय तक बालों की खूबसूरती बनी रहे। 

पार्लर के बारे में लें पूरी जानकारी 

भारती जी बताती हैं कि हमारा हर एक बाल केराटिन चेन से बना होता है, जो कि एक प्रकार का प्राकृतिक प्रोटीन है। यह चेन प्रत्येक बाल की रचना को सही रखती है, लेकिन इस केमिकल ट्रीटमेंट से इन चेन्स का एक साथ काम करने का तरीका प्रभावित होता है। इसलिए केराटिन ट्रीटमेंट करवाने से पहले उस पार्लर के बारे में अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लें। अपनी ब्यूटी एक्सपर्ट से केराटिन ट्रीटमेंट करवाने के बाद के रिजल्ट के बारे में पूछें। ये जानकारी आपको पोस्ट केराटिन ट्रीटमेंट (घर बैठे कैसे पाएं पार्लर जैसा केराटिन ट्रीटमेंट) भी बालों को मेंटेन करने में मदद करेगी। 

केराटिन ट्रीटमेंट के बाद ऐसे करें बालों की केयर

post karatin hair care 

भारती जी बताती हैं कि इस ट्रीटमेंट के बाद बालों को कम से कम तीन दिन तक न धोएं। जल्दी बाल धोने से ट्रीटमेंट का असर कम हो जाता है। अपने बालों को 48 घंटे तक न बांधें। संभव हो तो बालों की गुथी चोटी न बनाएं और अच्छी क़्वालिटी के रबरबैंड का इस्तेमाल करें। ट्रीटमेंट के बाद अगर आप स्टाइलिंग या ड्रायर का इस्तेमाल नहीं करेंगी तो भी इसका असर लंबे समय तक रहेगा। केराटिन प्रोटीन ट्रीटमेंट करवाने के बाद आपको स्पेशल शैंपू, कंडीशनर और हेयर स्टाइलिंग प्रॉडक्ट ही इस्तेमाल करना चाहिए। बालों को धोने के लिए बिना सल्फेट वाला शैंपू ही इस्तेमाल करें।

इसे जरूर पढ़ें:केराटीन और स्‍ट्रेटनिंग में होता है फर्क, जानिए कौना सा ट्रीटमेंट बालों को देता है कैसा लुक

हेयर स्पा है जरूरी 

केराटिन ट्रीटमेंट के बाद बाल एकदम स्ट्रेट हो जाते हैं और इनसे वॉल्यूम और बाउंस गायब हो जाता है। इसलिए केराटिन ट्रीटमेंट के बाद बालों को खास केयर की जरूरत होती है। इसके बाद आपको टाइम-टू-टाइम हेयर स्पा करवानी चाहिए। केराटिन ट्रीटमेंट के बाद बालों को कम से कम फोल्ड करें क्योंकि यह परमानेंट स्ट्रेटनिंग ट्रीटमेंट नहीं है। ऐसे में अगर आप बालों को फोल्ड करेंगी तो उसमें उसका इफेक्ट आ जाएगा।

hair care by bharti taneja

कंडीशनर का इस्तेमाल न करें

केराटिन ट्रीटमेंट करवाने के बाद बाल जल्दी ही ऑयली और ग्रीसी हो सकते हैं। इसलिए बालों को धोने के बाद कंडीशनर का इस्तेमाल न करें। अगर आप किसी भी प्रकार की स्टाइलिंग या ड्रायर का इस्तेमाल नहीं करते हैं, तो आपके बालों में केराटिन ट्रीटमेंट लंबे समय तक चलता रहेगा। 

इसे जरूर पढ़ें:Jawed Habib Tips: अगर खत्म हो गया है शैम्पू और कंडीशनर तो कैसे धोएं बाल?

Recommended Video

क्या है एक्सपर्ट की राय 

भारती तनेजा जी बताती हैं कि अगर आप किसी भी तरह की त्वचा संबंधी बीमारियों से पीड़ित हैं तो केराटिन ट्रीटमेंट आपके लिए सही नहीं होता है। यदि आप सोरायसिस और डर्मटाइटिस जैसी त्वचा संबंधी समस्याओं से पीड़ित हैं और केराटिन ट्रीटमेंट कराने जा रही हैं तो इस प्रक्रिया से पहले टोलॉजिस्ट डॉक्टर से बात जरूर कर लें। लंबे समय तक केराटिन का उपयोग करने से त्वचा सुन्न और टैन भी हो सकती है। इस बात का ध्यान रखें कि आपकी आंखों में फॉर्मलडिहाइड न जाए, इससे आंखों में असहजता महसूस हो सकती है और आंखों की रोशनी भी जा सकती है।

अगर आप केराटिन ट्रीटमेंट कराती हैं तो इसके बाद बालों की खूबसूरती बनाए रखने के लिए उपर्युक्त बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है, जिससे बालों पर कोई नकारात्मक प्रभाव न पड़े। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik