एक जमाना था जब लोगों को रजनीगंधा फूल देखते ही विद्या सिन्हा की याद आ जाती थी। इसकी वजह थी उनकी फिल्म 'रजनीगंधा'। विद्या सिन्हा एक समय पर अमोल पालेकर और संजीव कुमार के साथ काम करती थीं और हिट फिल्में भी देती थीं। उनकी कई फिल्में हिट रही हैं, वो कई A लिस्ट वाले एक्टर्स के साथ काम भी कर चुकी हैं, लेकिन फिर भी वो A लिस्ट हिरोइन नहीं बन पाईं। विद्या सिन्हा की 15 अगस्त 2019 की लंग्स की बीमारी से मृत्यु हो गई।  

70 और 80 के दशक की फिल्मों में विद्या सिन्हा उस समय की 'गर्ल नेक्स्ट डोर' हुआ करती थीं। उनकी पहली फिल्म थी बासू चटर्जी की 'रजनीगंधा (1974)' एक महिला जो दो आशिकों के बीच में से एक को नहीं चुन पाती है। अपने 12 साल के करियर में विद्या ने 30 फिल्में की थीं। वो अपनी बेटी जाह्नवी को गोद लेने के बाद एक्टिंग से दूर हो गईं। फिर वापस लौटीं तो टीवी सीरियल की दुनिया में। हां, करीना कपूर और सलमान खान की फिल्म बॉडीगार्ड भी की थी उन्होंने।  

vidya sinha choti choti si baat

इसे जरूर पढ़ें- इन एक्ट्रेस पर लगा महंगे फैशन डिज़ाइनर्स के डुप्लीकेट कपड़े पहनने का आरोप 

बड़े हीरो के साथ काम करने के बाद भी नहीं बन पाईं A लिस्ट एक्ट्रेस- 

विद्या सिन्हा बहुत टैलेंटेड एक्ट्रेस थीं। उन्होंने अपने जमाने के कई बड़े हीरो के साथ काम किया था। उन्होंने उस समय 'कर्म' फिल्म में राजेश खन्ना के साथ काम किया था जो बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार होने का खिताब पहले ही पा चुके थे। इसके अलावा, विदोन खन्ना, उत्तम कुमार, संजीव कुमार, शशी कपूर, विनोद मेहरा और शत्रुघ्न सिन्हा के साथ भी वो काम कर चुकी थीं। 

vidya sinha movies

राजेश खन्ना के साथ काम को लेकर एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि, 'वो भले ही सुपरस्टार थे, लेकिन ऐसा अहसास नहीं होता था उनके साथ, वो कई सीन में मदद किया करते थे।' उस समय विद्या सिन्हा संजीव कुमार की बहुत बड़ी फैन थीं। विद्या ने कहा था कि संजीव कुमार उन्हें बच्चे की तरह ट्रीट करते थे।    

विद्या सिन्हा टीवी इंडस्ट्री में भी किया काम- 

सन 2000 में लंबे गैप के बाद विद्या ने वापसी की। उसी साल टीवी सीरियल 'बहु रानी' से वो पर्दे पर आईं। उसके बाद 'हम दो हैं ना', 'भाभी', 'काव्यांजलि', 'कुबूल है', 'इतनी सी खुशी' और हाल ही में 'कुल्फी कुमार बाजेवाला' में वो एक्टिंग कर चुकी थीं।  

ये फिल्में जिन्होंने विद्या को बनाया था 'Girl Next Door' 

1.  रजनीगंधा 

अमोल पालेकर के साथ करियर की शुरुआत विद्या को काफी पसंद आई थी। लोगों को भी विद्या काफी पसंद आई थीं। रजनीगंधा में उन्होंने 1974 के दौर में एक ऐसी लड़की की भूमिका निभाई थी जो दो लड़कों के बीच ये समझ नहीं पा रही थीं कि आखिर उनके लिए सही जीवनसाथी कौन हो सकता है। उस समय में एक मॉर्डन लड़की जो यूनिवर्सिटी से पढ़ाई करने के बाद नौकरी की चाह भी रखती है। 

vidya sinha rajnigandha

2. छोटी सी बात 

1976 में आई रोमांटिक कॉमेडी फिल्म उस समय के हिसाब से काफी रोचक थी। रोमकॉम का चलन थोड़ा कम था उस समय बॉलीवुड में। ये फिल्म भी अमोल पालेकर के साथ की थी विद्या ने। इस फिल्म में विद्या ने प्रभा नारायण का किरदार निभाया था। अमोल पालेकर इसमें शर्माने वाले आशिक बने हैं जो अपने दिल की बात बता पाने में असमर्थ रहते हैं।  

vidya sinha pati patni aur wo

3. पति पत्नी और वो 

विद्या सिन्हा ने इस फिल्म में शारदा का किरदार निभाया था जो अपने पति और बच्चे के इर्द-गिर्द ही पूरी दुनिया बना लेती हैं, लेकिन फिर पति की जिंदगी में दूसरी औरत आ जाती है तो शांति से रहने वाली शारदा भी जासूस बनकर न सिर्फ पति की करतूतों को सामने लाती है बल्कि उसे सबक भी सिखाती है। हमेशा विद्या ने सहमी हुई महिला का किरदार निभाया था, लेकिन इस फिल्म में सजीव को चिल्लाते हुए जब उन्होंने 'वर्ना क्या' कहकर सबको चौंका दिया था तब शायद उनके कई फैन्स बन गए थे।  

4. तुम्हारे लिए 

इस फिल्म में तो विद्या और संजीव कुमार की जोड़ी ने कमाल ही कर दिया था। फिल्म में पुनरजन्म वाला एंगल दिया गया था और विद्या जी इसमें गौरी के किरदार में थीं। इस फिल्म ने आगे चलकर बॉलीवुड में कई फिल्मों की पटकथा तैयार की।

इसे जरूर पढ़ें- Celeb Fashion: जानें करीना कपूर के 70 हजार रुपए के इस टॉप की खासियत 

5. इनकार

विनोद खन्ना और विद्या सिन्हा की जोड़ी इस फिल्म में दिखी थी। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफल रही थी। स्टोरी एक किडनैपिंग के आधार पर है और इसके साथ ही विद्या सिन्हा ने इसमें काफी अहम किरदार निभाया था।